आजमगढ़ में भाजपा के प्रबुद्ध सम्मेलन में युवक की जूते-चप्पल से पिटाई, पुलिस ने बचाया
Azamgarh News in Hindi

आजमगढ़ में भाजपा के प्रबुद्ध सम्मेलन में युवक की जूते-चप्पल से पिटाई, पुलिस ने बचाया
खुद को बीजेपी कार्यकर्ता बताने वाले युवक की पिटाई

हमले में घायल उज्ज्वल राय पुत्र रणधीर भुवना बुजुर्ग गांव का रहने वाला है. उसका आरोप है कि वह बीजेपी युवा मोर्चा (Bharatiya Janata Yuva Morcha) का जिला कार्यकारिणी का सदस्य है. नेता नहीं चाहते थे कि वो कार्यक्रम में शामिल हो इसलिए उसे पीटा गया...

  • Share this:
आजमगढ़. नेहरू हाल में आयोजित भाजपा (BJP) के प्रबुद्ध सम्मेलन में शनिवार को उस समय अफरा-तफरी मच गयी जब पार्टी के नेताओं ने अपने ही एक कार्यकर्ता पर हमला कर उसे लहूलुहान कर दिया. विवाद इतना बढ़ गया कि पुलिस (Police) को मामले में हस्तक्षेप करना पड़ा और हालांकि भाजपाइयों ने यह कह कर मामले से पल्ला झाड़ लिया कि यह विरोधी दलों की साजिश है. घायल युवक का उनकी पार्टी से कोई ताल्लुक नहीं है. जबकि घायल युवक खुद को बीजेपी युवा मोर्चा (Bharatiya Janata Yuva Morcha) के जिला कार्यकारिणी का सदस्य बता रहा है.

पुलिस और बड़े नेताओं को हस्तक्षेप करना पड़ा
बता दें कि भारतीय जनता पार्टी द्वारा शनिवार को जनपद के नेहरू हाल में भाजपा युवा मोर्चा द्वारा प्रबुद्ध सम्मेलन का आयोजित किया गया था जिसमें भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष यदुवंश बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए थे. भाजपा के कई पदाधिकारी भी कार्यक्रम में मौजूद थे. इसी बीच कुछ नेताओं ने एक युवक पर हमला कर दिये और उसे इतना पीटा कि वह लहूलुहान हो गया. इस दौरान कार्यक्रम में अफरा-तफरी मच गयी. बात इतनी बढ़ गयी कि पुलिस (Police) और बड़े नेताओं को हस्तक्षेप करना पड़ा.

हमले में घायल उज्ज्वल राय पुत्र रणधीर भुवना बुजुर्ग गांव का रहने वाला है. उसका आरोप है कि वह बीजेपी युवा मोर्चा का जिला कार्यकारिणी का सदस्य है. नेता नहीं चाहते थे कि वो कार्यक्रम में शामिल हो. इसलिए भवरनाथ चैराहे पर जब वह प्रदेश अध्यक्ष के स्वागत के लिए पहुंचा तो उसे पिस्टल दिखाकर भगा दिया गया. पीड़ित युवक का कहना है कि इसके बाद भी जब वो भाजपा कार्यकर्ता की हैसियत से उस कार्यक्रम में पहुंचा तो नेताओं ने मारना-पीटना शुरू कर दिया. इस मामले में प्रदेश अध्यक्ष सुभाष यदुवंश का कहना है कि यह विरोधियों की साजिश है. इस युवक का पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है. बीजेपी के सारे कार्यकर्ता अनुशासित हैं और हाल में मौजूद हैं किसी ने मारपीट नहीं की है.
ये भी पढ़ें- भदोही के नवोदय विद्यालय में संदिग्ध परिस्थितियों में छात्र की मौत, फांसी पर झूलता मिला शव
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज