अखिलेश के आजमगढ़ में कांग्रेसियों का सेवा सत्याग्रह, श्रमिकों को लुभाने में जुटी
Azamgarh News in Hindi

अखिलेश के आजमगढ़ में कांग्रेसियों का सेवा सत्याग्रह, श्रमिकों को लुभाने में जुटी
सेवा सत्याग्रह के तहत श्रमिकों को कांग्रेसियों ने बांटे लंच पैकेट

हवलदार सिंह ने कहा कि कांग्रेस आजादी की लड़ाई के समय से ही सत्याग्रह करती आ रही है और अब बीजेपी की जुल्म के खिलाफ सत्याग्रह किया जा रहा है.

  • Share this:
आजमगढ़. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ (Azamgarh) में सेवा सत्याग्रह (Seva Satyagrah) के बहाने कांग्रेसी श्रमिकों का हमदर्द बनने की कोशिश में जुटी हुई है. इसी क्रम में लगातार कोंग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की रिहाई की मांग को लेकर पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सेवा सत्याग्रह के तहत, जहां गरीबों को घर-घर खाने के पैकेट उपलब्ध करा रही है, वहीं बुधवार को बस स्टैंडपर कोंग्रेसी कार्यकर्ताओं ने अन्य राज्यों से लौट रहे श्रमिकों में भी लंच पैकेट वितरित किया. इस दौरान कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष हवलदार सिंह ने कहा कि कांग्रेस आजादी की लड़ाई के समय से ही सत्याग्रह करती आ रही है और अब बीजेपी की जुल्म के खिलाफ सत्याग्रह किया जा रहा है.

कांग्रेस कमेटी की महासचिव व प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी के निर्देश पर संपूर्ण प्रदेश में चल रहे अजय कुमार लल्लू महा रसोई बुधवार को भी जारी रहा, जहां पूर्व जिलाध्यक्ष हवलदार सिंह ने बस स्टैंड पर यात्रियों में लंच पैकेट और मास्क  वितरित किया. इस दौरान पूर्व जिलाध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपने नेताओं से मिले निर्देश के क्रम में प्रदेश अध्यक्ष की गिरफ्तारी के विरोध में सेवा सत्याग्रह कर रही है. इसमें सेवा भाव के उद्देश्य से पैदल चल रहे प्रवासी, श्रमिकों, कामगारों को सकुशल सुरक्षित घर पहुंचाने के लिए बसों के संचालन की अनुमति चाही थी, लेकिन सरकार ने अनुमति देने के बजाय गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर दिया. जिसके बाद कोई भी श्रमिक या गरीब भूखा न रह जाए इस भावना के साथ अजय कुमार लल्लू महा रसोई का आयोजन किया है. कांग्रेस का सेवा सत्याग्रह आगे भी जारी रहेगा.

सेवा सत्यग्रह के बहाने कोंग्रेस एक तरफ जहां भाजपा को घेरने में जुटी है तो वहीं सपा के गढ़ में भी कोंग्रेस निगाहे गड़ाए हुई है. शायद यही वजह है कि आजमगढ़ में एनआरसी का विरोध कर रही महिलाओं के साथ हुई पुलिसिया बर्बता का मामला रहा हो या फिर अखिलेश को लेकर पोस्टर वार, कोंग्रेस फ्रंट फुट पर रही है. अब कोरोना काल के दौरान सपा जहां निष्क्रिय दिखाई दे रही है वहीं आजमगढ़ में कोंग्रेस सेवा सत्याग्रह के बहाने लोगों से जुड़ कर श्रमिकों और गरीबों की मददगार बनने में जुटी है.



ये भी पढ़ें:
प्रधानमंत्री 2 जुलाई को कर सकते हैं श्रीराम जन्मभूमि के मंदिर का शिलान्यास!

ई-रिक्शा की बैटरी के लिए सालों की दोस्ती पर लगाया कलंक, कर दी दोस्त की हत्या
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading