अपना शहर चुनें

States

Ayodhya News: राम मंदिर निर्माण की हलचल तेज, तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का दावा- जल्द होगा डिजाइन पर फैसला

राम मंदिर के नींव की डिजाइन पर जल्द फैसला लिया जा सकता है.
राम मंदिर के नींव की डिजाइन पर जल्द फैसला लिया जा सकता है.

Ram Mandir News: शुकवार को राम मंदिर निर्माण समिति की दूसरी अहम बैठक होने वाली है. माना जा रहा है कि इस बैठक में मंदिर की नींव के डिजाइन (Design) को लेकर फैसला आ सकता है. 

  • Share this:
Krishna Shukla

अयोध्या. उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर निर्माण (Ram Mandir) को लेकर हलचल तेज हो गई है. अयोध्या के सर्किट हाउस में  गुरुवार को राम मंदिर निर्माण समिति की पहले दिन की बैठक संपन्न हुई. बैठक में राम मंदिर की नींव को लेकर चर्चा हुई. हालांकि, नींव की डिजाइन को लेकर अभी कोई निर्णय नहीं हुआ है लेकिन श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट (Ram Janmabhoomi Tirth Kshetra Trust) के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरी महाराज ने कहा कि जल्द ही नींव की डिजाइन पर फैसला ले लिया जाएगा. हालांकि निर्माण समिति की बैठक शुक्रवार को भी होनी है. बैठक में टाटा और एलनटी के इंजीनियरों द्वारा राम मंदिर के नींव की डिजाइन का प्रेजेंटेशन मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र समेत ट्रस्ट के पदाधिकारियों सदस्यों के सामने दिया गया.

मंदिर के नींव की डिजाइन को लेकर अभी सहमति नहीं बन पाई है. कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरी महाराज ने कहा कि जल्द ही डिजाइन फाइनल कर लिया जाएगा. जब राम मंदिर निर्माण की शुरुआत हुई थी तो नींव को लेकर एक प्रयोग असफल हो गया था जिसमें नींव के अंदर की मिट्टी भुरभुरी पाई गई थी. आईआईटी रुड़की, आईआईटी चेन्नई के विशेषज्ञों ने रिपोर्ट देकर आशंका जताई थी कि नीव के अंदर की मिट्टी भुरभुरी है जिस पर लंबे समय तक राम मंदिर खड़ा रहना मुश्किल होगा. इसके बाद नींव की खुदाई का काम रोक दिया गया.



ये भी पढ़ें: PHOTOS: गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होंगी पहली महिला फाइटर पायलट भावना कंठ, दादी ने दीं दुआएं
फिर से शुरू किया गया डिजाइन पर काम

अब फिर से  इंजीनियर नींव की डिजाइन पर काम कर रहे हैं. लेकिन अभी तक डिजाइन फाइनल नहीं हो पाया है. ट्रस्ट के सदस्यों की मानें तो जल्द ही नींव की डिजाइन फाइनल हो जाएगी और राम मंदिर निर्माण की नींव की खुदाई का काम शुरू हो जाएगा. बैठक में राम मंदिर निर्माण के साथ-साथ राम जन्मभूमि परिसर के सुरक्षा पर भी मंथन किया गया. हालांकि अभी कल 22 जनवरी को भी निर्माण समिति व ट्रस्ट की बैठक होनी है जिस पर फाइनल मोहर लगेगी की नीमव की डिजाइन कैसे होगी और किस तरह से नींव की खुदाई शुरू की जाएगी. इससे शताब्दियों तक राम मंदिर खड़ा रह सके इसकी 1000 वर्ष की आयु को लेकर ही इंजीनियर व ट्रस्ट के बीच तालमेल नहीं बैठ पा रहा है. इसके लिए ताबड़तोड़ बैठकें की जा रही हैं. माना जा रहा है कि जल्दी नींव की डिजाइन पर मुहर लगेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज