Home /News /uttar-pradesh /

akhilesh strikes again says bjps invisible allies come out and sow seeds of hatred nodss

अखिलेश ने फिर किया करारा हमला, कहा-बीजेपी के अदृश्य सहयोगी बाहर आते हैं और नफरत के बीज बोते हैं

अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि वे गरीबों से भी मुनाफा कमाना चाहते हैं.

अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि वे गरीबों से भी मुनाफा कमाना चाहते हैं.

ज्ञानवापी मस्जिद मामले पर बोले सपा प्रमुख अखिलेश यादव- मस्जिद बहुत पुरानी है, ये बीजेपी की साजिश है, उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट भी पहले कह चुका है कि पुरानी चीजों को नहीं उठाया जा सकता है.

आजमगढ़. आजमगढ़ पहुंचे सपा मुखिया और नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला. उन्होंने ज्ञानवपी विवाद पर कहा कि ये पुरानी मस्जिद थी और भाजपा मूल मुद्दो से ध्यान भटकाने के लिए इनके अदृश्य सहयोगी समय-समय पर बाहर निकल आते हैं. उन्होने कहा कि प्रदेश में बुलडोजर चल रहा है लेकिन कल जिस अस्पताल का सीएम ने उद्घाटन किया वह भी अवैध है. वहीं पत्नी डिपंल के चुनाव लड़ाने के कयासों पर उन्होने कहा कि इसका फैसला पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं की बैठक में लिया जाएगा. उन्होने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि वन नेशन और वन राशन का नारा देने वाले कहीं एक देश एक पूंजीपति का नारा न दे दें. उन्होंने कहा कि भाजपा उद्योगपतियों के साथ अब गरीबों से भी मुनाफा कमाना चाहती है.

नफरत के बीज बो रहे
अखिलेश यादव दीदारगंज मंगलवार दिन में गद्दोपर गांव निवासी पूर्व मंत्री रामआसरे विश्वकर्मा के घर पहुंचकर उनकी धर्मपत्नी को श्रंद्धांजलि दी. इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि ज्ञानवापी मस्जिद बहुत पुरानी रही है. ये भाजपा की ओर से जानबूझकर की गई साजिश है. बीजेपी के अदृश्य सहयोगी जो समय-समय पर बाहर निकल कर आते हैं और नफरत के बीज बोते हैं. जहां तक कोर्ट का सवाल है तो इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने भी और फैसलों में भी कहा है कि पुरानी चीजों को नहीं उठाया जा सकता है. बावजूद इसके भाजपा हिन्दू-मुस्लिम लोगों के बीच नफरत फैला रही है, जिससे की बुनियादी सवाल हैं उन पर चर्चा न हो.

गरीबों से भी मुनाफा कमाना चाह रहे
उन्होंने कहा कि अभी तक तो भाजपा उद्योगपतियों से मुनाफा कमा रही थी अब गरीबों से भी मुनाफा कमाना चाहती है. उन्होंने कहा कि भाजपा को उद्योगपतियों की तरफ से सबसे अधिक चंदा मिला है. ये ऐसी राजनीतिक पार्टी है जो गरीबों से भी मुनाफा कमाना चाहती है. जब गेहूं खरीदा जा रहा है तो कोई कीमत नहीं रही और जब राशन दिया जा रहा था तो कोई शर्त नहीं थी, लेकिन अब चुनाव जीत गए तो गरीबों को पहचानते तक नहीं है. डिंपल यादव के आजमगढ़ से लोकसभा के उपचुनाव में प्रत्याशी बनाने के सवाल अखिलेश यादव ने कहा कि अभी तो वे कुछ नहीं कह सकते लेकिन हमारी पार्टी के नेता, कार्यकर्ता मिलकर तय करेगें की लोकसभा में पार्टी का कौन प्रत्याशी होगा. उन्होंने कहा कि बीजेपी जानबूझकर बेरोजगारी और महंगाई पर बात नहीं करेगी.

प्रदेश में बुलडोजर चल रहा है, सीएम कल ही एक हास्पिटल का उद्घाटन कर रहे हैं, जो अवैध है. हास्पिटल रेजिडेंसियल एरिया में है तो क्या सीएम हास्पिटल पर भी बुलडोजर चलाएंगे. अखिलेश यादव ने बीजेपी पर तंज कसते हुए कहा कि जो लोग नारा दे रहे थे वन नेशन वन राशन और हम और आप इसी तरफ के सवालों में उलझे रहे. वे लोग ये न कर दे कि सब कुछ बेच दे और कहें एक देश, एक पूंजीपति.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर