लाइव टीवी

अयोध्या आकर भी ‘रामलला’ से दूर रहेंगे पीएम नरेंद्र मोदी!

News18Hindi
Updated: May 1, 2019, 8:04 AM IST
अयोध्या आकर भी ‘रामलला’ से दूर रहेंगे पीएम नरेंद्र मोदी!
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फ़ाइल फोटो)

राम मंदिर आंदोलन से लेकर अब तक बीजेपी के दो ही ऐसे नेता रहे हैं, जिन्होंने रामलला से दूरी बनाए रखी है. बीजेपी के उन नेताओं में पहला नाम पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी और दूसरा पीएम नरेंद्र मोदी का है.

  • Share this:
बीजेपी के स्टार प्रचारक और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को अयोध्या आ रहे हैं. बतौर प्रधानमंत्री मोदी की यह पहली अयोध्या यात्रा है. कहा जा रहा है कि अयोध्या आकर भी पीएम नरेंद्र मोदी श्री रामलला और हनुमानगढ़ी मंदिर के दर्शन नहीं कर पाएंगे. मोदी का अयोध्या आना और श्री रामलला का दर्शन न करना स्थानीय लोगों में चर्चा का विषय का बना हुआ है.

वैसे अयोध्या आने वाले अधिकतर राजनेता श्री रामलला का दर्शन करना नहीं भूलते हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी  2017 में और प्रियंका गांधी पिछले दिनों अयोध्या आ पहुंची थीं. दोनों ने श्री रामलला के दर्शन तो नहीं किए, लेकिन हनुमानगढ़ी मंदिर जाकर पूजा अर्चना जरूर की.

पीएम मोदी की रामलला से दूरी की क्या हैं वजहें?

ऐसे में लोगों के मन में सवाल उठता है कि आखिर पीएम मोदी श्रीरामलला से दूरी का कारण क्या है?

बता दें कि राम मंदिर आंदोलन से लेकर अब तक बीजेपी के दो ही ऐसे नेता रहे हैं, जिन्होंने रामलला से दूरी बनाए रखी है. बीजेपी के उन नेताओं में पहला नाम है बीजेपी के संस्थापक सदस्यों में से एक और पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी और दूसरा पीएम मोदी का है.

ऐसा माना जा रहा है कि पीएम मोदी सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ही अयोध्या आना चाहते हैं क्योंकि देश में लोकसभा का चुनाव हो रहा है और उनका प्रत्याशियों के लिए रैली करना पार्टी ने तय किया है. ऐसे में फैजाबाद और अंबेडकरनगर की सीमा पर होने वाली रैली को भी वह मना नहीं कर सके.

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी अयोध्या आ चुकी हैं 
Loading...

पीएम मोदी की रैली अंबेडकरनगर और फैजाबाद बोर्डर पर तय हुई है. पीएम मोदी की रैली स्थल दोनों संसदीय क्षेत्रों को ध्यान में रखते हुए तय की गई है. पीएम मोदी की रैली स्थल से राम जन्मभूमि से ज्यादा दूर भी नहीं है. राहुल गांधी साल 2017 में यूपी विधानसभा के दौरान अयोध्या आए थे और हनुमानगढ़ी भी गए थे. प्रियंका गांधी भी इस महीने के शुरुआत में ही अयोध्या आईं थीं. राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने भी श्रीरामलला से दूरी बनाई थी. इसको लेकर तर्क यह दिया गया था क्योंकि मामला सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है इसलिए वह अस्थाई राम मंदिर में नहीं जाएंगे.

जानकारों का मानना है कि देश में इस समय चुनाव का माहौल है और सुप्रीम कोर्ट में यह मामला विचाराधीन भी है इसलिए मोदी वहां जाने से बचना चाह रहे हैं, लेकिन पीएम मोदी अयोध्या में आकर श्री रामलला की बात न करें ऐसा नहीं हो सकता है. इसके लिए अयोध्या में मोदी की सभा तक इंतजार कीजिए.

ये भी पढ़ें: EXCLUSIVE: योगी आदित्यनाथ बोले- किसी दबाव में नहीं बदलूंगा भाषा शैली

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 1, 2019, 6:29 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...