Ayodhya: राम मंदिर निर्माण के लिए भक्तों ने खोला खजाना, ट्रस्ट ने कराई 500 करोड़ की FD

राम मंदिर निर्माण के लिए भक्तों ने खोला खजाना (File photo)

बता दें कि देशभर में 15 जनवरी से 27 फरवरी 2021 तक रामजन्मभूमि मंदिर निर्माण (Ram Temple Construction) के लिए निधि समर्पण अभियान चलाया गया था.

  • Share this:
अयोध्या. धर्म नगरी अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर निर्माण (Ram Temple Construction) का काम तेजी से चल रहा है. वहीं भव्य राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए भक्तों ने दिल खोलकर दान दिया है. ट्रस्ट से मिली जानकारी के मुताबिक अकेले मंदिर निर्माण के लिए देशभर में शुरू किए गए समर्पण निधि अभियान में ही राम भक्तों ने लगभग 700 करोड़ रुपये की धनराशि समर्पित की है. इस भारी भरकम राशि में से ट्रस्ट ने स्टेट बैंक आफ इंडिया (SBI) की अयोध्या ब्रांच में 500 करोड़ की एफडी भी कराई है.

बता दें कि देशभर में 15 जनवरी से 27 फरवरी 2021 तक रामजन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए निधि समर्पण अभियान चलाया गया था. खास बात यह है कि देशभर में कई स्थानों पर मुस्लिमों ने भी निधि समर्पण अभियान में भाग लिया था और समर्पण भी किया. अब राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की नजर भारत से बाहर रह रहे विदेशी दानदाताओं पर है. इसके लिए केंद्र सरकार से अनुमति मिलने के बाद ट्रस्ट ने स्टेट बैंक आफ इंडिया के दिल्ली स्थित मुख्य ब्रांच पर अकाउंट भी खोल दिया है.

अंबेडकरनगर: युवक की मौत के बाद भड़के ग्रामीण, ARTO की गाड़ी को किया आग के हवाले

इस खाते के संचालन का दायित्व तीन लोगों को सौपा गया है. इसमें से एक तो ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्य गोपालदास की अस्वस्थता की स्थिति में सारा कामकाज देख रहे महासचिव चंपत राय हैं. दूसरे उनके विश्वस्त ट्रस्टी डॉक्टर अनिल मिश्र और ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष स्वामी गोविंद देव गिरि हैं. इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए 2 लाख रुपये का दान दिया था.

13 और 14 जून को अयोध्या में निर्माण समिति की बैठक
श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण समिति की दो दिवसीय बैठक अयोध्या में होने जा रही है. 13 और 14 जून को समिति की बैठक अपराह्न 3 बजे से सर्किट हाउस (फैजाबाद) में होगी. श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र 12 जून की देर शाम तक अयोध्या पहुंच जाएंगे. वे दो दिनों तक अयोध्या में रहकर मंदिर निर्माण की प्रगति की समीक्षा करने के साथ-साथ भावी योजनाओं पर मंथन करेंगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.