लाइव टीवी

अयोध्या पर्व का कल से होगा आगाज, संघ व केंद्र सरकार के बड़े ओहदेदार होंगे शामिल
Ayodhya News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 27, 2020, 4:53 PM IST
अयोध्या पर्व का कल से होगा आगाज, संघ व केंद्र सरकार के बड़े ओहदेदार होंगे शामिल
आगामी तीन दिन तक अयोध्यामय रहेगी राजधानी दिल्ली

श्री अयोध्या न्यास (Shree Ayodhya nyas) के सहसंयोजक उमेश सिंह ने बताया कि अयोध्या (Ayodhya) को सिर्फ भगवान राम और उनके मंदिर के अलावा दूसरे विषयों से भी जाना जाना चाहिए. इसी उद्देश्य से अयोध्या पर्व (Ayodhya parva) का आयोजन किया जा रहा है...

  • Share this:
अयोध्या. अयोध्या नगरी (Ayodhya Nagari) का नाम सुनते ही भगवान राम के मंदिर (Ram Temple) का ही ख्याल आता है. सही भी है लेकिन श्री अयोध्या न्यास (Shree Ayodhya Trust) द्वारा दिल्ली में एक ऐसा प्रयास किया जा रहा है जिससे अयोध्या की पहचान को एक नया आयाम मिल सके. इसके लिए दिल्ली (Delhi) के इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केन्द्र में कल यानि शुक्रवार 28 फरवरी से 1 मार्च तक अयोध्या पर्व मनाया जायेगा. इसमें भगवान राम के पहले और उनके बाद की अयोध्या के बारे में विस्तार से बताया जायेगा.

अगले तीन दिन अयोध्यामय रहेगी दिल्ली
श्री अयोध्या न्यास से जुड़े पदाधिकारी बताते हैं कि दिल्ली का इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केन्द्र अगले तीन दिनों तक अयोध्यामय रहेगा. अयोध्या पर्व के जरिये देश के बड़े साधु-संत रामनगरी के उन पहलूओं पर प्रकाश डालेंगे जिसमें भगवान राम की कहानियां तो होंगी ही, साथ ही उनके पहले और उनके बाद के इतिहास पर भी चर्चा होगी. इसका उद्घाटन 28 फरवरी को श्री अयोध्या न्यास के संरक्षक और राम मंदिर निर्माण कराने वाले ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास करेंगे. उनके साथ ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय, केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और आरएसएस के सहकार्यवाहक दत्तात्रेय होसबोले भी रहेंगे. उद्घाटन के बाद लोक गायिका मालिनी अवस्थी का सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा.

शनिवार 29 फरवरी को रामराज्य की संकल्पना पर सेंटर फॉर गांधी एण्ड पीस स्टडीज, इग्नू के प्रो. डी गोपाल का भाषण होगा. इसी दिन अवध और मिथिला के संबंधों पर विश्व हिन्दू परिषद के केन्द्रीय मंत्री राजेन्द्र सिंह पंकज का भी भाषण होगा. गांधी का रामराज्य विषय पर गांधी विचारक राजीव वोरा अपने विचार रखेंगे. शाम को अयोध्या की भावी संकल्पना पर केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, पूर्व केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्हा और आरएसएस के सहसरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल अपने अपने विचार रखेंगे. इसके बाद आईएएस नीतीश्वर कुमार का गायन होगा. रविवार 1 मार्च को समापन के दिन श्री राम तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय और केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान अपने अपने विचार रखेंगे. श्री अयोध्या न्यास के सहसंयोजक उमेश सिंह ने बताया कि अयोध्या को सिर्फ भगवान राम और उनके मंदिर के अलावा दूसरे विषयों से भी जाना जाना चाहिए. इसी उद्देश्य से अयोध्या पर्व का आयोजन किया जा रहा है.



ये भी पढ़ें- अगर आपके पास भी हैं दो से अधिक लाइसेंसी असलहे तो कर दें सरेंडर, वर्ना दर्ज होगी FIR


29 फरवरी को हो सकता है राम मंदिर निर्माण की तारीख का ऐलान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2020, 4:53 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर