Azamgarh news

आजमगढ़

अपना जिला चुनें

आजमगढ़: उधार वापस मांगना कारोबारी को पड़ा भारी, पुलिस ने रंगदारी मांगने के आरोप में भेजा जेल

आजमगढ़: उधार वापस मांगना कारोबारी को पड़ा भारी, पुलिस ने रंगदारी मांगने के आरोप में भेजा जेल

यूपी पुलिस ने एक मदरसे के प्रिंसिपल के खिलाफ ठगी का केस दर्ज किया है.

पुलिस उपमहानिरीक्षक ने मामले में पुलिस (Police) की भूमिका की जांच के आदेश आजमगढ़ (Azamgarh) पुलिस अधीक्षक को द‍िये हैं.

SHARE THIS:
आजमगढ़. जहानाबाद (Jehanabad) थानाक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले लपसीपुर (Lapsipur) गांव में एक कारोबारी को किसान से उधार का पैसा मांगना भारी पड़ गया. किसान (Farmer) की शिकायत पर न केवल कारोबारी, बल्कि आठ अन्‍य साथियों को पुलिस (Police) ने गिरफ्तार कर लिया. वहीं अब, गिरफ्तार कारोबारी के परिजनों ने पुलिस उपमहानिरीक्षक (DIG) से न्‍याय की गुहार लगाई है. परिजनों का पक्ष जानने के बाद उपमहानिरीक्षक ने पूरे मामले में पुलिस की भूमिका की जांच के आदेश दिए हैं.

गिरफ्तार कारोबारी बृजेश यादव के परिजनों का कहना है कि बृजेश शहर के बेलइसा में कृषि यंत्रों की दुकान चलाते हैं. उनका आरोप है कि लपसीपुर गांव के एक किसान ने दो थ्रेसर खरीदा था. इन थ्रेसर की कुल कीमत करीब 2.44 लाख रुपए थी, जिसमें किसान ने 35 हजार रुपए का नगद भुगतान किया था और 2.09 लाख रुपए का बकाया था. 21 अगस्त को पुलिस के सामने किसान ने 30 हजार का भुगतान किया. बाकी राशि वसूलने के लिए बृजेश यादव अपने कर्मचारियों के साथ किसान के यहां पहुंचा तो विवाद हो गया.

रंगदारी मांगने के आरोप में गिरफ्तार
विवाद की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने कृषि यंत्र कारोबारी और उनके कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने गिरफ्तार कारोबारी पर किसान से दो लाख रुपए की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया है. इसी आरोप के तहत, कारोबारी और उसके साथियों को जेल भेज द‍िया गया है. अब, कारोबारी के परिजनों ने डीआईजी से पूरे मामले में जहानागंज थाने की पुलिस की भूमिका की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए न्याय की मांग की है.

एसपी करेंगे मामले की जांच
वहीं, इस मामले में डीआईजी सुबाष चन्द दुबे का कहना है कि दोषी लोगों के परिवार के परिजन उनसे मिले थे. इस पूरे मामले में जांच के आदेश उन्‍होंने एसपी को दिया है. जांच के बाद जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर कार्रवाई की जायेगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Crime In UP : आजमगढ़ के अस्पताल में महिला से रेप, आरोपी कंपाउंडर हिरासत में

Crime In UP : आजमगढ़ के अस्पताल में महिला से रेप, आरोपी कंपाउंडर हिरासत में

Crime Against Women : पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने कहा कि मामले की जांच जारी है. आरोपी कंपाउंडर को हिरासत में लिया गया है. साथ ही महिला के पति से भी पूछताछ चल रही है.

SHARE THIS:

आजमगढ़ : अस्पतालों में भर्ती महिलाएं भी अब सुरक्षित नहीं है. दरिंदों की नजर बीमारी से ग्रसित होकर भर्ती महिलाओं पर भी है. ऐसा ही एक मामला आजमगढ़ जिले के जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के एक नर्सिंग होम में सामने आया है. यहां अस्पताल में भर्ती महिला के साथ कंपाउंडर द्वारा बलात्कार किए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. सूचना पर पहुंची पुलिस ने आरोपी कंपाउडर को हिरासत में ले लिया है.

जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के कस्बे के एक निजी अस्पताल में एक महिला बुखार, सर्दी-जुकाम होने पर चार दिन पहले भर्ती हुई थी. उनके साथ उनके पति भी थे. पीड़ित महिला के पति का आरोप है कि रात में वे अपनी पत्नी के वॉर्ड में ही सो रहे थे. देर रात नर्सिंग होम के कंपाउंडर ने उसकी पत्नी के साथ बलात्कार किया. आहट होने पर जब पति की नींद टूटी तो कंपाउडर निकल कर बाहर भाग गया. शोर मचाने पर अस्पताल परिसर में हड़कंप मच गया. जिसके बाद क्लिनिक में मौजूद लोगों के साथ ही आसपास के लोग इकठ्ठा हो गए. बाद में लोगों ने जीयनपुर कोतवाली पुलिस को सूचना दी.

इन्हें भी पढ़ें :
AIMIM ने मुख्तार अंसारी को यूपी चुनाव के लिए दिया प्रस्ताव, कहा- जहां से टिकट मांगें, हम देंगे
मथुरा-वृंदावन में 10 वर्ग किमी. का दायरा तीर्थस्‍थल घोषित, नहीं बिकेगा मांस और शराब

सूचना के बाद मौके पर जीयनपुर पुलिस पहुंची गई और आरोपी कंपाउंडर को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है और घटना की पड़ताल में जुटी है. वहीं, पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने कहा कि मामले की जांच जारी है. आरोपी कंपाउंडर को हिरासत में लिया गया है. साथ ही महिला के पति से भी पूछताछ चल रही है. छानबीन के बाद जो भी तथ्य सामने आएगा उसके आधार पर वैधानिक कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

संसद में आजमगढ़ की नहीं, बल्कि आजम खान की वकालत करते हैं अखिलेश यादव- निरहुआ

संसद में आजमगढ़ की नहीं, बल्कि आजम खान की वकालत करते हैं अखिलेश यादव- निरहुआ

Azamgarh News: निरहुआ ने कहा कि अभी भी आजमगढ़ का सांसद मैं ही हूं, क्योंकि जिनको हमारे आजमगढ़ की जनता ने चुना, वो कभी आते नहीं है, आता हमेशा मैं ही हूं.

SHARE THIS:

आजमगढ़. यूपी के आजमगढ़ (Azamgarh) पहुंचे भाजपा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य और भोजपुरी सिने स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ (Dinesh Lal Nirahua) ने सपा सप्रीमो अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा. निरहुआ ने आरोप लगाया कि आजमगढ़ के लोगों ने उन्हें सांसद चुना, लेकिन उन्हें संसद में आजमगढ़ की नहीं, बल्कि आजम खान की चिंता होती है. उन्होंने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में एक बार फिर भाजपा की सरकार बनेगी. अखिलेश यादव कितना भी जोर लगा लें सत्ता नहीं मिलने वाली. निरहुआ ने कहा कि ओवैसी से पार्टी को कोई खतरा नहीं है. इस दौरान उन्होंने गीत ‘चाहे जितना जोर लगा, चाहे जितना शोर मचा ला अईह फिर से योगी जी’ सुनाया. कहा कि प्रदेश में फिर से योगी जी की ही सरकार बन रही है.

दरअसल आजमगढ़ के कोटिला में आयोजित एक ढ़ाबे के उद्घाटन में पहुंचे दिनेश लाल यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की सोच अच्छी थी कि सपा से किसी गुंडे, माफिया को टिकट नहीं देंगे, यह कदम अच्छा था. लेकिन उनकी पार्टी के लोगों ने उन्हें ऐसा नहीं करने दिया. यह काम सिर्फ योगी जी ही कर सकते हैं. समाजवादी पार्टी विधानसभा चुनाव में दूर-दूर तक नहीं है. अखिलेश यादव का कैरियर खत्म हो चुका है.

यह भी पढ़ें: UP Election 2022: प्रियंका गांधी के UP दौरे को लेकर सियासत तेज, स्वतंत्र देव सिंह बोले- फिर से पधारी पिकनिक मनाने

निरहुआ ने कहा कि नोएडा में बन रही फिल्म सिटी से प्रदेश के कलाकारों को काफी लाभ मिलेगा. अभी भी आजमगढ़ का सांसद मैं ही हूं, क्योंकि जिनको हमारे आजमगढ़ की जनता ने चुना, वो कभी आते नहीं है, आता हमेशा मैं ही हूं. आजमगढ़ से चुनाव लड़ने का एक कारण ये भी था कि हीरो की एंट्री हमेशा बड़ी होनी चाहिए. अभी तो हमने एंट्री मारी है, उसके बाद इंटरवल, फिर क्लाइमैक्स में बहुत समय है. अभी तो शुरुआत थी. इस दौरान दिनेश यादव निरहुआ ने कोरोना योद्धाओं को सम्मानित किया. वहीं पूर्व मंत्री ओमप्रकाश यादव के बारे में दिनेश लाल यादव ने कहा कि वे दलबदलु हैं, आज इस पार्टी और कल इस पार्टी में इसलिए उनके किसी भी बात को पार्टी गंभीरता से नहीं लेती है.

Azamgarh: ग्रामीणों ने प्रेमी को दी तालिबानी सजा, निर्वस्त्र कर बेरहमी से पीटा, वीडियो वायरल

Azamgarh: ग्रामीणों ने प्रेमी को दी तालिबानी सजा, निर्वस्त्र कर बेरहमी से पीटा, वीडियो वायरल

Azamgarh Crime News: युवक को निवस्त्र कर पिटाई करते लोगों का यह वीडियों कप्तानगंज थाना के नरफोरा गांव का बताया जा रहा है. पीट रहे युवक का नाम हरिश्याम निषाद है.

SHARE THIS:

आजमगढ़. रात के समय गांव की ही युवती से मिलने उसके घर पहुंचे प्रेमी को ग्रामीणों ने तालिबानी सजा (Talibami Punishment) दे दी. ग्रामीणों ने घर में प्रेमी को युवती के साथ पकड़ लिया और उसके बाद जो उसके साथ किया वह मानवता को शर्मसार करने वाला था. गांव के कुछ लोगों ने युवक को नंगा कर बेरहमी से पिटाई की. मामला तब सुर्खियों में आया जब सोशल मीडिया में युवक की पिटाई का वीडियों वायरल हो गया. जिसके बाद हड़कंप मच गया. जानकारी के बाद पुलिस अधीक्षक ने मामले जांच के आदेश दिये है.

युवक को निवस्त्र कर पिटाई करते लोगों का यह वीडियों कप्तानगंज थाना के नरफोरा गांव का बताया जा रहा है. पीट रहे युवक का नाम हरिश्याम निषाद है. आरोप है कि हरिश्याम दलित बस्ती के एक घर में गया था. उसके घर में घुसते ही गांव के कुछ लोगों ने उसे पकड़ लिया और नंगा कर उसकी बेरहमी से पिटाई की. गांव वालों की पिटाई से घायल युवक का उपचार अस्पताल में चल रहा है.

एसपी ने दिए जांच के आदेश
इस पूरे मामले में कोई भी कुछ बोलने को फिलहाल तैयार नहीं है. वहीं इस संबंध में पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह का कहना है कि इस तरह का मामला उनके संज्ञान में आया है. मामला संज्ञान में आते ही मामले की जांच के लिए टीमें लगा दी गई हैं. मौके पर थाना प्रभारी गए हुए थे, जहां यह बात निकल कर सामने आयी की युवक गांव की ही एक युवती से प्रेम करता था. जिससे मिलने वह गया हुआ था, जहां उसकी पिटाई की गयी है. इस मामले में आरोपियों की पहचान कर सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी.

माफिया मुख्तार अंसारी के लखनऊ स्थित आलीशान बंगले को आजमगढ़ पुलिस करेगी कुर्क

माफिया मुख्तार अंसारी के लखनऊ स्थित आलीशान बंगले को आजमगढ़ पुलिस करेगी कुर्क

Mukhtar Ansari News: अब इस बंगले पर आजमगढ़ पुलिस की नजर पड़ गयी है. जिसके बाद विवेचक प्रशांत श्रीवास्तव की रिपोर्ट पर एसपी ने जिला मजिस्ट्रेट को बंगले को कुर्क करने के लिए पत्र लिखा है.

SHARE THIS:

आजमगढ़. कभी अपने हनक व खौफ से लोगों में दहशत पैदा कर अवैध कमाई से अर्जित माफिया मुख़्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) की सम्पत्ति पर अब पुलिस (Police) की निगाहें टेढ़ी हो गयी है. करीब 14 वर्ष पूर्व माफिया मुख्तार अंसारी द्वारा लखनऊ (Lucknow) के विधानसभा के पास करोड़ों की भूमि को औने-पौने दामों में खरीद कर आलीशान बंगला खड़ा कर लिया था. अब इस बंगले पर आजमगढ़ पुलिस की नजर पड़ गयी है. जिसके बाद विवेचक प्रशांत श्रीवास्तव की रिपोर्ट पर एसपी ने जिला मजिस्ट्रेट को बंगले को कुर्क करने के लिए पत्र लिखा है.

बतातें चलें कि एक दौर था जब मुख्तार अंसारी पूर्वांचल में ही नहीं प्रदेश में अपराध जगत का बादशाह माना जाता था. उसके नाम से लोग इतना खौफ खाते थे कि एक फोन मात्र से अपनी बेशकीमती ज़मीन के साथ ही अपनी सम्पत्ति मुख्तार के हवाले कर देते थे, और पुलिस भी इनके सामने बेबस दिखाई देती थी. लेकिन सूबे में योगी सरकार बनते ही माफियाओं पर कार्रवाई का दौर शुरू हो गया. इसी कड़ी में वर्ष 2014 में ठेकेदार पर हुए जानलेवा हमले के मामले में माफिया समेत दस लोगों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई हुई थी. जिसकी विवेचना स्वाट प्रभारी प्राशांत श्रीवास्तव  कर रहे थे. विवेचना के दौरान उनको लखनऊ के हुसैनगंज के समीप एक आलीशान बंगला मिला, जिसे वर्ष 2007 में एक व्यवसायी से डरा धमका कर खरीदा गया था. यही नहीं सर्किल रेट को छिपाकर करोड़ों की जमिन महज पांच लाख रूपये ली गयी थी.

लखनऊ के जिला मजिस्ट्रेट को  लिखा पत्र
इस मामले में विवेचक प्रशांत श्रीवास्तव में एक रिपोर्ट एसपी को सौंपी थी. रिपोर्ट के आधार पर पुलिस अधीक्षक ने लखनऊ के जिला मजिस्ट्रेट को आलीशान बंगले को कुर्क करने के लिए पत्र लिखा है. माना जा रहा है कि जल्द ही आजमगढ़ पुलिस इस बंगले को कुर्क करेगी.

राजभर का विवादित बयान: कहा-'हमारे 4 विधायक भाजपा सरकार को कंधा देकर कहेंगे राम नाम सत्य है'

राजभर का विवादित बयान: कहा-'हमारे 4 विधायक भाजपा सरकार को कंधा देकर कहेंगे राम नाम सत्य है'

OP Rajbhar Controversial statement : सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने आजमगढ़ जिले के लालगंज विधानसभा के पल्हना में पार्टी कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा- ' हमारी पार्टी के चार विधायक हैं. आने वाले विधानसभा चुनाव में वे सरकार की अर्थी निकालकर भाजपा को कंधा देगें और बोलेंगे राम नाम सत्य है.'

SHARE THIS:

आजमगढ़. यूपी 2022 की विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) की तैयारियों में जुटे सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व भाजपा सरकार में मंत्री रह चुके ओमप्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) ने विवादित बयान दिया है. आजमगढ़ (Azamgarh) जिले के लालगंज विधानसभा के पल्हना में पार्टी कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ‘ हमारी पार्टी के चार विधायक हैं और आने वाले विधानसभा चुनाव में वे सरकार की अर्थी निकालकर भाजपा को कंधा देगें और बोलेंगे राम नाम सत्य है.’

समाजवादी पार्टी के गढ़ आजमगढ़ जिले के लालगंज विधानसभा के पल्हना में कार्यकर्ताओं की बैठक को सम्बोधित करने पहुंचे सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कार्यकर्ताओं की भारी संख्या में भीड़ को देखते हुए गदगद नजर आये. इस दौरान उन्होंने भाजपा सरकार पर कई प्रहार किए. राजभर ने कहा कि अब यूपी में छोटी जाति की पार्टी मिलकर भागीदारी मोर्चा की सरकार बनाने का वक्त आ गया है. उन्होंने कार्यकर्ताओं को भागीदारी मोर्चा के सरकार बनाने के फार्मूले को भी समझाया.

उन्होंने कहा कि मोर्चा की सरकार में दलित, पिछड़े वर्ग का बेटा थाने पर सिपाही और दरोगा होगा. भाजपा सरकार ने ऐसा नहीं होने दिया, इसी लिए मुझे भाजपा का साथ छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ गया. उन्होंने आरक्षण को लेकर केन्द्र और प्रदेश सरकार पर निशाना साधा और कहा कि पहले पूरी तरह आरक्षण लागू करो, तब बंटवारे की बात करो. उन्होंने कहा कि अब सोलह दूना आठ नहीं, अब सोलह दूनी बत्तीस का पाठ पढ़ना होगा. उन्होंने कहा कि प्रदेश में आने वाले विधानसभा चुनाव में उनके चार विधायक पार्टी की अर्थी निकाल कंधा देंगे और बोलेंगे राम नाम सत्य है.

आजमगढ़: कोविड वैक्सीन लगने के कुछ घंटों बाद अधेड़ की मौत, जमकर हंगामा, पुलिस से हाथापाई

आजमगढ़: कोविड वैक्सीन लगने के कुछ घंटों बाद अधेड़ की मौत, जमकर हंगामा, पुलिस से हाथापाई

Azamgarh News: आजमगढ़ में एक व्यक्ति को कोविड 19 की वैक्सीन लगने के कुछ घंटे के बाद उसकी मौत हो गई, जिसके बाद आक्रोशित भीड़ ने जमकर हंगामा किया. ग्रामीण सड़क जाम कर मौके पर DM को बुलाने की मांग करते रहे. कई थाने की फोर्स मौके पर पहुंची.

SHARE THIS:

आजमगढ़. उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ (Azamgarh) में कोविड-19 वैक्सीनेशन (Covid -19 Vaccination) के करीब तीन घंटे बाद एक अधेड़ की घर पर मौत हो गई. इसके बाद परिजन सैकड़ों की संख्या में ग्रामीणों के साथ CHC मेंहनगर पहुंचकर जमकर हंगामा शुरू कर दिया. उन्होंने अस्पताल तोड़फोड़ की कोशिश की तो पुलिस को बुलाया गया. आक्रोशित भीड़ ने पुलिस के साथ भी हाथापाई की. भीड़ सड़क जाम कर डीएम को बुलाने की मांग करने लगी. कई थाने की फोर्स मौके पर पहुंची.

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मेंहनगर पर बुधवार को टीकाकरण चल रहा था. दोपहर में मेंहनगर थाना क्षेत्र के देवईत गांव निवासी रामपति राम 55 पुत्र छठ्ठू ने टीका लगवाया. इसके बाद वे घर चले गए. शाम करीब 5 बजे रामपति के परिवार के लोग सैकड़ों की संख्या में लोगों के साथ अस्पताल पहुंचे और टीका लगने से मौत का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया. ग्रामीणों ने अस्पताल में तोड़फोड़ की कोशिश भी की. भीड़ बेकाबू होते देख प्रभारी चिकित्साधिकारी देवमणि ने मेंहनगर थाने पर फोन कर दिया. इसके बाद पुलिस मौके पहुंची और भीड़ को समझाने का प्रयास किया, लेकिन लोग पुलिस से भी भिड़ गए.

लोगों ने पुलिस से शुरू कर दी हाथापाई

इस दौरान कुछ युवकों ने पुलिसकर्मी से हाथापाई की. मौके की नजाकत देख कई थानों की पुलिस फोर्स मौके पर बुला ली गई. ग्रामीण सड़क जाम कर प्रदर्शन करते रहे. ग्रामीण डीएम को मौके पर बुलाने की जिद पर अड़े रहे. पुलिस मामले को सुलझाने का प्रयास करती रही. वैक्सीनेशन के नोडल अधिकारी डा. संजय का कहना है कि टीका लगने के बाद प्रत्येक व्यक्ति को आधे घंटे स्वास्थ्यकर्मी की देख रेख में रखा जाता है. इन्हें रखा गया था. अस्पताल से वे पैदल अपने घर गए. करीब तीन घंटे बाद उनकी मौत हो गई. हो सकता है कि हृदय गति रूकने से मौत हुई हो. पोस्टमार्टम के बाद स्थिति स्पष्ट होगी.

Army Bharti 2021: UP के इन 12 जिलों के लिए सेना में आईं भर्ती, आवेदन के लिए बचे सिर्फ 4 दिन

Army Bharti 2021: UP के इन 12 जिलों के लिए सेना में आईं भर्ती, आवेदन के लिए बचे सिर्फ 4 दिन

Indian Army Recruitment Rally 2021: भारतीय सेना के 7 पदों के लिए प्रस्‍तावित भर्ती प्रक्रिया 6 सितंबर से वाराणसी के रणबांकुरे स्‍टेडियम में शुरू होने जा रही है. यह भर्ती प्रक्रिया 30 सितंबर तक जारी रहेगी.

SHARE THIS:

नई दिल्‍ली. उत्‍तर प्रदेश के 12 जिलों मे रहने वाले नौजवानों के लिए भारतीय सेना भर्ती अभियान शुरू करने जा रही है. सेना के विभिन्‍न पदों के लिए उत्‍तर प्रदेश के जिन 12 जिलों से भर्ती होनी हैं, उनमें आजमगढ़, बलिया, चंदौली, देवरिया, गोरखपुर, गाजीपुर, जौनपुर, मऊ, मिर्जापुर, संत रविदास नगर, सोनभद्र और वाराणसी शामिल हैं. भारतीय सेना ने इस भर्ती अभियान के लिए 8 जुलाई को नोटिफिकेशन जारी किया था. करीब सात पदों के लिए जारी भर्ती अभियान के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 21 अगस्‍त है. भारतीय सेना में भविष्‍य तलाश रहे जिन नौजवानों ने अभी तक आवेदन नहीं किया है, वे सेना की आधिकारिक वेबसाइट joinindianarmy.nic.in के जरिए 21 अगस्‍त तक आवेदन कर सकते हैं.

इन पदों के लिए होनी है भर्ती रैली:
सैनिक (सामान्य ड्यूटी),
सैनिक (तकनीकी),
सैनिक (विमानन/गोला बारूद परीक्षक),
सैनिक (नर्सिंग सहायक / नर्सिंग सहायक पशु चिकित्सा),
सैनिक (क्लर्क / स्टोर कीपर तकनीकी),
सैनिक ट्रेडमैन (सभी शस्त्र)

शैक्षणिक योग्यता

  • सैनिक (सामान्य ड्यूटी) :
    (i) कुल 45% अंकों के साथ कक्षा 10वीं या मैट्रिक पास, प्रत्‍येक विषय में न्‍यूनतम 33% अंक.
    (ii) ग्रेडिंग सिस्टम बोर्ड से पास अ‍भ्‍यर्थियों के लिए सभी विषयों में ‘डी’ ग्रेड और एग्रीगिएट में ‘सी-2’ ग्रेड.

सैनिक (तकनीकी) :
(i) भौतिकी विज्ञान, रसायन विज्ञान और गणित विषय से 10+2/ इंटरमीडिएट पास की हो.
(ii) अंग्रेजी में न्‍यूनतम 50% अंक.
(iii) सभी विषयों में न्‍यूनतम और कुल 40% अंक.

सैनिक (विमानन/गोला बारूद परीक्षक):
(i) भौतिकी विज्ञान, रसायन विज्ञान और गणित विषय से 10+2/ इंटरमीडिएट पास की हो.
(ii) अंग्रेजी में न्‍यूनतम 50% अंक.
(iii) सभी विषयों में न्‍यूनतम और कुल 40% अंक.

सैनिक (नर्सिंग सहायक / नर्सिंग सहायक पशु चिकित्सा):
(i) भौतिकी विज्ञान, रसायन विज्ञान और जीव विषय से 10+2/ इंटरमीडिएट पास की हो.
(ii) अंग्रेजी में न्‍यूनतम 50% अंक.
(iii) सभी विषयों में न्‍यूनतम और कुल 40% अंक.

सैनिक (क्लर्क / स्टोर कीपर तकनीकी):
(i) कला, विज्ञान या वाणिज्‍य स्‍ट्रीम से 10 + 2/ इंटरमीडिएट परीक्षा पास की हो.
(ii) सभी विषयों में न्‍यूनतम 50% अंक.
(iii) सभी विषयों में कुल 60% अंक हों.
(iv) 12 वीं की कक्षा में अंग्रेजी, गणित और अकाउंट्स/बुक कीपिंग की पढ़ाई की हो.

सैनिक ट्रेडमैन (सभी शस्त्र):
(i) 33% अंकों के साथ 10 वीं कक्षा पास हों.

आयु सीमा
सैनिक (सामान्य ड्यूटी) पद के लिए आवेदन करने वाले अभ्‍यर्थियों जन्‍म 1 अक्‍टूबर 2000 से 1 अप्रैल 2004 के बीच का होना चाहिए. वहीं, सैनिक (तकनीकी), सैनिक (विमानन/गोला बारूद परीक्षक), सैनिक (नर्सिंग सहायक / नर्सिंग सहायक पशु चिकित्सा), सैनिक (क्लर्क / स्टोर कीपर तकनीकी) और सैनिक ट्रेडमैन (सभी शस्त्र) पद के लिए आवेदन करने वाले अभ्‍यर्थियों जन्‍म 1 अक्‍टूबर 1998 से 1 अप्रैल 2004 के बीच का होना चाहिए.

चयन प्रक्रिया
रैली के दौरान अभ्यर्थियों का शारीरिक स्वास्थ्य परीक्षण, शारीरिक मापन और चिकित्सा परीक्षण किया जाएगा. इन सभी मापदंडों में खरे उतरने वाले अभ्यर्थियों का चुनाव सामान्य प्रवेश परीक्षा के लिए किया जाएगा.

यह भी पढ़ें –
SSC GD Constable Recruitment 2021 : एसएससी ने जीडी कांस्टेबल भर्ती को लेकर जारी किया ये अहम नोटिस
RSMSSB Recruitment 2021: राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड  ने निकाली 12वीं पास के लिए बंपर नौकरियां, जानें डिटेल

अखिलेश के गढ़ से चाचा शिवपाल की पार्टी ने फूंका 2022 चुनाव का बिगुल, सभी सीटों पर लड़ने का एलान

अखिलेश के गढ़ से चाचा शिवपाल की पार्टी ने फूंका 2022 चुनाव का बिगुल, सभी सीटों पर लड़ने का एलान

UP Assembly Election 2022: प्रगतिशील समाजवादी पार्टी ने मंगलवार को विधानसभा चुनाव का बिगुल आजमगढ़ जिले से फूंक दिया. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की यह कार्यकर्ता सम्मेलन मुबारकपुर विधानसभा में आयोजित हुई, जिसमें हजारों की संख्या में लोग उपस्थित रहे.

SHARE THIS:

आजमगढ़. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व आजमगढ़ (Azamgarh) सांसद अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के गढ़ से चाचा शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (PSP) ने 2022 की चुनाव का बिगुल फूंक दिया है. विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी प्रगतशील समाजवादी पार्टी लोहिया ने मुबारकपुर विधानसभा में कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन किया, जिसमें बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए. इस दौरान कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए प्रसपा के प्रदेश महासचिव रामदर्शन यादव ने कहा कि पार्टी वर्ष 2022 के चुनाव में पूरे दमखम के साथ चुनाव लड़ेगी।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी ने मंगलवार को विधानसभा चुनाव का बिगुल आजमगढ़ जिले से फूंक दिया. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की यह कार्यकर्ता सम्मेलन मुबारकपुर विधानसभा में आयोजित हुई, जिसमें हजारों की संख्या में लोग उपस्थित रहे. इस दौरान कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए पार्टी के प्रदेश महासचिव रामदर्शन यादव ने कहा कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी वर्ष 2022 के विधानसभा चुनावों की तैयारियां शुरू कर दी. कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए सम्मेलन भी आयोजित किये जा रहे है. उन्होने कहा कि मंडल मुख्यालय की रैली में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के आने की प्रबल संभावना है.

विकास के मुद्दे पर लड़ेंगे चुनाव
उन्होने कहा कि आज प्रदेश की योगी सरकार से किसान, मजदूर, नौजवान सभी वर्ग व समुदाय के लोग परेशान है. इसके लिए पार्टी अपने उर्जावान कार्यकर्ताओं को अभी से मैदान में जुट जाने का निर्देश दिया गया है. उन्होने कहा कि सरकार को कोविड के प्रबंन्धन, महंगाई, भ्रष्ट्राचार और कानून व्यवस्था को मुद्दा बनाकर पार्टी विकास के मुद्दे को लेकर चुनावी मैदान में उतरेगी.

Azamgarh News: पुलिस मुठभेड़ में 25 हजार का इनामी बदमाश विवेक सिंह गिरफ्तार, पैर में लगी गोली

Azamgarh News: पुलिस मुठभेड़ में 25 हजार का इनामी बदमाश विवेक सिंह गिरफ्तार, पैर में लगी गोली

Azamgarh Police Encounter: पुलिस ने घायल बदमाश के कब्जे से 22 जुलाई को असलहे के बल पर लूटी गई मोटरसाइकिल बरामद किया है. पुलिस मौके से फरार हुए दोनों अपराधियों की तलाश में जुट गयी है.

SHARE THIS:

आजमगढ़. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आजमगढ़ (Azamgarh) जिले में यूपी पुलिस (UP Police) का ‘ऑपरेशन लंगड़ा’ जारी है. फूलपुर कोतवाली क्षेत्र में पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ (Encounter) में 25 हजार रुपये का इनामी बदमाश विवेक सिंह पुलिस की गोली लगने से घायल हो गया. मुठभेड़ के दौरान घायल बदमाश के दो साथी मौके से फरार हो गए. पुलिस ने घायल बदमाश के कब्जे से 22 जुलाई को असलहे के बल पर लूटी गई मोटरसाइकिल बरामद किया है. पुलिस मौके से फरार हुए दोनों अपराधियों की तलाश में जुट गयी है.

फूलपुर कोतवाली प्रभारी रत्नेश सिंह अपनी टीम के साथ मंगलवार की रात करीब 10 बजे क्षेत्र के हथनौरा कलां गांव के समीप वाहन चेकिंग कर रहे थे. इस दौरान पुलिस ने एक बाइक पर सवार तीन युवकों को देख संदेह बस उन्हें रोका. तभी बाइक सवार युवकों ने पुलिस पर असलहे से फायर झोंक दिया. पुलिस ने जवाबी कार्रवाई शुरू कर दी, जिसमें गोली लगने से एक बदमाश घायल होकर बाइक से गिर पड़ा. साथ ही दो अन्य बदमाश अंधेरे का लाभ उठाते हुए मौके से फरार हो गए.

22 जुलाई को की थी लूटपाट
इसकी सूचना कोतवाल द्वारा आसपास के थानों को दी गई. अगल-बगल के थानों की फोर्स भी मौके से भागे बदमाशों की तलाश में कांबिंग शुरू कर दी है. घायल बदमाश की पहचान विवेक सिंह पुत्र रामनारायण सिंह के रूप में की गई है. वह मेंहनगर थाना क्षेत्र के गंजोर गांव का निवासी बताया गया है. पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि घायल बदमाश बीते 22 जुलाई को फूलपुर क्षेत्र के सदरपुर बरौली स्थित ग्राहक सेवा केंद्र में लूटपाट की कोशिश करते समय केंद्र संचालक पर जानलेवा हमला किया था. साथ ही मौके से भागते समय वह अपने साथियों के साथ एक राहगीर की बाइक लूट कर फरार हो गया था. पुलिस ने लूटी गई बाइक व तमंचा मय कारतूस घायल अपराधी के कब्जे से बरामद किया है.

UP Army Rally 2021: यूपी के 12 जिलों में होगी सेना भर्ती रैली, जल्द करें आवेदन

UP Army Rally 2021: यूपी के 12 जिलों में होगी सेना भर्ती रैली, जल्द करें आवेदन

UP Army Rally 2021: भारतीय सेना की ओर से यूपी के 12 जिलों के लिए भर्ती रैली का शेड्यूल जारी किया गया है. रैली में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट के जरिए 21 अगस्त 2021 तक आवेदन कर सकते हैं.

SHARE THIS:

UP Army Rally 2021. यूपी के 12 जिलों में सेना भर्ती रैली होने वाली है. इन जिलों में भर्ती रैली के लिए आवेदन की प्रक्रिया 8 जुलाई 2021 से जारी है. आवेदन की अंतिम तिथि में 11 दिन का समय शेष बचा है. ऐसे में जिन अभ्यर्थियों ने अभी तक भर्ती रैली के लिए आवेदन नहीं किया है. वह अभ्यर्थी भारतीय सेना की आधिकारिक वेबसाइट www.joinindianarmy.nic.in के जरिए आवेदन कर सकते हैं. इस संबंध में इंडियन आर्मी ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर भर्ती रैली का शेड्यूल जारी किया है.

सेना की ओर से प्रस्तावित रैली की तारीख 6 से 30 सितंबर 2021 तक है. 21 माह बाद सेना में भर्ती फिर शुरू होगी. इसके पहले नवंबर-2019 में छावनी के रणबांकुरे मैदान में सेना भर्ती हुई थी. कोरोना महामारी के कारण साल 2020 में प्रक्रिया रोक दी गई थी. रजिस्ट्रेशन भी नहीं हो सका था. अप्रैल 2021 में सेना भर्ती की तैयारी थी, लेकिन कोरोना की दूसरी लहर ने फिर इस पर ब्रेक लगा दिया था.

UP Army Rally 2021: इन जिलों के लिए होगी भर्तियां
सेना भर्ती कार्यालय वाराणसी के निदेशक कर्नल सिद्धार्थ बसु ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पूर्वांचल के 12 जनपदों के युवाओं के लिए यह अवसर है. वाराणसी, आजमगढ़, मऊ, जौनपुर, गाजीपुर, मिर्जापुर, सोनभद्र ,देवरिया, चंदौली, गोरखपुर, बलिया, भदोही शामिल है.

UPArmy Rally 2021: इन पदों पर होगी भर्तियां
इस भर्ती रैली के जरिए सिपाही नर्सिंग असिस्टेंट, सिपाही क्लर्क, सिपाही ट्रेडमैन, सिपाही सामान्य ड्यूटी, सिपाही टेक्निकल और सिपाही ट्रेडमैन के पदो पर भर्तियां की जाएगी. भर्ती रैली से संबंधित अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी जारी नोटिफिकेशन को देख सकते हैं.

UP Army Rally 2021: शैक्षणिक योग्यता
सोल्जर ट्रेडमैन के लिए अभ्यर्थी का किसी भी बोर्ड से 8वीं पास होना अनिवार्य है. वहीं सिपाही सामान्य ड्यूटी पद के लिए 10वीं पास अधिकतम शैक्षणिक योग्यता निर्धारित की गई है. सिपाही टेक्निकल पद के लिए अभ्यर्थी को साइंस स्ट्रीम में 12वीं पास होना चाहिए. सिपाही नर्सिंग असिस्टेंट पद के लिए अभ्यर्थियों को भौतिक, रसायन, बायो या बॉटनी जूलॉजी से 12वीं पास होना चाहिए.

यह भी पढ़ें –
Sarkari Naukri 2021: मनरेगा में 1278 पदों पर भर्ती, मैनेजर से लेकर हैं कंप्यूटर ऑपरेटर तक की पोस्ट
BSF Recruitment 2021: बीएसएफ में स्पोर्ट्स कोटे के तहत जीडी कांस्टेबल की भर्तियां, जानें डिटेल

UP Army Rally 2021: यह है भर्ती रैली का शेड्यूल
आवेदन शुरू होने की तिथि – 8 जुलाई 2021
आवेदन की अंतिम तिथि – 21 अगस्त 2021
भर्ती रैली की प्रस्तावित तिथि – 6 से 30 सितंबर 2022
आधिकारिक वेबसाइट – www.joinindianarmy.nic.in

यहां देखें नोटिफिकेशन

Load More News

More from Other District

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज