होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /रामलला की सुरक्षा का बढ़ेगा दायरा, 500 मीटर में घोषित होगा रेड जोन; सीआईएसएफ संभाल सकती है जिम्मेदारी

रामलला की सुरक्षा का बढ़ेगा दायरा, 500 मीटर में घोषित होगा रेड जोन; सीआईएसएफ संभाल सकती है जिम्मेदारी

अयोध्या: रामलला की सुरक्षा का बढ़े दायरा, रेड जोन घोषित करने की तैयारी में प्रशासन.

अयोध्या: रामलला की सुरक्षा का बढ़े दायरा, रेड जोन घोषित करने की तैयारी में प्रशासन.

Ayodhya News: अयोध्या की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीआईजी ने कहा कि यहां पर पुलिस और पैरामिलिट्री फोर्स सुरक्षा में लगे ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

राम मंदिर की सुरक्षा को बढ़ाने की तैयारी में सरकार
500 मीटर के दायरे को घोषित किया जाएगा रेड जोन

अयोध्या: राम जन्मभूमि परिसर में रामलला के भव्य मंदिर का निर्माण हो रहा है. रामलला के मंदिर निर्माण को देखते हुए, अब परिसर की सुरक्षा का दायरा भी बढ़ा दिया गया है. सुरक्षा के मद्देनजर, परिसर से जुड़े स्थानों पर रहने वाले लोगों को अब आधुनिक तकनीकी से लैस पास दिए जाएंगे. जानकारी के अनुसार राम जन्मभूमि के 500 मीटर दायरे में रहने वाले लाइसेंस धारियों को लंबी दूरी की मारक क्षमता वाले अपने असलहे जमा करने पड़ सकते हैं. बताया गया की रामजन्मभूमि परिसर के 500 मीटर परिधि को रेड जोन घोषित कर, उसकी सुरक्षा सीाआईएसएफ को सौंपने पर भी मंथन हो रहा है.

बता दें कि जनवरी 2024 मकर संक्रांति पर रामलला अपने भव्य मंदिर में विराजमान होंगे. इस दौरान लाखों की संख्या में श्रद्धालु अयोध्या में होंगे. ऐसे में राम जन्मभूमि सहित अयोध्या की सुरक्षा बेहद अहम हो जाती है. जिसको लेकर अब सुरक्षा का बड़ा प्लान तैयार किया जा रहा है. पूर्व में राम जन्मभूमि परिसर की सुरक्षा में CISF के द्वारा सर्वे किया गया था. वहीं राम मंदिर की स्थाई सुरक्षा समिति की बैठक में इस योजना पर मुहर लगाया जा चुका है. अब योजना पर कार्य भी शुरू करने के लिए सुरक्षा के अधिकारी स्थानीय लोगों से संपर्क कर सहमति जुटा रहे हैं. जिसको लेकर परिसर के आसपास के क्षेत्र से जुड़े लोगों के साथ बैठक किया गया है.

बैठक में मेयर समेत तमाम आला अधिकारी रहे मौजूद
बैठक में शामिल अयोध्या मेयर ऋषिकेश उपाध्याय ने बताया कि येलो जोन के लोंगो का पास पहले से ही निर्गत होता रहा है. अयोध्या की सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रहे और नागरिकों को कोई असुविधा ना हो, इसलिए अधिकारियों के साथ यहां के जनप्रतिनिधि और जनता के बीच संवाद हुआ है. उन लोगों से भी सुझाव मांगे गए हैं. जिस प्रकार से पूरी दुनिया से लोग अयोध्या आ रहे हैं, इसलिए ऐसी व्यवस्था की जा रही है, ताकि आने वाले श्रद्धालुओं को भी कोई दिक्कत ना हो.

आपके शहर से (अयोध्या)

अयोध्या
अयोध्या

अयोध्या के मेयर ने कहा कि पहले भी येलो जोन के पास जारी किए जाते रहे हैं. उन्हें अब ग्रीन कार्ड या कुछ आधुनिक तकनीकी से थोड़ा और अच्छे तरीके से पास जारी किए जाने के लिए जनता से सुझाव मांगे गए थे. इसको लेकर बैठक हुई थी, उस पर एक वृहद खाका बनेगा, जिस पर सरकार निर्णय लेगी.

डीआईजी ने कहा सुरक्षा व्यवस्था को और दुरुस्त किया जाएगा
अयोध्या की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीआईजी ने कहा कि, यहां पर पुलिस और पैरामिलिट्री फोर्स सुरक्षा में लगे हुए हैं. डीआईजी ने बताया कि मेयर ऋषिकेश उपाध्याय की उपस्थिति में बैठक हुई है, जिसमें यहां के येलो जोन में रहने वाले लोगों को बुलाकर सुरक्षा के बारे में उनके साथ विचार विमर्श किया गया है. जिसमें कुछ सुझाव आए हैं, जिसका उद्देश्य है कि यहां की सुरक्षा व्यवस्था को और भी बेहतर किया जाना चाहिए. लोगों के विचारों पर अमल किया जा रहा है. डीआईजी ने कहा कि यहां की सुरक्षा व्यवस्था को और दुरुस्त किया जाएगा

Tags: Ayodhya News, Ayodhya ram mandir, Chief Minister Yogi Adityanath, CM Yogi Aditya Nath, Uttarpradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें