लाइव टीवी

तस्वीरों में देखिए वो 5 एकड़ जमीन, जिसे योगी सरकार ने मस्जिद के लिए किया मंजूर
Ayodhya News in Hindi

KB Shukla | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 5, 2020, 4:20 PM IST
तस्वीरों में देखिए वो 5 एकड़ जमीन, जिसे योगी सरकार ने मस्जिद के लिए किया मंजूर
योगी सरकार ने मस्जिद के लिए धन्नीपुर गांव में 5 एकड़ जमीन तय की है. (फाइल फोटो)

बता दें कि अयोध्या (Ayodhya) में मस्जिद के लिए आवंटित की गई जमीन जिला मुख्यालय से लगभग 18 किलोमीटर दूर है. यह जमीन कृषि विभाग की है. करीब 25 एकड़ जमीन यहां कृषि विभाग की है, जिस पर विभाग की तरफ से गेहूं की फसल उगाई गई है.

  • Share this:
अयोध्या. योगी सरकार (Yogi Government) ने अयोध्या (Ayodhya) में मस्जिद (Masjid) निर्माण के लिए 5 एकड़ जमीन (5 Acre Land) चिन्हित कर ली है. बुधवार को योगी कैबिनेट (Yogi Cabinet) ने इस पर मुहर लगा दी. योगी सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार 5 एकड़ जमीन 3 माह के अंदर दी जानी निर्धारित किया गया था. इसमें भारत सरकार के 3 विकल्पों में शामिल ग्राम धनीपुर, तहसील सोहलावलपुर के थाना रौनाही मुख्यालय से 18 किलोमीटर दूर पर जमीन मस्जिद के लिए दी जाएगी.

बता दें कि मस्जिद की जमीन जिला मुख्यालय से लगभग 18 किलोमीटर दूर है. यह जमीन कृषि विभाग की है. करीब 25 एकड़ जमीन यहां कृषि विभाग की है, जिस पर विभाग की तरफ से गेहूं की फसल उगाई जाती है.

masjid2
ग्राम धन्नीपुर, तहसील सोहलावलपुर के थाना रौनाही में स्थित है.


इस जमीन के बगल में ही फैजाबाद की चर्चित शहजाद शाह की दरगाह है. इस दरगाह पर हर साल बड़ा उर्स लगता है.

masjid3
मस्जिद के लिए तय 5 एकड़ की ये जमीन कृषि विभाग की है


राम मंदिर ट्रस्ट का हुआ ऐलान
बता दें कि इससे पहले बुधवार को लोकसभा (Lok Sabha) में बजट सत्र 2020 (Budget 2020) के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अयोध्या स्थित श्रीराम जन्मस्थल से जुड़े न्यास संबंधी जानकारी दी. पीएम मोदी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार वृहद योजना तैयार की जा रही है. राम मंदिर से जुड़े न्यास का ऐलान करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ट्रस्ट का नाम श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र होगा और यह इससे जुड़े सभी फैसले लेने में स्वतंत्र होगी.
masjid
मस्जिद के लिए आवंटित जमीन के बगल में फैजाबाद की प्रसिद्ध शहजाद शाह की दरगाह है.


पीएम ने जानकारी दी कि अयोध्या में अधिग्रहित 67 एकड़ जमीन राम मंदिर ट्रस्ट को दी गई है. उत्तर प्रदेश, अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार सुन्नी वक्फ बोर्ड को पांच एकड़ जमीन देने पर सहमत हो गया है. उन्होंने कहा, 'सुप्रीम कोर्ट ने फैसला राम मंदिर के पक्ष में दिया था. इसने सुन्नी वक्फ बोर्ड को 5 एकड़ जमीन देने को भी कहा था. आज सुबह, एक बैठक में, सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के अनुरूप बड़े फैसले लिए गए हैं.'

ये भी पढ़ें:-

अयोध्या में मस्जिद के लिए यहां 5 एकड़ जमीन देगी योगी सरकार

दलित कामलेश्वर चौपाल ने रखी श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण की पहली शिला: सीएम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अयोध्या से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2020, 3:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर