लाइव टीवी

30 जनवरी तक हो सकती है राम मंदिर ट्रस्ट की घोषणा, अध्यक्ष के लिए संतों की पसंद महंत नृत्य गोपाल दास
Ayodhya News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 22, 2020, 12:57 PM IST
30 जनवरी तक हो सकती है राम मंदिर ट्रस्ट की घोषणा, अध्यक्ष के लिए संतों की पसंद महंत नृत्य गोपाल दास
राम मंदिर ट्रस्ट की जल्द हो सकती है घोषणा

सूत्रों के मुताबिक केंद्र सरकार ने राम मंदिर ट्रस्ट गठन की प्रकिया पूरी कर ली है और 30 जनवरी तक ट्रस्ट की घोषणा हो सकती है.

  • Share this:
अयोध्या. राम जन्मभूमि (Ram Janambhoomi) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का फैसला आने के बाद अब सभी की निगाहें केंद्र सरकार द्वारा गठित होने वाले राम मंदिर ट्रस्ट (Ram Mandir Trust) पर हैं. सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के अनुसार राम मंदिर ट्रस्ट का गठन तीन महीने के भीतर करना है. सूत्रों से मिल रही खबर के मुताबिक केंद्रीय गृह मंत्रालय ने ट्रस्ट की रूपरेखा तैयार कर ली है और 30 जनवरी तक इसकी घोषणा हो सकती है. मिल रही जानकारी के अनुसार इस ट्रस्ट में राम मंदिर आंदोलन से जुड़े साधु-संत, विश्व हिंदू परिषद (VHP) और आरएसएस से जुड़े लोगों को जगह मिल सकती है. उधर राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष पद के लिए अयोध्या के संतों ने रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के नाम पर सहमति जताई है. वीएचपी भी महंत नृत्य गोपाल दास के नाम पर अपनी सहमति जता चुका है.

30 जनवरी तक हो सकती है घोषणा
सूत्रों के मुताबिक इस ट्रस्ट में अयोध्या से करीब 11 सदस्य हो सकते हैं, जिसमें श्रीराम जन्मभूमि ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास, निर्माेही अखाड़ा के महंत दिनेंद्र दास और दिगंबर निर्वाणी अखाड़ा के महंत सुरेश दास शामली हो सकते हैं. इसके अलावा ट्रस्ट में प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, मुख्यमंत्री, राज्यपाल और अयोध्या के जिलाधिकारी (डीएम) को भी जगह मिल सकती है. बता दें कि राम मंदिर के पक्ष में नौ नवंबर को आए फैसले के बाद सुप्रीम कोर्ट में मंदिर निर्माण के लिए नए ट्रस्ट गठन की जिम्मेदारी केंद्र सरकार को सौंपी थीं. जिसके लिए तीन माह का समय भी दिया था. ट्रस्ट गठन का समय पूरा होने के साथ ही मंदिर निर्माण की कार्रवाई भी पूरी होती नजर आ रही है. राम मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या के संतों का मत भी एक हो चुका है. सभी संत और धर्माचार्य, विश्व हिंदू परिषद भी महंत नृत्य गोपाल दास के नेतृत्व में मंदिर निर्माण कार्य के लिए आगे आना चाह रहे हैं.

संतों की पहली पसंद महंत नृत्य गोपाल दास

यही वजह है कि केंद्र सरकार द्वारा उनकी सुरक्षा बढ़ा दी गई है. अब महंत नृत्य गोपाल दास को जेड श्रेणी की सुरक्षा दी गई है. अयोध्या संत समिति के अध्यक्ष महंत कन्हैया दास ने बताया कि राम जन्मभूमि मंदिर का निर्माण शीघ्र शुरू होने जा रहा है. केंद्र सरकार मंदिर निर्माण को लेकर जो भी फैसला करेगा हम सभी संत उसके समर्थन में हैं. यदि महंत नृत्य गोपाल दास नए ट्रस्ट के अध्यक्ष बनते हैं तो अयोध्या के संतों में बड़ा उत्साह होगा. अयोध्या के सभी संत चाहते हैं कि महंत नृत्य गोपाल दास के नेतृत्व में मंदिर निर्माण का कार्य शुरू हो. उन्होंने बताया कि इसी माह में ट्रस्ट की घोषणा होने जा रही है और आगामी 25 मार्च के बाद से मंदिर का निर्माण कार्य भी शुरू हो जाएगा.

रामजन्मभूमि पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने भी महंत नृत्य गोपाल दास के नाम पर समर्थन दिया है. उन्होंने कहा कि अयोध्या के संतों का एक ही मत है कि अयोध्या में भव्य रामलला का मंदिर बने और जल्द से जल्द तिरपाल से हटकर भव्य दिव्य मंदिर में भगवान राम विराजमान हों. आज देश भर के सभी रामभक्त राम मंदिर निर्माण के इंतजार में हैं.

VHP ने भी किया समर्थनविश्व हिंदू परिषद ने भी महंत नृत्य गोपाल दास को नेतृत्वकर्ता बताते हुए कहा कि जिन्होंने राम जन्मभूमि आंदोलन को दिशा देने का कार्य किया, ऐसे संतों के नेतृत्व में ही हम सभी चलेंगे. वीएचपी के प्रवक्ता शरद शर्मा ने कहा कि बनने वाले ट्रस्ट में कौन-कौन से लोग शामिल होंगे, इसकी घोषणा गृह मंत्रालय द्वारा ही की जाएगी. महंत नृत्य गोपाल दास जी वैष्णव संप्रदाय के विशिष्ट संत हैं, जिनका आदर पूरा देश करता है. साथ ही वो वर्तमान में रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष भी हैं और हम सभी चाहेंगे कि उनके कद के अनुसार ट्रस्ट में उन्हें जगह मिले.

ये भी पढ़ें:

यूपी में अब बीयर की दुकानों में मिलेगी Wine, 2 करोड़ किसानों को बीमा की सौगात

गणतंत्र दिवस परेड: यूपी से इस बार गंगा-जमुनी तहजीब दर्शाती झांकी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 22, 2020, 12:13 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर