आजमगढ़: हॉस्टल में MBBS की छात्रा ने फांसी लगाकर दी जान

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है. पुलिस के मुताबिक, आत्महत्या का कारण नहीं पता चल सका है.


Updated: June 26, 2018, 10:51 AM IST
आजमगढ़: हॉस्टल में MBBS की छात्रा ने फांसी लगाकर दी जान
ग्राफिक्स पिक

Updated: June 26, 2018, 10:51 AM IST
आजमगढ़ के जहानागंज इलाके के चक्रपानपुर स्थित राजकीय मेडिकल काॅलेज में फाइनल इयर की छात्रा आकांक्षा सिंह ने सोमवार देर शाम हाॅस्टल के कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी. उसका शव दुपट्टे के सहारे पंखे से लटका मिला. सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है. पुलिस के मुताबिक, आत्महत्या का कारण नहीं पता चल सका है, छात्रा वाराणसी के नेवादा सुंदरपुर की रहने वाली थी.

बता दें कि चक्रपानपुर राजकीय मेडिकल काॅलेज के गर्ल्स हास्टल के एस-13 नंबर कमरे में एमबीबीएस फाइनल ईयर की छात्रा आकांक्षा अकेले ही रहती थी. शाम को एक छात्रा ने आकांक्षा के कमरे में आवाज लगाई. दरवाजा नहीं खुलने पर खिड़की से देखा तो छात्रा का शव पंखे के सहारे दुपट्टे से लटक रहा था.

सीओ सदर मो अकमल ने बताया कि कमरे से सुसाइड नोट मिला है जिसमें अंग्रेजी में दो लाइन में लिखा है कि मैं अब इस दुनिया में नहीं रहना चाहती हूं, इसलिए अपना जीवन समाप्त कर रही हूं. मेडिकल काॅलेज के प्रबंधन ने बताया कि आकांक्षा के पिता बेचन सिंह यूपी पुलिस में तैनात हैं. फिलहाल पुलिस घटना की जांच में जुट गई है.

यह भी पढ़ें:

जांच में नहीं मिले तन्वी सेठ के लखनऊ में रहने के साक्ष्य, रद्द हो सकता है पासपोर्ट

देखिए उत्तर प्रदेश के इस चर्चित 'एक्सप्रेस वे' की खौफनाक तस्वीरें

राम की कृपा होगी तो बनकर ही रहेगा राम मंदिर: योगी आदित्यनाथ
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर