आजमगढ़: पूर्व दलित जिला पंचायत सदस्य की दिन-दहाड़े हत्या

जिले के जहानागंज थाना क्षेत्र के मंदे गांव के रहने वाले पूर्व जिला पंचायत सदस्य मुसाफिर राम अपने चट्टी मंदे बाजार में बैठे हुए थे कि अचानक बाईक सवार तीन बदमाश पहुंचे और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 16, 2018, 2:25 PM IST
आजमगढ़: पूर्व दलित जिला पंचायत सदस्य की दिन-दहाड़े हत्या
एसपी सिटी, आजमगढ़ सुभाष चंद्र गंगवार. Photo: News 18
News18 Uttar Pradesh
Updated: May 16, 2018, 2:25 PM IST
आजमगढ़ जिले में अपराधियो के हौसले इस कदर बुलन्द हैं कि न तो उन्हें कानून का डर है और न ही खाकी का खौफ. दिनदहाड़े बाइक सवार बदमाशो ने पूर्व दलित जिला पंचायत सदस्य की ताबड़तोड़ गोली मारकर हत्या कर दी और असलहा लहराते हुए फरार हो गये. मामले में पुलिस ने 6 के खिलाफ केस दर्ज किया है लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है.

जिले के जहानागंज थाना क्षेत्र के मंदे गांव के रहने वाले पूर्व जिला पंचायत सदस्य मुसाफिर राम अपने चट्टी मंदे बाजार में बैठे हुए थे कि अचानक बाईक सवार तीन बदमाश पहुंचे और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी. हमले में गोली लगने से पूर्व जिला पंचायत सदस्य मुसाफिर राम की मौके पर ही मौत हो गई. घटना से इलाके में हड़कंप मच गया.

इसके बाद नाराज ग्रामीणो ने परिजनो के साथ शव को रखकर सड़क जाम कर दिया. काफी देर तक हंगामा होता रहा. उधर हंगामे की खबर सुनकर मौके पर पहुंचे एसपी सिटी सुभाष चंद्र गंगवार ने किसी तरफ मामले को शांत करा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा. एसपी सिटी का कहना है पूर्व जिला पंचायत सदस्य का पुरानी रंजिश चल रही थी. प्रथम दृश्टया पुरानी रंजिश में हत्या की आशंका है. पुलिस ने नामजद 6 आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है. आरोपियों की तलाश की जा रही है.

(रिपोर्ट: उपेंद्र द्विवेदी)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर