आजमगढ़ में पंचायत के सामने मां-बेटी के समर्थकों ने चलाए ईंट-पत्थर

गोली लगने से ग्रामप्रधान मनीष राय के परिवार के दो लोग घायल हो गए, घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है


Updated: May 29, 2018, 10:40 PM IST

Updated: May 29, 2018, 10:40 PM IST
आजमगढ़ के गंभीरपुर थाना क्षेत्र के अमौड़ा गांव में मां-बेटी के बीच पट्टा की भूमि को लेकर विवाद था. मामले में सुलह-समझौता कराने के लिए गांव के प्रधान और कुछ अन्य लोग आ गए. पंचायत के सामने मां व बेटी के समर्थक आपस में भिड़ गए. दोनों पक्षों में ईंट-पत्थर चलने के बाद एक पक्ष ने फायर कर दिया.

गोली लगने से ग्रामप्रधान मनीष राय के परिवार के दो लोग घायल हो गए. घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.  घायलों की हालत गंभीर देख डॉक्टर ने हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया. घटना में घायल ग्राम प्रधान के चाचा की उपचार के दौरान मौत हो गई जबकि एक की हालत अभी भी गंभीर है.

ग्राम प्रधान मनीष राय ने कुछ भूमि पुष्पा देवी के नाम पर पट्टा किया था. पट्टे की भूमि को लेकर पुष्पा देवी का बेटी से विवाद हो गया था. गांव के प्रधान समर्थक बेटी के पक्ष में थे और कुछ लोग मां के पक्ष में थे. भूमि विवाद को लेकर दोपहर में मां और बेटी का आपस में विवाद हो गया. ऐसी स्थिति में बीच-बचाव व समझौते के लिए दोनो पक्षों के लोग मौके पर आ गए.

देखते ही देखते दोनों पक्षों भिड़ गए. ईंट पत्थर चलने के बाद एक पक्ष ने फायर कर दिया. गोली लगने से दिनेश राय और उमाशंकर राय घायल हो गए. घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घायल दिनेश की उपचार के दौरान मौत हो गयी. वहीं इस मामले में पुलिस अधीक्षक नगर (एसपी सिटी) सुभाष गंगवार का कहना है कि मृतक के परिजनों द्वारा मिली तहरीर के अनुसार नामजद मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

एसपी सिटी ने आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए सीओ सदर के नेतृत्व में टीम गठित कर दी है. छापेमारी की जा रही है. आरोपी जल्द पुलिस की गिरफ्त में होंगे. वहीं थाना पुलिस पर लापरवाही के आरोप की जांच की जा रही है. दोषी पाए जाने पर ठोस कार्रवाई होगी.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर