लाइव टीवी

अयोध्या: बजट के खिलाफ सपाइयों ने गैस सिलेंडर व गन्ने के साथ किया प्रदर्शन
Ayodhya News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 19, 2020, 5:39 PM IST
अयोध्या: बजट के खिलाफ सपाइयों ने गैस सिलेंडर व गन्ने के साथ किया प्रदर्शन
अयोध्या में सपाइयों ने सरकार के खिलाफ निकाला मोर्चा

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) का कहना है कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार (BJP Government) में आमजन महंगाई की मार से त्रस्त हैं. केंद्र की भाजपा सरकार ने रसोई गैस के मूल्य में बेतहाशा बढ़ोतरी कर दी जिससे लोगों के रसोई का बजट बिगड़ गया है.

  • Share this:
अयोध्या. जनपद में सपा (Samajwadi Party) कार्यकर्ताओं ने महंगाई, किसानों की समस्या और प्रदेश सरकार की लचर कानून व्यवस्था (Law & Order) तथा जन विरोधी बजट (Budget) के खिलाफ रसोई गैस सिलेंडर (domestic gas cylinder) और गन्ना (sugar cane) के साथ प्रदर्शन (protest) किया. सपा अयोध्या विधानसभा और महानगर कमेटी के कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी करते हुए गुलाब बाड़ी स्थित समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय लोहिया भवन से सिविल लाइन के लिए कूच किया.

चार सूत्रीय ज्ञापन सौंपा
हालांकि पहले से मुस्तैद पुलिस प्रशासन ने जनपद में निषेधाज्ञा लागू होने का हवाला देकर सपा कार्यकर्ताओं को रीडगंज चौराहे के पास ही रोक लिया. रोके जाने पर सपा कार्यकर्ताओं की ओर से राज्यपाल को संबोधित चार सूत्रीय ज्ञापन जिला प्रशासन के प्रतिनिधि सिटी मजिस्ट्रेट सत्य प्रकाश को सौंपा गया है. जिला प्रशासन के माध्यम से भेजे गए ज्ञापन में समाजवादी पार्टी का कहना है कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में आमजन महंगाई की मार से त्रस्त हैं. केंद्र की भाजपा सरकार ने रसोई गैस के मूल्य में बेतहाशा बढ़ोतरी कर दी जिससे लोगों के रसोई का बजट बिगड़ गया है. प्रदेश के गन्ना किसान बेहाल हैं. गन्ना किसानों को पर्चियां नहीं मिल पा रही हैं जिसके चलते उनका गन्ना चीनी मिल को नहीं जा पा रहा है. खेतों में खड़ी गन्ने की फसल सूख रही है और किसान आर्थिक चिंताओं को लेकर बदहाल है.

ayodhya,samajwadi party protest
शहर में निषेधाज्ञा का हवाला देकर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रोका




प्रदर्शनकारियों का कहना है कि बेरोजगारी के चलते युवा वर्ग परेशान है तो मजदूरों को काम नहीं मिल पा रहा. छुट्टा जानवरों से परेशान किसानों ने रात-रात भर जाग कर किसी तरह अपनी फसल बर्बाद होने से बचाई तो अब बिक्री का संकट खड़ा हो गया है. प्रदेश में कानून व्यवस्था बेपटरी हो गई है. आए दिन हत्या, लूट, बलात्कार की घटनाएं सामने आ रही हैं. प्रदेश में बहू बेटियों की इज्जत सुरक्षित नहीं रही. सपाइयों ने कहा कि परेशान हाल बहू बेटियां सुसाइड करने को मजबूर हो रही हैं. राज्यपाल से मांग की गई है कि ऐसी जनविरोधी सरकार को तत्काल हटाया जाए.

पार्टी के पूर्व मंत्री तेज नारायण पांडे पवन ने कहा कि भाजपा की योगी सरकार में किसान, नौजवान, मजदूर सभी परेशान हैं. महंगाई और बेरोजगारी ने कमर तोड़ कर रख दी है. सरकार को परेशान हाल लोगों की मदद करनी चाहिए थी लेकिन प्रदेश सरकार ने बजट में झुनझुना थमा दिया. समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार की जन-विरोधी नीतियों के खिलाफ आंदोलन प्रदर्शन किया है. प्रदर्शनकारियों ने कहा कि जिले में निषेधाज्ञा होने के चलते सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से ज्ञापन भिजवाया गया है. साथ ही उन्होंने कहा कि सपा कार्यकर्ता प्रदेश सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ अब सड़क पर उतरकर संघर्ष करेंगे. आने वाले विधानसभा चुनाव 2022 में प्रदेश में समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री की कुर्सी पर पहुंचाया जाएगा.

ये भी पढ़ें- जब शिकायत करने गए युवक को ही बना दिया दो घंटे का सीओ ट्रैफिक, फिर हुआ ये कमाल...



हापुड़: हड़ताल में शामिल नहीं हुआ कर्मचारी तो साथियों ने मुंह पर पोत दी कालिख !

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 19, 2020, 5:39 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर