लाइव टीवी
Elec-widget

प्रेमिका को कमरे में बंद रखते थे घरवाले, प्रेमी ने कर दी मां-बेटी की हत्या

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 9, 2019, 3:59 PM IST
प्रेमिका को कमरे में बंद रखते थे घरवाले, प्रेमी ने कर दी मां-बेटी की हत्या
प्रेमी ने की प्रेमिका और उसकी मां की हत्या (प्रतीकात्मक फोटो)

कहा जा रहा है कि इस प्रेम कहानी (love story) की शुरुआत वीडियो कॉलिंग से हुई थी, जिसका अंत मां-बेटी की मौत से हुआ.

  • Share this:
आजमगढ़. उत्तर प्रदेश में आजमगढ़ (Azamgarh) जिले में एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका (girlfriend) और उसकी मां को मौत के घाट उतार दिया. इस घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. साथ ही मामले की जांच शुरू कर दी गई है. कहा जा रहा है कि प्रेम कहानी (love story) वीडियो कॉलिंग से शुरू हुई थी, जिसका अंत मौत से हुआ.

जानकारी के मुताबिक, मामला जिले के मेहनाजपुर थाना क्षेत्र के ढ़ाखा गांव का है. इस गांव का रहने वाला नेशान रोजी रोटी के लिए खाड़ी देश रहता है. उसकी पत्नी नूरीन अपनी बेटी गजाला व चार अन्य बच्चों के साथ घर पर रहती थी. एक साल पहले नेशान ने गांव के ही शुभम विश्वकर्मा को फोन किया और कहा कि मेरे घर जाकर पत्नी से वीडियो कॉलिंग पर बात करा दो. इसके बाद शुभम उसके घर आने जाने लगा और इसी दौरान गजाला से उसे प्रेम हो गया. फिर दोनों गांव के बाहर नहर की पुलिया पर मिलने लगे. कुछ दिन बाद लड़की किसी और से बात करने लगी तो शुभम ने विरोध किया.

मां को पता चल गई
इसके बाद गजाला ने उससे मिलने से मना कर दिया. इसी दौरान यह बात उसकी मां को पता चल गई. इसके बाद नूरीन ने बेटी पर पहरा लगया दिया. रात में वह बेटी को ताले में बंद कर खुद दजवाजे पर सो जाती थी. घटना वाली रात शुभम गजाला से मिलने के लिए ही उसके घर गया था, लेकिन वह ताले में बंद थी और उसकी मां दरवाजे पर सोई हुई थी. शुभम ने जब नूरीन से गजाला से मिलने की जिद की तो उसने गांव वालों को बताने और अपने भाइयों से कहकर पिटवाने की धमकी दे दी. उसने शोर मचाने का प्रयास किया तो शिवम ने नूरीन का मुंह दबाकर चुप कराने का प्रयास किया, जिससे वह बेहोश हो गई.

नूरीन को कंधे पर उठाया
इसके बाद शुभम ने नूरीन को कंधे पर उठाया और पास के धान के खेत में ले जाकर गला दबाकर हत्या कर दी. फिर वह उसके घर लौटा और नूरीन की चारपाई पर तकिये के नीचे रखी चाभी निकालकर ताला खोला और गजाला को बाहर निकाला. आरोपी के मुताबिक, जब उसने पूछा मेरी मम्मी कहा है तो शिवम ने कहा कि बगल के कमरे में सो रही है. इसके बाद वह उसे 500 मीटर की दूरी पर स्थित गाजीपुर जनपद के शादात थाना क्षेत्र के मल्हौरा स्कूल के पास ले गया. उसको वहीं छोड़ वह अपने दोस्त टोनी उर्फ अमीत यादव और आशीष के साथ घर आ गया. फिर वापस लौटने पर उसने अपने दोस्तों से गजाला का परिचय कराया. उसी समय गजाला ने फिर अपनी मां के बारे में पूछा. जब शुभम ने बताया कि गलती से उनकी हत्या हो गई तो उसके दोनों दोस्त दौड़कर भाग गए. बात खुले ने इस डर से उसने गजाला को पानी में गिराकर मार दिया.

रिपोर्ट- अभिषेक
Loading...

ये भी पढ़ें- 

शिंदे के बयान पर बोले माजिद मेमन- कांग्रेस चाहे तो NCP में विलय कर ले

नक्सली के साथ ही पन्नी में बांध लाए शहीद का शव, SP ने दी ये सफाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए आजमगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 3:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...