पिता ने सरे बाजार बेटे को लाठियों से पीटकर मार डाला, पुलिस ने चिता से शव को लिया कब्जे में
Azamgarh News in Hindi

पिता ने सरे बाजार बेटे को लाठियों से पीटकर मार डाला, पुलिस ने चिता से शव को लिया कब्जे में
पुलिस ने आरोपी पिता को हिरासत में लिया

बेटे की हरकतों से पिता हवलदार यादव काफी परेशान था. पूर्व में भी पिता और पुत्र में अक्सर विवाद और मारपीट होती थी. कहा जा रहा है कि पिता को रास्ते से हटाने के लिए बेटे नाटे ने उसकी हत्या की सुपारी दी थी ये बात जानने के बाद पिता ने उसको पीट-पीट कर मार डाला.

  • Share this:
आजमगढ़. जनपद में एक सनसनीखेज वारदात (Sensational incident) में पिता ने अपने ही बेटे को सरेबाजार लाठियों से पीट-पीट कर मार डाला. इतना ही नहीं उसके बाद वो बेटे के शव की अंत्येष्टि भी कर देता लेकिन गांव वालों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने बेटे के शव को चिता पर से कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेजा और साथ ही आरोपी पिता को हिरासत में लिया.

पिता के खिलाफ ग्राम प्रधान का चुनाव लड़ना चाहता था
रिपोर्ट के मुताबिक मेहनगर थाने के गद्दीपुर गांव के रहने वाले हवलदार यादव वर्तमान में ग्राम प्रधान हैं. उनके चार पुत्र हैं जिनमें तीसरा नाटे यादव था. बताया जा रहा है कि मृतक नाटे यादव शरारती किस्म का था और आये दिन किसी न किसी से उलझ जाता था. कहा जा रहा है कि उसे एक पूर्व एलएलसी का भी समर्थन प्राप्त था. नाटे इस बार के पंचायत चुनाव में प्रधानी का चुनाव भी पूर्व एमएलसी की शह पर लड़ना चाहता था. उसने अपने पिता हवलदार यादव के खिलाफ एक अच्छा-खासा गैंग भी तैयार कर लिया था. नाटे की हरकतों से पिता हवलदार यादव काफी परेशान था. पूर्व में भी पिता और पुत्र में अक्सर विवाद और मारपीट होती थी. कहा जा रहा है कि पिता को रास्ते से हटाने के लिए बेटे नाटे ने उसकी हत्या की सुपारी दी थी ये बात पिता को पता चली तो आग बबूला हो कर उसने बेटे की तलाश शुरू की और शुक्रवार को जब बाजार में उसे नशे में धुत बेटा नाटे यादव नजर आया उसने लाठी से पीट-पीट कर उसे मौत के घाट उतार दिया.

ये भी पढ़ें- कानपुर अपहरण और हत्याकांड: सीएम योगी का एक्शन, IPS अपर्णा, DSP मनोज सहित 4 निलंबित



उसने हत्या की जानकारी पुलिस को भी नहीं दी और अपने कुछ लोगों के साथ शव को ठिकाने लगाने के लिए गांव के बाहर ही चिता तैयार कर बेटे के शव का अंतिम संस्कार करने जा रहा था. लेकिन ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को चिता से अपने कब्जे में ले लिया. पुलिस अधीक्षक प्रो0 त्रिवेणी सिंह ने बताया कि सूचना के तत्काल बाद पुलिस मौके पर पहुंची. चिता से शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. आरोपी पिता को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. केस दर्ज कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिये गये हैं. साथ ही मृतक नाटे ने जिन लोगों को हवलदार यादव की हत्या की सुपारी दी थी उन तीनों शूटरों की भी पुलिस तलाश कर रही है. फिलहाल मामले की तफ्तीश जारी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज