लाइव टीवी

योगी सरकार ने अयोध्या के विकास के लिए खोला पिटारा, संतों ने CM को बताया 'हनुमान'
Ayodhya News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 18, 2020, 8:45 PM IST
योगी सरकार ने अयोध्या के विकास के लिए खोला पिटारा, संतों ने CM को बताया 'हनुमान'
अमेरिका कंपनियों ने कारोबार जमाने में दिलचस्पी दिखाई

उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) ने अपने चौथे बजट में अयोध्या (Ayodhya) को प्राथमिकता दी है. सरकार ने नए एयरपोर्ट के लिए 500 करोड़ के साथ पर्यटन के लिए 85 करोड़ रुपये देने का ऐलान किया है. इसी वजह से अयोध्या के संत काफी खुश हैं.

  • Share this:
अयोध्या. उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) के द्वारा पेश किए गए चौथे बजट में अयोध्या (Ayodhya) को प्राथमिकता दिए जाने पर संत महंत प्रफुल्लित हैं. जी हां, सरकार ने अयोध्या में नए एयरपोर्ट के लिए 500 करोड़ और पर्यटन को बढ़ावा दिए जाने की खातिर 85 करोड़ रुपये देने की घोषणा की है, जिसका संतों ने स्वागत किया है.

रामलला के प्रधान पुजारी ने कही ये बात
रामलला के प्रधान पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने कहा कि यह उत्तर प्रदेश सरकार का चौथा बजट था. जबकि इससे पूर्व में आए बजट में भी अयोध्या के ऊपर विशेष ध्यान योगी सरकार ने दिया है. इस बजट में भी अयोध्या को प्राथमिकता दी गई है. मुख्यमंत्री की मंशा है कि अयोध्या को त्रेता युग की अयोध्या की तरह उभारकर पेश किया जाए. इस परिपेक्ष में लगातार मुख्यमंत्री के द्वारा अयोध्या का विकास किया जा रहा है. साथ ही उन्‍होंने कहा कि जिस तरह से लगातार योगी सरकार की तरफ से बजट का पिटारा अयोध्या के लिए खोला गया है, यह जल्द ही त्रेता युग की अयोध्या के रूप में निखर कर आगे बढ़ेगी. यहां पर्यटकों की मांग थी कि एयरपोर्ट का निर्माण हो, उसका सरकार ने पूरा ध्‍यान रखा है. यानी जल्द से जल्द धर्म नगरी में पर्यटकों के लिए हवाई यातायात की भी सुविधा उपलब्ध होगी.

महंत कमलनयन दास ने की सीएम की तारीफ



राम जन्मभूमि न्यास अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के उत्तराधिकारी महंत कमलनयन दास ने सीएम योगी के बजट की सराहना करते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री का पूरा परिवार ही इस परंपरा में रहा है. राम जन्म आंदोलन से भी पूर्व इनके गुरु महाराज जुड़े रहे हैं. जबकि इस बजट में अयोध्या को बहुत कुछ दिया है. बहुत ही सुंदर कार्य हो रहा है.



सीएम को बताया हनुमान
यही नहीं, संतों का कहना है कि अयोध्या मुगल काल से उपेक्षित रही है और हमेशा ही इसके स्वरूप को बिगाड़ने की कोशिश हुई है. मुख्यमंत्री योगी ने जब से शपथ ली है, तब से अयोध्या का खोया हुआ गौरव वापस आया है. दीपोत्सव से शुरुआत कर मुख्यमंत्री ने जो सराहनीय कार्य किया है उससे हम सभी संत महंत उत्साहित हैं. संतों ने मुख्यमंत्री को इस सराहनीय पहल के लिए साधुवाद दिया है. जबकि संतों ने कहा कि राम राज में जिस तरीके से भूमिका हनुमान ने निभाई थी, उसी तरीके अयोध्या के विकास के लिए योगी आदित्यनाथ प्रयास कर रहे हैं. वह अयोध्‍या के लिए हनुमान हैं.

ये भी पढ़ें-

UP में सीएम योगी की ताबड़तोड़ सरप्राइज विजिट की तैयारी, होगा फैसला ऑन द स्पॉट

 

UP के बजट में धार्मिक पर्यटन पर विशेष जोर, अयोध्या-काशी में करोड़ों होंगे खर्च
First published: February 18, 2020, 6:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading