लाइव टीवी

EXCLUSIVE: यश भारती देने वाले अखिलेश के विचारों से मैं सहमत नहीं- निरहुआ

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 4, 2019, 9:39 AM IST
EXCLUSIVE: यश भारती देने वाले अखिलेश के विचारों से मैं सहमत नहीं- निरहुआ
अखिलेश यादव के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं निरहुआ

आजमगढ़ सीट से बीजेपी प्रत्याशी निरहुआ का कहना है कि एक तरफ गठबंधन के लोग निजी स्वार्थ के लिए चुनाव लड़ रहे हैं वहीं दूसरी तरफ बीजेपी है जो नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने के लिए चुनाव लड़ रही है.

  • Share this:
भोजपुरी के सुपरस्टार दिनेशलाल यादव( निरहुआ) ने न्यूज 18 से एक्सक्लूसिव बातचीत में चुनाव से जुड़े कई मुद्दों पर चर्चा की. आजमगढ़ सीट से बीजेपी प्रत्याशी निरहुआ का कहना है कि एक तरफ गठबंधन के लोग निजी स्वार्थ के लिए चुनाव लड़ रहे हैं वहीं दूसरी तरफ बीजेपी है जो नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने के लिए चुनाव लड़ रही है.

आजमगढ़ में निरहुआ सपा प्रमुख अखिलेश यादव को टक्कर दे रहे हैं. इस पर जब निरहुआ से सवाल पूछा गया कि आपको अखिलेश यादव ने ही यश भारती पुरस्कार से सम्मानित किया था आज आप उनके ही खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं. तो निरहुआ ने जवाब दिया कि अब बात विचारों की आ गयी है और मैं अखिलेश यादव के विचारों से सहमत नहीं हूं. आगे निरहुआ ने कहा कि जो गठबंधन बनाया है और चाहते हैं कि नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री न बने उनके इस विचार से मैं सहमत नहीं हूं, मुझे उनसे लड़ने से कोई गुरेज नहीं है.

आजमगढ़ से टिकट मिलने पर दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' बोले- अखिलेश मेरे बड़े भाई

आपको बता दें कि  निरहुआ भी अब चौकीदार हो गए हैं. आजमगढ़ से टिकट मिलते ही एक हफ्ते पहले ट्विटर पर एंट्री करने वाले निरहुआ ने अपने नाम के आगे बुधवार को चौकीदार भी जोड़ लिया. इतना ही नहीं आजमगढ़ से पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को बड़ा भाई बताते हुए उन्‍होंने सलाह दी कि वह सैफई संभालें, हम आजमगढ़ संभालेंगे. आपको बता दें कि मैं भी चौकीदार कैम्पेन पीएम नरेंद्र मोदी ने शुरू किया था, जिसमें बीजेपी के समस्त नेताओं ने सोशल मीडिया पर अपने नाम के आगे चौकीदार जोड़ लिया था.

आजमगढ़ से टिकट मिलते ही निरहुआ बने 'चौकीदार', कहा- सैफई संभालें अखिलेश

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए आजमगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 4, 2019, 9:39 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर