शबाना आजमी ने आजमगढ़ में शुरू की पिता को समर्पित फिल्म "मी रक्सम" की शूटिंग
Azamgarh News in Hindi

शबाना आजमी ने आजमगढ़ में शुरू की पिता को समर्पित फिल्म
फिल्म का हुआ शुभ मुहूर्त

मुहूर्त के बाद शबाना आजमी ने मशहूर नारा 'कमाने वाला खाएगा, लूटने वाला जाएगा' लगवाया. कैफी आजमी की मूर्ति के सामने 'मी रकस्म' के प्रमुख किरदार दानिस हुसैन और बेटी के रोल में 14 वर्षिया अदिति शर्मा ने पहला इंस्क्रिप्ट पेश किया. फिल्म में पिता के रोल में दानिस हुसैन है.

  • News18India
  • Last Updated: January 17, 2019, 4:32 PM IST
  • Share this:
प्रख्यात सीनेतारिका शबाना आज़मी के आजमगढ़ स्थित पैतृक गांव मेज़वा में इन दिनों बॉलीवुड का प्रवास चल रहा है. दरअसल, गांव की तरक्की पर बन रही फीचर फिल्म 'मी रक्सम' की शूटिंग का शुभारंभ हुआ. फिल्म शबाना आजमी के पिता दिवंगत शायर क़ैफी आज़मी को समर्पित है. गुरूवार को फतेह मंजिल में कैफी आजमी की मूर्ति के सामने जिलाधिकारी अज़ामगढ़ ने फिल्म का शुभ मुहूर्त किया.

मुहूर्त के बाद शबाना आजमी ने मशहूर नारा 'कमाने वाला खाएगा, लूटने वाला जाएगा' लगवाया. कैफी आजमी की मूर्ति के सामने 'मी रकस्म' के प्रमुख किरदार दानिस हुसैन और बेटी के रोल में 14 वर्षिया अदिति शर्मा ने पहला इंस्क्रिप्ट पेश किया. फिल्म में पिता के रोल में दानिस हुसैन है.

पिता और पुत्री के बीच यह कहानी काफी रोमांचक है. बेटी के जीवन में तमाम तरह के सामाजिक बंधन है. बावजूद इसके बेटी समाज को एक नई दिशा दिखाने का काम करना चाह रही है. 15 से 20 मिनट की इस मुहूर्त शूटिंग के दौरान आज़मी परिवार की आंखें नम हो गई. ख़ास बात यह है कि शबाना आज़मी के आग्रह पर आजमगढ़ के लोकप्रिय जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी की पत्नी अर्चना ने कैमरे को ऑन किया और डीएम ने फिल्म का शुभ मुहूर्त किया. शबाना आज़मी के भाई प्रख्यात सीने फोटो ग्राफर बाबा आज़मी के मुताबिक अब्बू के जीवनकाल में खुद उन्होंने अपने बेटे बाबा आज़मी से इजहार किया था कि क्या मेज़वा गांव में इस तरह की कोई फिल्म बनाई जा सकती है? अपने पिता शायर क़ैफी आज़मी के जज्बातों के मद्देनजर उनकी ख़्वाहिशों को पूरा करने के लिए गांव में इस फिल्म को शूट किया जा रहा है. यह शूटिंग क़ैफी आज़मी की स्वर्ण जयंती से लेकर लगभग दो माह तक चलेगी.



शूटिंग को देखने के लिए काफी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. जिलाधिकारी ने कहा कि मशहूर शायर के स्वर्ण जयंती पर मुझे आज शुभ मुहूर्त करने का जो मौका दिया गया है, मुझे बेहद खुशी हो रही है. फिल्म के बन जाने से उनके जीवन से लोग प्रेरित होंगे. शबाना आज़मी ने कहा आज़मी परिवार के लिए ये सबसे बड़ी उपलब्धि है, जो मेज़वा गांव में "मी रक्सम" बनाने का मौका मिला. यह फिल्म पूरी तरह से कामयाब होगी.
(रिपोर्ट: आशुतोष श्रीवास्तव)

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading