लाइव टीवी

अखिलेश यादव के लापता होने के पोस्टर के बाद Congress पर सपा का पलटवार
Azamgarh News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 8, 2020, 6:41 PM IST
अखिलेश यादव के लापता होने के पोस्टर के बाद Congress पर सपा का पलटवार
समाजवादी पार्टी के पूर्व मंत्री राम मूर्ति वर्मा ने बिलरियागंज के पीड़ितों से की मुलाकात

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के पूर्व मंत्री का कहना है कि कांग्रेस (Congress) को बीजेपी (BJP) से लड़ने में डर लगता है इसलिए उसने सपा से लड़ना शुरू कर दिया. रहा सवाल पोस्टर लगाने का तो कांग्रेस के लोगों ने होश खो दिया है....

  • Share this:
आजमगढ़. कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ (Congress minority cell) द्वारा पूर्व सीएम अखिलेश यादव (former UP CM Akhilesh Yadav) के लापता होने का पोस्टर लगाने के बाद अब समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) भी हमलावर हो गयी है. अखिलेश सरकार में मंत्री रहे राममूर्ति वर्मा ने शनिवार को कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस होशो-हवास खो चुकी है. क्योंकि होश में रहने वाला व्यक्ति इस तरह का काम नहीं कर सकता साथ ही उन्होंने कांग्रेस को नसीहत दी कि वह अपने वजूद को बचाने के लिए संघर्ष करे.

होश खो चुकी है कांग्रेस
बता दें कि समाजवादी पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को पूर्व मंत्री राममूर्ति वर्मा के नेतृत्व में बिलरियागंज जाकर एनआरसी व सीएए को लेकर हुए बवाल में घायल लोगों और आरोपियों के परिवार के लोगों से मुलाक़ात कर उनका हालचाल जाना. जिला मुख्यालय लौटने के बाद जब पूर्व मंत्री को अखिलेश यादव के खिलाफ पोस्टर वार की जानकारी हुई तो उन्होंने कांग्रेस पर खुलकर पलटवार किया. मीडिया से बात करते हुए श्री वर्मा ने कहा कि वैसे तो हम कांग्रेस के बारे में बहुत कुछ बोलना नहीं चाहते. बस इतना ही कहेंगे कि उन्हें अपना वजूद बचाने के लिए काम करना चाहिए. दुर्भाग्य यह है कि कांग्रेस को बीजेपी से लड़ने में डर लगता है इसलिए उसने सपा से लड़ना शुरू कर दिया. रहा सवाल पोस्टर लगाने का तो कांग्रेस के लोगों ने होश खो दिया है क्योंकि होशो-हवास में कोई व्यक्ति इस तरह का कृत्य नहीं कर सकता है.

एनआरसी और सीएए के खिलाफ सपा लड़ेगी

उन्होंने caa protest के दौरान घायल लोगों के व आरोपियों के बारे में बोलते हुए कहा कि हमने बिलरियागंज जाकर देखा है वहां पुलिस द्वारा एकतरफा कार्रवाई की गयी है इस बवाल में एक भी ग्रामीण दोषी नहीं है. पुलिस वालों ने जिस तरह महिलाओं और बच्चों पर ईंट-पत्थर चलाया तथा लाठियों से पीटा है उससे साफ है कि सब कुछ सत्ता के इशारे पर किया गया. दर्जनों बच्चे ऐसे हैं जिनकी हाई-स्कूल की परीक्षा है लेकिन उन्हें या तो बंद कर दिया गया है या फिर एफआईआर दर्ज कर परेशान किया जा रहा है. पुलिस ने 35 नामजद के साथ सौ से अधिक अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा किया है. अब अज्ञात के नाम पर लोगों के घर में घुसकर उन्हें परेशान कर रही है. उनका कहना था कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पहले ही साफ कर चुके हैं कि एनआरसी (NRC) और सीएए (CAA) के खिलाफ सपा लड़ेगी. सपा सभी जिला मुख्यालयों पर धरना प्रदर्शन कर चुकी है.

ये भी पढ़ें- अखिलेश यादव के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में लगे पोस्टर, लिखा- चुनाव के बाद से हैं लापता

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए आजमगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 8, 2020, 6:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर