Assembly Banner 2021

Azamgarh News: ओमप्रकाश राजभर का दावा- 2022 में बनेगी हमारी सरकार, नहीं चलेगा भाजपा का हिंदू-मुस्लिम कार्ड

पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर भाजपा पर लगातार हमले कर रहे हैं.

पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर भाजपा पर लगातार हमले कर रहे हैं.

भागीदारी संकल्प मोर्चा के संयोजक और पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ( Omprakash Rajbhar) ने भाजपा पर जमकर हमला बोला है. उन्‍होंने कहा कि भाजपा के लोग मुस्लिमों से रोटी और बेटी का संबंध रखते हैं और हम सिर्फ राजनीतिक संबंध रखते हैं तो इन्हें बुरा लगता है. साथ ही दावा किया कि 2022 में हमारी सरकार बनेगी.

  • Share this:
आजमगढ़. उत्‍तर प्रदेश के आजमगढ़ में भागीदारी संकल्प मोर्चा के संयोजक और पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर (Omprakash Rajbhar) ने शुक्रवार को सीएम योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Adityanath) के टोपी वाले बयान पर चुटकी ली. साथ ही उन्‍होंने कहा कि जो कल तक हमें कमजोर बताते थे, वही आज हमारी ताकत से डरने लगे हैं. यह हमारे लिए शुभ संकेत है. इसके अलावा राजभर ने दावा किया कि इस बार भाजपा का हिंदू-मुस्लिम कार्ड (Hindu-Muslim Card) नहीं चलेगा और 2022 में होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव में भागीदारी संकल्प मोर्चा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी.

इसके अलावा भागीदारी संकल्प मोर्चा के संयोजक ओमप्रकाश राजभार ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी उनके असदुद्दीन ओवैसी के साथ गठबंधन से चिंतित नहीं है बल्कि वह इस बात को लेकर परेशान है कि हिन्दू मुस्लिम कैसे करें, लेकिन अब ऐसा होने वाला नहीं है.

भाजपा पर बोला जमकर हमला
आजमगढ़ जिले के सदर विधानसभा क्षेत्र के समेंदा गांव में आयोजित महाराजा सुहेलदेव जयंती समारोह में भाग लेने पहुंचे भागीदारी संकल्प मोर्चा के संयोजक और पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला है. उन्होंने कहा,'बीजेपी के लोग नहीं चाहते कि लोगों को समान शिक्षा का अधिकार, लोगों को मुफ्त बिजली, मुफ्त चिकित्सा और गरीब का बेटा आरक्षण का लाभ ले सके, इसलिए यूपी सरकार तरह तरह के हथकंडे अपनाती रही है. इसके अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लाल-पीली टोपी के बयान पर चुटकी लेते हुए कहा कि कल तक वे हमें कमजोर कहते थे. आज उन्हें हमारी ताकत से डर लगने लगा है. यह हमारे लिए शुभ संकेत है. वहीं, भाजपा के हिन्दू विरोधी के साथ गठबंधन के बयान पर पलटवार करते हुए उन्होंने कहा कि हिंदू-मुस्लिम की बात करने वाली भाजपा को अपने गिरेबान में झांककर देखना चाहिए. आखिर यूपी से जफर इकबाल को राज्यसभा किसने भेजा, नकबी और शहनवाज किसके साथ हैं. यह लोग रोटी और बेटी का संबंध रखते हैं और हम सिर्फ राजनीतिक संबंध रखते हैं तो इन्हें बुरा लगता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज