Home /News /uttar-pradesh /

गैंगस्टर मुख्तार अंसारी की करोड़ों की प्रॉपर्टी पर प्रशासन की निगाह, लखनऊ के एसडीएम ने खंगाली संपत्ति

गैंगस्टर मुख्तार अंसारी की करोड़ों की प्रॉपर्टी पर प्रशासन की निगाह, लखनऊ के एसडीएम ने खंगाली संपत्ति

कुछ दिन पहले ही जालसाजी के मामले में पुलिस ने मुख्तार के खिलाफ चार्जशीट भी दाखिल की है. (File Photo)

कुछ दिन पहले ही जालसाजी के मामले में पुलिस ने मुख्तार के खिलाफ चार्जशीट भी दाखिल की है. (File Photo)

Property : एसडीएम की पड़ताल के बाद उम्मीद की जा रही है कि बहुत जल्द ही माफिया मुख्तार अंसारी की करोड़ों की संपत्ति पुलिस जब्त कर लेगी. रिपोर्ट के मुताबिक राजधानी लखनऊ के हुसैनगंज में माफिया मुख्तार अंसारी ने अवैध कमाई से करोड़ों की जमीन अर्जित की है.

अधिक पढ़ें ...

आजमगढ़ : बांदा जेल में बंद गैंगस्टर मुख्तार अंसारी की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं. आजमगढ़ के एसपी की रिपोर्ट पर लखनऊ के एसडीएम ने गुरुवार को मुख्तार अंसारी की संपत्ति खंगाली. बताया गया कि मुख्तार अंसारी की पत्नी आयशा खान के नाम से लखनऊ के हुसैनगंज में करोड़ों की संपत्ति है. इनमें से एक प्रापर्टी के एक हिस्से में माफिया की पत्नी पेट्रोल पंप चला रही है. एलडीए का कहना है कि जिस जमीन पर पेट्रोल पंप चल रहा है, उसका अभी लीज एग्रीमेंट भी नहीं हुआ है.

इस सूचना के बाद प्रशासन इस पेट्रोल पंप और जमीन के कागजात को खंगालने में जुट गया है. उम्मीद की जा रही है कि बहुत जल्द ही माफिया मुख्तार अंसारी की करोड़ों की संपत्ति पुलिस जब्त कर लेगी. रिपोर्ट के मुताबिक राजधानी लखनऊ के हुसैनगंज में माफिया मुख्तार अंसारी ने अवैध कमाई से करोड़ों की जमीन अर्जित की है.

इन्हें भी पढ़ें :
CM योगी आदित्यनाथ ने पुलिसकर्मियों को दिया तोहफा, पौष्टिक आहार भत्ता 25 फ़ीसदी बढ़ाया
Priyanka Gandhi का बड़ा ऐलान, यूपी में सरकार बनने पर इंटर पास छात्राओं को स्मार्टफोन तो ग्रेजुएट लड़कियों को मिलेगी स्कूटी

बता दें कि इससे पहले बीते सोमवार को सीजेएम रवि कुमार गुप्ता की अदालत में पुलिस ने जालसाजी के एक मामले में आरोपी मुख्तार अंसारी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी. कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई 2 नवंबर को तय की है. चार्जशीट दाखिल करने के दौरान आरोपी मुख्तार अंसारी को बांदा जेल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश भी किया गया था. आपको याद होगा कि 27 अगस्त 2020 को प्रभारी लेखपाल सुरजन लाल ने लखनऊ की हजरतगंज कोतवाली में मुख्तार अंसारी और उसके दोनों बेटों अब्बास और उमर के खिलाफ फर्जी कागजातों से निष्क्रान्त जमीन पर कब्जा करने और आपराधिक साजिश रच अवैध निर्माण करने की एफआईआर दर्ज कराई थी. ये एफआईआर धोखाधड़ी, जालसाजी और आपराधिक साजिश की धाराओं 120 बी, 420 ,467, 468 और 471 के साथ सार्वजनिक संपत्ति निवारण अधिनियम की धारा में लिखाई गई थी.

Tags: Lucknow news, Mukhtar ansari, Mukhtar Ansari News

अगली ख़बर