COVID-19: इंस्पेक्टर के सामने सैकड़ों लोगों ने उड़ाईं लॉकडाउन की धज्जियां, चुपचाप रहे पुलिसकर्मी
Azamgarh News in Hindi

COVID-19: इंस्पेक्टर के सामने सैकड़ों लोगों ने उड़ाईं लॉकडाउन की धज्जियां, चुपचाप रहे पुलिसकर्मी
पुलिसकर्मियों ने सीएम योगी के फरमानों को ताक पर रखकर सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाईं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) वैश्विक महामारी कोविड-19 (COVID-19) से बचने के लिए लॉकडाउन (Lockdown) का पालन कर लोगों से घरों में रहने की अपील कर रहे हैं. उन्होंने 30 जून तक किसी को भी कार्यक्रम न करने की हिदायत दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 30, 2020, 11:27 PM IST
  • Share this:
आजमगढ़. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) वैश्विक महामारी कोविड-19 (COVID-19) से बचने के लिए लॉकडाउन (Lockdown) का पालन कर लोगों से घरों में रहने की अपील कर रहे हैं. उन्होंने 30 जून तक किसी को भी कार्यक्रम न करने की हिदायत दी है. वहीं आजमगढ़ (Azamgarh) जिले की पुलिस पर अब खादी का खुमार सिर चढ़ कर बोल रहा है. पुलिसकर्मियों ने सीएम योगी के फरमानों को ताक पर रखकर फूलों से स्वागत के लोभ में सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाईं.

विवादों में रहे हैं इंस्पेक्टर
यही नहीं इस कार्यक्रम में पुलिसकर्मियों के साथ स्वास्थ्यकर्मी और सफाईकर्मी भी नजर आए, जिन पर कस्बे के लोगों ने घरों से निकलकर पुष्प वर्षा कर पुलिस प्रशासन जिन्दाबाद के नारे लगाए. यह सब देख हमेशा विवादो में रहने वाले इंस्पेक्टर केशव द्विवेदी फूले नहीं समा रहे थे. इसके पूर्व में इंस्पेक्टर पर हत्यारोपी को वीआईपी ट्रीटमेंट के साथ कोर्ट ले जाने का वीडियों वायरल हुआ था. बावजूद इसके उन पर कोई कार्रवाई नहीं की गई. अब देखना होगा कि क्या विभाग अपने मातहत पर कार्रवाई करता है.

सैकड़ों लोगों ने किया लॉकडाउन का उल्लंघन
रानी की सराय कस्बे में स्थानीय लोगों द्वारा सम्मान समारोह का कार्यक्रम रखा गया. फूलों की वर्षा और सम्मान के लोभ में रानी की सराय के प्रभारी निरीक्षक केशव द्धिवेदी सीएम के फरमानों और कोरोना के खतरे को भूल गए और सम्मान और पुष्पवर्षा के लिए अपने मातहतों के साथ सड़कों पर उतर आए. देखते ही देखते सैकड़ों लोगों ने लॉकडाउन का उल्लंघन किया और सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई. सम्मान के लोभ में थाने के इंस्पेक्टर केशव द्धिवेदी ने इसे अनदेखा कर अपना सम्मान कराते रहे.



वीआईपी ट्रीटमेंट के साथ हत्यारोपी को कोर्ट ले जा चुके हैं इंस्पेक्टर
इसी दौरान जुलूस में शामिल एक युवक ने कार्यक्रम का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. बता दें कि, इससे पहले इंस्पेक्टर पर हत्यारोपी को वीआईपी ट्रीटमेंट के साथ कोर्ट ले जाने का वीडियो वायरल हुआ था. बावजूद उन पर कोई कार्रवाई नहीं की गई. अब देखना होगा कि क्या विभाग अपने मातहत पर कार्रवाई करता है. इस मामले में पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह का कहना है कि मामला संज्ञान में आया है. मामले की जांच एसपी सिटी पंकज पाण्डेय को सौंपी गयी है. जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें - 

कोटा से छात्रों को वापस लाने की व्यवस्था कर रही है दिल्ली सरकार- केजरीवाल

झांसा देने पिता को एंबुलेंस से ले गया दिल्ली, शादी कर घर लौटते ही खुली पोल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज