अपना शहर चुनें

States

आजमगढ़: PM मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट को लगाया पलीता, महिलाओं के लिए बने पिंक शौचालय को बनाया दुकान

परिवहन भवन के सामने महिलाओं के लिए बने पिंक शौचालय के एक हिस्से को रातों-रात जबरन तोड़कर दुकान बनवाने के लिए शटर आदि लगा दिया गया
परिवहन भवन के सामने महिलाओं के लिए बने पिंक शौचालय के एक हिस्से को रातों-रात जबरन तोड़कर दुकान बनवाने के लिए शटर आदि लगा दिया गया

लाखों की लागत से नगर पालिका द्वारा परिवहन निगम के ठीक सामने महिलाओं के लिए बनवाए गए पिंक शौचालय (Pink Toilet) के एक हिस्से को रातों-रात तोड़कर दुकान बना दिया गया. शौचालय तुड़वा दिए जाने से महिलाएं परेशान हैं. मामले का खुलासा होने के बाद अब जिम्मेदार अधिकारी जांच की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ रहे हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2021, 11:36 PM IST
  • Share this:
आजमगढ़. सरकार के स्वच्छता अभियान (Swachhta Abhiyan) को उसके ही मातहत पलीता लगा रहे हैं. ताजा मामला उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ (Azamgarh) जिले का है जहां परिवहन निगम के ठीक सामने लाखों की लागत से नगर पालिका द्वारा महिलाओं के लिए बनवाए गए पिंक शौचालय (Pink Toilet) के एक हिस्से को रातों-रात तोड़कर दुकान बना दिया गया. शौचालय तुड़वा दिए जाने से महिलाएं परेशान हैं. मामले का खुलासा होने के बाद अब जिम्मेदार अधिकारी जांच की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ रहे हैं.

दरअसल परिवहन नगर में बस अड्डे के सामने नगर पालिका ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत महिला यात्रियों और नगरवासियों के लिए पिंक शौचालय का निर्माण करवाया था. नगर पालिका परिषद, आजमगढ़ ने पिंक शौचालय का निर्माण कराने के बाद इसे ठेकेदार को हैंडओवर कर दिया था. शौचालय का संचालन लगभग तीन माह पूर्व शुरू भी हो गया. मगर फिर आनन-फानन में परिवहन निगम के सामने शौचालय में दुकान खोलने का निर्णय ले लिया गया. इसके तहत रातों-रात पिंक शौचालय के एक हिस्से को जबरन तोड़कर दुकान बनवाने के लिए शटर आदि लगा दिया गया. यही नहीं करीब तीन सप्ताह पहले शौचालय को बंद भी कर दिया गया.





जब मामले की जानकरी अधिकारियों को हुई तो उनके होश उड़ गए. जिलाधिकारी (डीएम) ने आनन-फानन में घटना के जांच के आदेश दिये हैं. वहीं एसडीएम सदर का कहना है कि इस घटना की जानकारी है, इसके लिए परिवहन निगम और नगर पालिका से पत्रावलियों को तलब किया गया है और इसकी जांच की जा रही है. जांच के बाद संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज