आजमगढ़: इलाज कराने अस्पताल गई युवती से गैंगरेप, डॉक्टर सहित 3 गिरफ्तार
Azamgarh News in Hindi

आजमगढ़: इलाज कराने अस्पताल गई युवती से गैंगरेप, डॉक्टर सहित 3 गिरफ्तार
पुलिस अधीक्षक प्रोफेसर त्रिवेणी सिंह ने बताया कि मामला संज्ञान में आते ही पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर तत्काल कार्रवाई करते हुए तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

SP त्रिवेणी सिंह ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि गैंगरेप (Gang Rape) के तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

  • Share this:
आजमगढ़. उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के देवगांव कोतवाली (Devgaon Kotwali) क्षेत्र में एक बड़ा मामला सामने आया है. यहां के लालगंज बाजार में स्थित शुभम नर्सिंग होम (Shubham Nursing Home) में इलाज कराने गई युवती के साथ गैंगरेप (Gang Rape) किया गया है. पीड़िता की मां के आरोप के अनुसार, युवती को ग्लूकोज का पानी चढ़ाने के बहाने उसे केबिन से बाहर कर दिया और फिर युवती के साथ डॉक्टर और उसके साथियों ने गैंगरेप किया. जानकारी होने पर मां ने थाने में केस दर्ज कराई है, जिसके बाद हरकत में आई पुलिस ने मसीरपुर तिराहा से डॉक्टर सहित अन्य तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

जानकारी के मुताबिक, आरोपियों में डॉ. दिनेश कुमार गंभीरपुर थाने के बनावे गांव का रहने वाला है. रवि कुमार जौनपुर जिले के सरायख्वाजा थाने के खमौरा गांव का निवासी है. वहीं, श्रीकान्त कुमार गंभीरपुर थाने के राजेपुर गांव का निवासी है. ये तीनों आरोपी देवगांव कोतवाली के लालगंज बाजार में शुभम नर्सिंग होम में काम करते हैं. 23 जुलाई को मेंहनगर थाना क्षेत्र की रहने वाली एक महिला अपनी बेटी को दवा दिलवाने शुभम नर्सिंग होम में आई थी. डॉक्टर दिनेश ने ग्लूकोज चढ़ाने के नाम पर पीड़िता की मां को केबिन से बाहर कर दिया और अन्य साथियों को बुला लिया. इलाज के बहाने तीनों ने युवती को बेहोश कर दिया और गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया.

निर्वस्‍त्र अवस्था में खून से लथपथ मिली पीड़ि‍ता
पीड़िता की मां के अनुसार, यवुती नग्न अवस्था में खून से लथपथ बेड पर पड़ी मिली. होश में आने के बाद वह किसी तरह बाहर आई और घटना की जानकारी अपनी मां को दी. इसके बाद पीड़िता की मां देवगांव कोतवाली पहुंची जहां उसने क्लिनिक संचालक समेत तीन आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप की तहरीर दी. इसके बाद पुलिस सक्रिय हुई और तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस अधीक्षक प्रोफेसर त्रिवेणी सिंह ने बताया कि मामला संज्ञान में आते ही पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर तत्काल कार्रवाई करते हुए तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading