रामलला के भक्तों के लिए खुशखबरी, अब सुबह 7 से 12 बजे तक कर सकेंगे दर्शन
Ayodhya News in Hindi

रामलला के भक्तों के लिए खुशखबरी, अब सुबह 7 से 12 बजे तक कर सकेंगे दर्शन
इसके चलते सप्ताह में बाकी 5 दिन श्रद्धालुओं की भीड़ बढ़ जाती है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर निर्माण (Ram Temple) के हलचल के बीच जिला प्रशासन ने रामलला के दर्शन की अवधि एक घंटे बढ़ा दी है. कोरोनाकाल को देखते हुए डीएम ने श्रद्धालुओं के लिए यह व्यवस्था की है.

  • Share this:
(रिपोर्ट- कृष्णा शुक्ला)

अयोध्या. अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर निर्माण (Ram Mandir construction) के हलचल के बीच जिला प्रशासन ने रामलला के दर्शन की अवधि में बदलाव किया है. अब श्रद्धालु एक घंटे ज्यादा दर्शन कर सकेंगे. ये बदलाव समय-समय पर मौसम के अनुसार होते रहते हैं. कोरोनाकाल (COVID-19) को देखते हुए अपर जिला मजिस्ट्रेट कानून व्यवस्था जेपी सिंह (JP Singh) ने प्रथम पाली में दर्शन के लिए सुबह 7:00 से दोपहर 12:00 बजे का समय दिया है. यह आदेश आज से ही लागू कर दिया गया है. दर्शनार्थियों के दर्शन के लिए प्रथम पाली में एक घंटे का समय बढ़ाया गया है. प्रथम पाली में सुबह 7:00 बजे से 11:00 बजे तक दर्शन होते थे. अब श्रद्धालु अपने आराध्य रामलला का सुबह 7:00 बजे से 12:00 बजे तक दर्शन कर सकेंगे.

वहीं, दूसरी पाली में दोपहर 2:00 से शाम 6:00 तक के दर्शन की टाइमिंग को यथावत रखा गया है. अपर जिला मजिस्ट्रेट कानून व्यवस्था कार्यालय से बताया गया कि शनिवार व रविवार लॉकडाउन के चलते रामलला के दरबार में बाहर के श्रद्धालु नहीं पहुंच पाते हैं. केवल आसपास के स्थानीय श्रद्धालु ही दर्शन करते हैं. इसके चलते सप्ताह में बाकी 5 दिन श्रद्धालुओं की भीड़ बढ़ जाती है. यही वजह है कि प्रथम पाली में दर्शन के लिए एक घंटे का समय बढ़ाया गया है.



अगले आदेश तक यही टाइम-टेबल
जानकारी के मुताबिक, बढ़ाया गया समय अगले आदेश तक लागू रहेगा. राम मंदिर निर्माण की हलचलों की बीच श्रद्धालुओं की आमद भी बढ़ गई है जिसके कारण अयोध्या में भीड़ देखी जा रही है. कोरोना काल में जिला प्रशासन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाते हुए आने वाले श्रद्धालुओं को रामलला का दर्शन करवा रहा है. 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) राम मंदिर का भूमिपूजन करेंगे. इसकी तैयारियां अयोध्या में शुरू हो चुकी है. अयोध्या शहर में 12 तोरण द्वार बनाए जाएंगे. जगह-जगह पीएम मोदी का स्वागत किया जाएगा. सभी स्थानीय लोगों और साधु-संतों से अपील की गई है कि अपने घरों व मंदिरों से ही टीवी पर भूमि पूजन का लाइव प्रसारण देखें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading