होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /आजमगढ़ में अपहरणकर्ता और पुलिस के बीच मुठभेड़, गोली लगने से आरोपी घायल

आजमगढ़ में अपहरणकर्ता और पुलिस के बीच मुठभेड़, गोली लगने से आरोपी घायल

अभियुक्त को इलाज के लिए जिला अस्पताल से वाराणसी के लिए रेफर कर दिया गया. इस मामले में पुलिस द्वारा तीन अन्य अभियुक्त को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.

अभियुक्त को इलाज के लिए जिला अस्पताल से वाराणसी के लिए रेफर कर दिया गया. इस मामले में पुलिस द्वारा तीन अन्य अभियुक्त को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.

UP Police: पूछताछ में अभियुक्त मनीष ने बताया कि अवधेश कुमार के परिवार द्वारा सन 2011 में उसके नाना की हत्या कर दी गई थी ...अधिक पढ़ें

आजमगढ़. आजमगढ़ जिले (Azamgarh District) के रानी  की सराय थाना क्षेत्र (Sarai Police Station Area) में दो दिन पूर्व एक 5 वर्षीय बालक का अपहरण कर हत्या करने के मामले में आरोपी अभियुक्त की रविवार को पुलिस से मुठभेड़ हो गयी. मुठभेड़ (Encounter) में पुलिस की गोली से आरोपी घायल हो गया. पुलिस ने उसके कब्जे से तमंचा व कारतूस बरामद किया है. पुलिस की गोली लगने से घायल अभियुक्त को बेहतर इलाज के लिए हायर सेंटर वाराणसी रेफर कर दिया गया है. वहीं, आरोपी की निशानदेही (Spotting) पर पुलिस ने आरोपी के मकान से बोरे में भरकर छिपाये गये मामूस के शव को भी बरामद कर लिया है. जबकि इस घटना में तीन अन्य लोगों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

रानी की सराय थाना क्षेत्र के जगरनाथ की सराय निवासी अवधेश कुमार शुक्रवार की रात पुलिस को सूचना दिये की उनके पांच वर्षीय पुत्र घर के बाहर खेलते हुए शाम से लापता हो गया. पुलिस द्वारा गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी गई. पीड़ित द्वारा पुलिस को सूचना दी गई कि शनिवार को व्हाट्सएप के मैसेज द्वारा उनसे पैसे की मांग की गई. पुलिस द्वारा मामले में टीम गठित कर वादी के पड़ोसी मनीष को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया. पूछताछ में अभियुक्त मनीष ने बताया कि वादी अवधेश कुमार के परिवार द्वारा सन 2011 में उसके नाना की हत्या कर दी गई थी, जिस मामले में रानी की सराय थाना मुकदमा दर्ज हुआ था और 11अभियुक्त जेल भी गए थे.

हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है
इस घटना का बदला लेने के लिए उसने अवधेश के बेटे को टॉफी खिलाने के बहाने घर के अंदर ले जाकर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी और शव को बोरे के अंदर भर कर बारजे के ऊपर छिपा दिया. पुलिस द्वारा अभियुक्त की निशानदेही पर शव को बरामद करते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया. पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया कि इस दौरान अभियुक्त द्वारा छिपाए गए असलहे से पुलिस टीम पर फायर कर दिया गया. आत्मरक्षार्थ पुलिस द्वारा चलाई गई गोली में अभियुक्त घायल हो गया. अभियुक्त के बाएं पैर में गोली लगी है. अभियुक्त को इलाज के लिए जिला अस्पताल से वाराणसी के लिए रिफर कर दिया गया. इस मामले में पुलिस द्वारा तीन अन्य अभियुक्त को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.

आपके शहर से (आजमगढ़)

आजमगढ़
आजमगढ़

Tags: Azamgarh news, Azamgarh Police, Murder, Uttar pradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें