आजमगढ़: लॉकडाउन में सरकारी दुकानों से हो रही थी शराब की होम डिलेवरी, एक गिरफ्तार
Azamgarh News in Hindi

आजमगढ़: लॉकडाउन में सरकारी दुकानों से हो रही थी शराब की होम डिलेवरी, एक गिरफ्तार
आजमगढ़ पुलिस ने किया शराब तस्करी का खुलासा

लॉकडाउन में बेची जा रही शराब कहीं और से नहीं बल्कि सरकारी शराब की दुकानों से निकालकर डिलेवरी की जा रही थी.

  • Share this:
आजमगढ़. वैश्विक महामारी कोरोना (Coronavirus) से जंग के लिए लाॅक उन के बाद जहां शराब बिक्री पर रोक लगी हुई है, वहीं शराब माफियाओं (Liquor Mafia) ने कारोबार करने का एक नया पैतरा इजाद कर लिया है. शराब तस्कर तीन गुने रेट में शराब की घर-घर होम डिलेवरी कर रहे हैं. आजमगढ़ पुलिस ने लग्जरी वाहन से भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब के साथ एक डिलेवरी बॉय को गिरफ्तार किया है. पूछताछ के दौरान डिलेवरी बॉय ने पूरे मामले में चैंकाने वाला खुलासा किया. लॉकडाउन में बेची जा रही शराब कहीं और से नहीं बल्कि सरकारी शराब की दुकानों से निकालकर डिलेवरी की जा रही थी. जिसके बाद एसपी ने शराब की दुकान के लाइंसेंस निरस्त कर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया.

ऐसे हुआ खुलासा

दरअसल, लाॅकडाउन में भी लगातार शराब तस्करी की सूचना मिल रही थी. इस सूचना के बाद पूरे जिले में पुलिस ने शराब कारोबारियों के खिलाफ अभियान चलाया. इस अभियान में जीयनपुर पुलिस को उस समय कामयाबी हाथ लगी जब एक इनोवा वाहन से पुलिस ने भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब की खेप बरामद कर एक युवक को गिरफ्तार किया. पूछताछ के दौरान युवक ने बताया कि वह लाॅकडाउन में लोगों घर-घर शराब तीन गुने रेट पर पहुंचाता है. उसने बताया कि उसे शराब सरकारी ठेके की दुकानों से रात के समय चोरी से मिलती है.



कालाबाजारी की सूचना देने के लिए नंबर जारी
डिलेवरी बॉय की जानकारी को पुख्ता करने के लिए पुलिस ने जब्त शराब की बोतलों को स्क्रैन किया तो वह जीयनपुर क्षेत्र के एक शराब की दुकान की मिली. जिसके बाद पुलिस अधीक्षक प्रो त्रिवेणी सिंह ने सरकारी अंग्रेजी शराब की दुकान के लाइसेंस निरस्त करने के साथ ही अनुज्ञापी के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया. वहीं जिले में लगातार शराब की होम डिलेवरी की शिकायत मिलने के बाद पुलिस अधीक्षक प्रोफेसर त्रिवेणी सिंह ने एक वाॅटसएप नम्बर 9454458115 भी जारी किया है और जनता से अपील की है कि शराब माफियाओं और कालाबाजारी की सूचना देने वाले का नाम और पता गुप्त रखा जायेगा.

ये भी पढ़ें:

कभी हुई थी 'आगरा मॉडल' की तारीफ, जानें क्‍या है हकीकत

यूपी में बेमौसम बारिश ने किसानों की तोड़ी कमर, CM योगी ने दिए भरपाई के निर्देश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज