आजमगढ़: होम क्वारंटाइन में युवक की मौत, कोरोना संक्रमण की आशंका पर अंतिम संस्‍कार में अड़चन
Azamgarh News in Hindi

आजमगढ़: होम क्वारंटाइन में युवक की मौत, कोरोना संक्रमण की आशंका पर अंतिम संस्‍कार में अड़चन
आजमगढ़ में होम क्वारंटाइन में शख्स की मौत

Covid-19: शख्‍स 22 मार्च को कानपुर से अपने ससुराल कलंदरपुर पहुंचा था. इसके बाद उसे होम क्‍वारंटाइन कर दिया गया था.

  • Share this:
आजमगढ़. कानपुर से लौटे एक युवक की मंगलवार को होम क्वारंटाइन (Home Quarantine) में मौत हो गई. इसके बाद गांव में कोरोना वायरस (Coronavirus) से हुई मौत की अफवाह से लोग आशंकित हैं. ग्रामीणों ने मृतक का शव नहर किनारे जलाने से मना कर दिया. घंटों चली जद्दोजहद के बाद पुलिस और प्रशानिक अधिकारियों ने शव का अंतिम संस्कार कराया. वहीं, परिवार के अन्य सदस्यों को क्वारंटाइन सेंटर भेजने का फैसला भी लिया गया.

मेहनगर थाना क्षेत्र के ठुठिया गांव निवासी नंदलाल कानपुर में मजदूरी का काम करता था. उसकी पत्नी और छह साल की बच्ची मायके में रहती हैं. 22 मार्च को वह कानपुर से अपनी ससुराल कलंदरपुर पहुंचा. कानपुर से आने की भनक लगने पर 26 मार्च को चिकित्सकों की टीम ने घर पहुंचकर उसे होम क्वारंटाइन कर दिया. सबकुछ ठीक चल रहा था कि 16 अप्रैल को उसकी तबीयत खराब हो गई. परिवार के लोगों ने आस-पास के डॉक्‍टरों से उसका उपचार शुरू किया. इसी दौरान मंगलवार को उसकी मौत हो गई. मौत की सूचना पर पुलिस, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम मौके पर पहुंची और शव को गांव के बाहर नहर किनारे अंतिम संस्कार की व्यवस्था की. इसकी जानकारी होने पर बगल के गांव के दर्जनों लोग मौके पर पहुंच गए और कोरोना संक्रमण की आशंका जताते हुए नहर किनारे शव जलाने से रोक दिया.

अब परिवार वालों की होगी जांच
ग्रामीणों का कहना था कि प्रशासन उनका जीवन खतरे में नहीं डाल सकता. शव को श्मशान घाट में जलया जाय. प्रशानिक अधिकारियों के समझाने-बुझाने के बाद किसी तरह मामला शांत हुआ. एसडीएम राजीव रतन सिंह ने बताया कि नंदलाल की पत्नी, बच्ची समेत 10 लोगों को अस्पताल भेज कर जांच के बाद क्वारंटाइन सेंटर भेजा जाएगा. वहीं, पूरे गांव को सेनेटाइज भी कराया जा रहा है. एहतियातन गांव में चौकसी बढ़ा दी गई है और घरों में रहने की अपील की गई है.
ये भी पढ़ें:



कोरोना संक्रमण के कारण प्रशासन सख्त, दिल्ली-नोएडा बॉर्डर सील,इन्हें मिलेगी छूट

Corona Warrior: लोगों के लिए नजीर बने बहराइच के दिव्यांग रिक्शा चालक साजिद...

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज