आजमगढ़: क्षेत्र पंचायत सदस्य की गोली मारकर हत्या, आक्रोशित लोगों ने की तोड़फोड़, वाहनों में लगाई आग

सोमवार की रात करीब 9.30 बजे निजामाबाद थाना क्षेत्र के नेवादा बाजार में वर्चश्व की लड़ाई में दो पक्ष आपस में भिड़ गए. (सुरेंद्र यादव की फाइल फोटो)

सोमवार की रात करीब 9.30 बजे निजामाबाद थाना क्षेत्र के नेवादा बाजार में वर्चश्व की लड़ाई में दो पक्ष आपस में भिड़ गए. (सुरेंद्र यादव की फाइल फोटो)

निजामाबाद थाना क्षेत्र के बड़हरिया गांव (Badhariya Village) में एक सप्ताह पूर्व दो पक्षों में विवाद हुआ था. इसी में विवाद बढ़ने पर नेवादा गांव निवासी क्षेत्र पंचायत सदस्य सुरेंद्र यादव (35 साल) की गोली मार कर हत्‍या कर दी गई.

  • Share this:
आजमगढ़. उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में क्राइम कंट्रोल के सारे दावे फेल हो गए हैं. जिले में एक हफ्ते के भीतर हुई तीसरी हत्या से दहशत का माहौल है. सोमवार की रात करीब 9.30 बजे निजामाबाद थाना (Nizamabad Police Station) क्षेत्र के नेवादा बाजार (Nevada market) में वर्चस्‍व की लड़ाई में दो पक्ष आपस में भिड़ गए. इस दौरान क्षेत्र पंचायत सदस्य की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. हत्या (Murder) से आक्रोशित क्षेत्र पंचायत सदस्य के समर्थकों ने बाजार में खड़े आरोपियों के तीन वाहन फूंक दिये. वहीं, विपक्षियों के घर पर जमकर पथराव व तोड़फोड़ की. घटना की जानकारी होने पर डीआईजी और पुलिस अधीक्षक कई थानों की फोर्स के साथ मौके पहुंच गए. घटना को लेकर बाजार में भारी तनाव है. चप्पे-चप्पे पर पुलिस और पीएसी के जवान तैनात कर दिए गये हैं. डीआईजी ने दावा किया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए आधा दर्जन टीमें गठित कर दी गयी हैं. हत्यारोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्‍ट और एनएसए के तहत कार्रवाई की जाएगी.

जानकारी के मुताबिक, निजामाबाद थाना क्षेत्र के बड़हरिया गांव में एक सप्ताह पूर्व दो पक्षों में विवाद हुआ था. इसमें एक पक्ष के लोग नेवादा गांव निवासी क्षेत्र पंचायत सदस्य सुरेंद्र यादव पुत्र फौजदार यादव के करीबी थे. सुरेंद्र अपने करीबी पक्ष की थाने में पैरवी कर रहा था. इससे दूसरे पक्ष के लोग नाराज थे. वहीं, सुरेंद्र यादव इस बार प्रधानी चुनाव लड़ने की भी तैयारी कर रहा था. इससे गांव में भी चुनावी रंजिश चरम पर थी. स्थानीय लोगों के मुताबिक, सोमवार की रात करीब 9.30 बजे नेवादा बजार में कुछ लोेग बैठकर पंचायत चुनाव पर चर्चा कर रहे थे. उसी दौरान विवाद हो गया. तभी कुछ लोगों ने क्षेत्र पंचायत सदस्य सुरेंद्र यादव को गोली मार दी. गंभीर रूप से घायल बीडीसी सदस्य को स्थानीय लोगों की मदद से जिला अस्पताल भेजा गया, लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गयी.

तीन बाइकों को आग के हवाले कर दिया

सुरेंद्र की मौत की सूचना मिलते ही लोग आक्रोशित हो उठे और हमलावरों की तीन बाइकों को आग के हवाले कर दिया गया. इस दौरान एक आरोपी के घर पर भी पथराव किया गया. घटना की जानकारी होते ही थानाध्यक्ष निजामाबाद भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए. जब उन्हें लगा कि हालात बेकाबू हो रहे हैं तो घटना की जानकारी आलाधिकारियों को दी. इसके बाद पुलिस उपमहानिरीक्षक सुभाष चंद दुबे और पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह भारी फोर्स व पीएसी के जवानों के साथ मौके पर पहुंच गए.
 चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनात

पुलिस के पहुंचने के बाद भीड़ तितर बितर हो गयी. चप्पे- चप्पे पर फोर्स तैनात है. पुलिस उपमहानिरीक्षक आजमगढ़ परिक्षेत्र सुभाष चंद दुबे ने बाताया कि वर्चस्‍व की लड़ाई में सुरेंद्र की हत्या की गयी है. परिजनों की तहरीर पर एफआईआर दर्ज की जा रही है. आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए आधा दर्जन टीमों का गठन कर दिया गया है. उनके संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है. साथ ही उनके खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट व एनएसए के तहत कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज