आजमगढ़: ब्लॉक प्रमुख चुनाव से पहले प्रत्याशी ने जताई हत्या की आशंका, लगाई गुहार

ब्लॉक प्रमुख चुनाव से पहले प्रत्याशी ने जताई हत्या की आशंका

ब्लॉक प्रमुख चुनाव से पहले प्रत्याशी ने जताई हत्या की आशंका

आरोप लगाया कि रामबली कन्नौजिया अपनी पुत्र वधु को चुनाव जिताने के लिए एक बीडीसी सदस्य (BDC Member) को हथियारों के दम पर धमका रहे थे.

  • Share this:

आजमगढ़. उत्तर प्रदेश में अब ब्लॉक प्रमुख और जिला पंचायत अध्यक्ष चुनावों के ऐलान से पहले प्रत्याशियों की जोड़-तोड़ और आरोप प्रत्यारोपों का दौर सामने आने लगा है. इसी कड़ी में आजमगढ़ (Azamgarh) जिले के जहानागंज ब्लाक के प्रमुख पद के चुनाव के लिए प्रत्याशी पर बीडीसी (BDC Member) सदस्य को धमकाने का आरोप लगाते हुए थाने में धरने पर बैठ गये थे. वहीं पुलिस की जांच में साफ साबित हुआ कि प्रमुख प्रत्याशी ने अब पूर्व ब्लॉक प्रमुख पर चुनाव जीतने के लिए हत्या तक किये जाने की आशंका व्यक्त की है.

जहानागंज ब्लाक के पारोपुर गांव निवासी रामबली चौधरी की पुत्र वधू चुनावी मैदान में कूदी है. वह अपने क्षेत्र से निर्विरोध बीडीसी सदस्य भी चुनी गयी थी. उनके चुनाव मैदान में कूदने से पूर्व ब्लॉक प्रमुख रमेश कन्नौजिया का समीकरण गड़बड़ा गया है. इससे निपटने के लिए पूर्व ब्लॉक प्रमुख ने दिमाग लगाया. आरोप लगाया कि रामबली कन्नौजिया अपनी पुत्र वधु को चुनाव जिताने के लिए एक बीडीसी सदस्य को हथियारों के दम पर धमका रहे थे. पुलिस ने जांच शुरू की तो शिकायत फर्जी पाई गयी. जिसके बाद भी वह थाने में धरने पर बैठ गये.

UP Politics: अखिलेश यादव ने सीएम योगी को खुद किया फोन, जन्मदिन की दी बधाई

वहीं अब रामबली चौधरी ने पलटवार किया है. राजबली ने आरोप लगाया कि बीते 12 मई को पूर्व ब्लाक प्रमुख ने उन्हे खुद ही धमकाया कि ब्लॉक प्रमुख का चुनाव में खड़े मत होना नहीं तो आपकी हत्या कर दी जायेगी. धमकी मिलने के बाद वह अधिकारियों से लेकर सरकार तक से शिकायत दर्ज करायी थी. आरोप है कि पूर्व ब्लॉक प्रमुख उनके जनाधारा को देखकर घबरा गये है. इसलिए झूठी शिकायत दर्ज करा रहे है. उन्होंने पुलिस, प्रशासन और सरकार से मांग किया कि उनके ब्लॉक प्रमुख का चुनाव निष्पक्ष कराया जाय नहीं तो उनके विरोधी चुनाव जीतने के लिए उनकी हत्या भी करा सकते है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज