होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /निरहुआ के लिए PM मोदी ने मांगा वोट, कहा- अब आजमगढ़ का नाम आतंकियों से नहीं जुड़ता

निरहुआ के लिए PM मोदी ने मांगा वोट, कहा- अब आजमगढ़ का नाम आतंकियों से नहीं जुड़ता

पीएम नरेंद्र मोदी आजमगढ़ में जनसभा को संबोधित करते हुए

पीएम नरेंद्र मोदी आजमगढ़ में जनसभा को संबोधित करते हुए

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि महामिलावटी सरकार में आजमगढ़ की अनदेखी की गई. इनकी सरकारों के कारण आजमगढ़ का नाम आतंक ...अधिक पढ़ें

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को बीजेपी प्रत्याशी और भोजपुरी सुपरस्टार दिनेश लाल यादव उर्फ़ निरहुआ के समर्थन में जनसभा को संबोधित करने आजमगढ़ की सरजमीं पर पहुंचे. इस दौरान उन्होंने आतंकवाद के मुद्दे के साथ ही विपक्ष पर भी निशाना साधा. पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र में उनकी सरकार बनने के बाद आजमगढ़ का नाम कभी आतंकियों से नहीं जुड़ा.

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'महामिलावटी सरकार में आजमगढ़ की अनदेखी की गई. इनकी सरकारों में आजमगढ़ का नाम आतंकियों से जुड़ा. इन लोगों ने आतंकवाद में भी धर्म देखा. जब भी कोई आतंकी हमला होता था, तो उसके तार खोजते हुए एजेंसियां आज़मगढ़ पहुंच जाती थीं. आखिर ऐसा क्यों हो रहा था? क्या वजह थी? यहां जो सपा और बसपा के नेता थे, जो दिल्ली में सरकार थी वो सिर्फ वोट के लिए आतंक के मददगारों को पनाह दे रहे थे. कार्रवाई के समय पर आतंकियों का भी जात-पात और संप्रदाय देखा जाता था. वर्ष 2014 के बाद से आजमगढ़ का नाम कभी आतंकवाद से नहीं जुड़ा.'

    महामिलावटी का मतलब भी समझाया

    पीएम ने कहा, 'एक महामिलावटी सरकार का मतलब है- देश में अराजकता और अस्थिरता. इन लोगों द्वारा फैलाई गई अस्थिरता देश ने बीस साल पहले भी देखी थी, जब संयुक्त मोर्चा नाम की सरकार सत्ता में थी. उस दौर में जो अस्थिरता थी, उसका परिणाम यह हुआ कि भारत को बार-बार चुनाव का सामना करना पड़ा. इसके बाद 2004 से लेकर 2014 तक फिर देश ने ऐसी महामिलावटी सरकार देखी, जिसने भारत को दुनिया में शर्मिंदा किया. कांग्रेस के दस साल के शासन में ऐसा कोई क्षेत्र नहीं था, जहां घोटाले और घपले नहीं हुए. जब भ्रष्ट और मजबूर सरकार होती है, तो वो चुनौतियों से नहीं लड़ पाती. वोट बैंक और जातीय समीकरण की राजनीति करने वालों ने देश को खतरे में डाल दिया था. इन्हीं लोगों ने पाकिस्तान को भारत पर हावी होने का मौका दिया. हमने पाकिस्तान में घुसकर आतंकियों पर प्रहार किया है. कभी हमारे साथ दुनिया खड़ी होने में झिझकती थी, आज मसूद अजहर जैसे आतंकी के खिलाफ पूरी दुनिया हमारे पक्ष में खड़ी हो जाती है. ये होता है, मजबूत सरकार का मतलब.'

    5 साल में किया गया विकास

    पीएम मोदी ने कहा, 'बीते 5 वर्ष में तुष्टिकरण और वोटबैंक की राजनीति किए बिना देश के विकास का काम किया गया है जो दशकों से अपने जीवन में मूलभूत सुविधाएं पाने के इंतजार में था, उसके लिए काम किया गया है. उज्ज्वला योजना के तहत गरीबों को मुफ्त गैस कनेक्शन देना हो, सौभाग्य योजना के तहत मुफ्त बिजली कनेक्शन देना हो, ये चिंता भाजपा की ही सरकार ने की है. हमारी सरकार 2022 तक देश के हर गरीब परिवार को अपना पक्का घर देने के संकल्प पर काम कर रही है.'

    विपक्षियों पर हमला

    पीएम मोदी ने कहा, 'कांग्रेस, सपा और बसपा ने जात-पात के आधार पर आपसे वोट मांगे, लेकिन कभी आपके स्वास्थ्य की चिंता नहीं की. आपके इस सेवक ने हर गरीब परिवार को, चाहे वो किसी भी जात-बिरादरी का हो, उसको हर वर्ष 5 लाख रुपए तक के मुफ्त इलाज की सुविधा सुनिश्चित की है. आज स्मार्ट फोन बहुत सस्ते हुए हैं, क्योंकि आज देश में ही मोबाइल फोन बन रहे हैं. इसी तरह आज मोबाइल का इंटरनेट डेटा पूरी दुनिया में सबसे सस्ता भारत में है. ये काम पहले भी हो सकता था. लेकिन पहले जो सपा-बसपा के सहयोग से केंद्र में महामिलावटी सरकार चल रही थी, वो घोटाले करने में व्यस्त थी. उसने 2G घोटाला किया, तभी उसके राज में फोन करना और मोबाइल फोन का उपयोग करना महंगा था.'

    ये भी पढ़ें-

    'पाकिस्तान के टुकड़े होने पर जब इंदिरा की जयकार हो सकती है तो बालाकोट के लिए मोदी की क्यों नहीं'



    भोजपुरी स्टार निरहुआ एक फिल्म के लिए लेते हैं इतनी फीस, अब तक की 45 फिल्में

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsAppअपडेट्स

    आपके शहर से (आजमगढ़)

    आजमगढ़
    आजमगढ़

    Tags: Azamgarh news, Azamgarh S24p69, Dinesh Lal Yadav, Lok Sabha Election 2019, Pm narendra modi

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें