नेपाल के PM ओली ने भगवान श्रीराम व जन्मभूमि पर ठोका दावा तो भड़के अयोध्या के संत

महंत परमहंस दास
महंत परमहंस दास

साधु-संतों का कहना है कि चीन के उकसावे पर नेपाल इस तरह की बयानबाजी कर रहा है. हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने कहा कि नेपाल सदैव सनातन धर्म को मानने वाला हिंदू राष्ट्र रहा है. लेकिन नेपाल जबसे वामपंथियों के कुचक्र में आया है उसकी बुद्धि भ्रष्ट हो गई है.

  • Share this:
अयोध्या. नेपाल (Nepal) के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) के बयान का अयोध्या (Ayodhya) के संतों ने कड़ा विरोध किया है. अयोध्या के संतों ने नेपाल के प्रधानमंत्री ओली द्वारा असली भगवान राम (Lord Rama) को नेपाल का बताए जाने पर  कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस तरीके की गलत बयानबाजी करना किसी प्रधानमंत्री को शोभा नहीं देता. साधु-संतों का कहना है कि चीन के उकसावे पर नेपाल इस तरह की बयानबाजी कर रहा है. हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने कहा कि नेपाल सदैव सनातन धर्म को मानने वाला हिंदू राष्ट्र रहा है. लेकिन नेपाल जबसे वामपंथियों के कुचक्र में आया है उसकी बुद्धि भ्रष्ट हो गई है.

नेपाली पीएम मांगे माफी

नेपाल के भगवान राम पर दावे को लेकर उन्होंने कहा कि सभी ग्रंथों में इसका वर्णन है. उपनिषद, महाभारत, रामायण और शास्त्रों में भी लिखा है कि अयोध्या ही भगवान राम की जन्मभूमि है. हनुमानगढ़ी के महंत ने नेपाल के प्रधानमंत्री से माफी मांगने के लिए कहा है. साथ ही भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि नेपाल के प्रधानमंत्री ओली से कहें कि वह माफी मांगे. इसका साधु-संतों और हिंदू जनमानस में बुरा प्रभाव पड़ रहा है. यह हमारे आराध्य का अपमान है. नेपाल वैसे ही गर्त में जा रहा है और मुझे लगता है कि नेपाल के प्रधानमंत्री को इस्तीफा देना पड़ेगा.



नेपाल में अनुयायियों से सड़कों पर उतरने की अपील
तपस्वी जी की छावनी के महंत जगत गुरु परमहंसाचार्य ने कहा कि इसकी घोर निंदा करता हूं. नेपाल के प्रधानमंत्री को मेरी खुली चुनौती है. इसके गंभीर परिणाम ओली को भुगतने होंगे. शास्त्रों में इस बात का वर्णन है कि अयोध्या के उत्तर दिशा में सरयू बहती हैं. पूरे विश्व में राजा हुआ करते थे और उस पूरे विश्व पर शासन करने वाले चक्रवर्ती सम्राट भारत अयोध्या से ही राज करते थे. महाराज मनु, महाराज दशरथ या फिर मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम चक्रवर्ती सम्राट हुए हैं. ओली के बयान से यह लगता है कि अब माओवादी नेता आतंकवादियों की राह पर चल पड़ा है. साथ ही तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने कहा कि इसके लिए मैं धर्म आदेश जारी करता हूं.  नेपाल में बसे अपने अनुयायियों से अपील करता हूं कि इसका पुरजोर विरोध करें. नेपाली प्रधानमंत्री ओली जब से आए हैं तब से नेपाल को पर गर्त में ले जा रहे हैं. हम अपने अनुयायियों से अपील करेंगे कि वह सड़कों पर प्रदर्शन करें. साथ ही परमहंस ने कहा कि चीन और पाकिस्तान के इशारे पर इस तरीके की बयान बाजी की जा रही है. नेपाल में लाखों की संख्या में श्रद्धालु भगवान राम को अपना आदर्श मानते हैं और ओली ने जो बयान दिया है उससे सनातन धर्म को मानने वाले नेपाली सड़कों पर उतर आएंगे.

क्या कहा है ओली ने?

दरअसल विवादित नक़्शे में भारत की जमीन को अपना बता चुके प्रधानमंत्री ओली ने भगवान राम और उनकी जन्मभूमि पर अपना दावा जताया है. उन्होंने कहा है कि भारत की अयोध्या नकली है और असली अयोध्या नेपाल में है. साथ ही भगवान राम को नेपाली कहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज