• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • संत परमहंस का ऐलान- भारत को हिंदूराष्ट्र घोषित करे केंद्र, नहीं तो 2 को लूंगा जल समाधि

संत परमहंस का ऐलान- भारत को हिंदूराष्ट्र घोषित करे केंद्र, नहीं तो 2 को लूंगा जल समाधि

अयोध्या तपस्वी छावनी में सनातन धर्मसंसद का आयोजन किया गया.

अयोध्या तपस्वी छावनी में सनातन धर्मसंसद का आयोजन किया गया.

Ayodhya News: अयोध्या तपस्वी छावनी में सनातन धर्मसंसद का आयोजन कर संत परमहंस ने 1 अक्टूबर तक मोदी सरकार से भारत को हिंदूराष्ट्र घोषित करने की मांग की है. यह मांग पूरी नहीं हुई तो वह 2 अक्टूबर को सरयू में जल समाधि लेंगे.

  • Share this:

अयोध्या. अयोध्या (Ayodhya) के तपस्वी छावनी के संत परमहंस ने एक बार फिर बड़ा ऐलान कर दिया है. रविवार को तपस्वी छावनी में सनातन धर्मसंसद का आयोजन हुआ और उसके बाद संत परमहंस (Sant Paramhans) ने ऐलान किया कि 1 अक्टूबर को देशभर के लोगों की एक बड़ी सनातन धर्मसंसद का आयोजन होगा. इसमें भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने पर चर्चा होगी. संत परमहंस ने कहा कि यदि केंद्र सरकार ने इस पर कोई फैसला नहीं किया तो 2 अक्टूबर को वह सरयू में जलसमाधि ले लेंगे.

दरअसल, कुछ माह पूर्व संत परमहंस ने हिन्दू राष्ट्र को लेकर प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को पत्र भी भेजा था. उसके बाद आत्मदाह का ऐलान किया था, लेकिन चिता पर बैठने के समय ही अय्योध्या पुलिस पहुंच गई थी. उन्हें मनाकर रोक लिया गया था. इसके बाद संत परमहंस ने एक और ऐलान किया कि अगर 1 अक्टूबर तक भारत को हिन्दू राष्ट्र घोषित नहीं किया गया तो वह 2 अक्टूबर को सरयू में जल समाधि ले लेंगे. अब जैसे जैसे 2 अक्टूबर नजदीक आ रहा है वैसे वैसे संत परमहंस की गतिविधिया तेज हो रही हैं.

तपस्वी छावनी के संत परमहंस दास ने कहा- ‘एक अक्टूबर को सभी संगठन के लोग हिंदू सनातन धर्म संसद का आयोजन करेंगे और 2 अक्टूबर को अगर हमारी बात नहीं मानी गई तो मैं सरयू में जल समाधि लूंगा. मेरी समाधि लेने के बाद हो सकता है मेरी श्रद्धांजलि में मोदी जी भारत को हिंदू राष्ट्र बना दें, क्योंकि जब हिंदू नहीं बचेगा तो कुछ नहीं बचेगा.’

उन्होंने कहा – ‘जिस तरह से कश्मीर में धर्म के आधार पर ऐलान किए जाते हैं. यदि हिंदू राष्ट्र नहीं किया तो हिंदू माइनॉरिटी में हो जाएगा. इसको बचाने के लिए हिंदू राष्ट्र घोषित करना जरूरी है, क्योंकि हिंदू उतना उदारवादी है कि हिंदू राष्ट्र घोषित होने पर भी दूसरे को कष्ट नहीं होगा.’

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज