Home /News /uttar-pradesh /

sp mla ramakant yadav make a strategy for bjp candidate arunkant yadav in up mlc polls nodark

UP MLC Election: बाहुबली MLA रमाकांत यादव की बेटे के लिए सपा से बगावत! भाजपा के साथ बनाई रणनीति

रमाकांत यादव ने फूलपुर पवई विधानसभा सीट से सपा के टिकट पर चुनाव जीता है.

रमाकांत यादव ने फूलपुर पवई विधानसभा सीट से सपा के टिकट पर चुनाव जीता है.

UP Legislative Council Election: यूपी विधान परिषद चुनाव में समाजवादी पार्टी के बाहुबली विधायक रमाकांत यादव (SP MLA Ramakant Yadav) का भाजपा खेमे में बैठकर रणनीति बनाने का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. दरअसल भाजपा ने उनके बेटे और फूलपुर पवई सीट के पूर्व विधायक अरुणकांत यादव (Arunkant Yadav) को आजमगढ़ सीट से मैदान में उतारा है.

अधिक पढ़ें ...

आजमगढ़. यूपी विधान परिषद चुनाव में समाजवादी पार्टी के बाहुबली विधायक रमाकांत यादव (SP MLA Ramakant Yadav) आजमगढ़ में भाजपा खेमे में बैठकर रणनीति बनाते नजर आए. दरअसल भाजपा ने फूलपुर पवई सीट के पूर्व विधायक अरुणकांत यादव को आजमगढ़-मऊ सीट से मैदान में उतारा है. इसके साथ कहा जा रहा है कि सपा के बाहुबली विधायक ने अपने बेटे को एमएलसी बनाने के लिए पार्टी से बगावत कर दी है. यही नहीं, रमाकांत यादव की भाजपा खेमे में बैठकर रणनीति बनाने का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

बता दें कि भाजपा के आजमगढ़-मऊ एमएलसी कैंडिडेट अरुणकांत यादव ने कुछ दिन पहले कहा था कि उनके पिता और फूलपुर पवई विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव जीतने वाले बाहुबली विधायक रमाकांत यादव भाजपा का जल्‍दी दामन थाम सकते हैं. वहीं, विधान परिषद चुनाव में भाजपा के खेमे में बैठकर रणनीति बनाने के बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि सपा को आजमगढ़ में बड़ा झटका लग सकता है.

अरुणकांत यादव की जगह भाजपा ने रामसूरत राजभर को दिया था टिकट
यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा ने फूलपुर पवाई विधानसभा सीट से विधायक अरुणकांत यादव का टिकट काटकर रामसूरत राजभर पर दांव खेला था. दरअसल सपा ने इस सीट से रमाकांत यादव को मैदान में उतारा था. वहीं, भाजपा ने पिता और बेटे की लड़ाई से बचने के लिए दूसरा कैंडिडेट उतारा था. वहीं, टिकट कटने के बाद अरुणकांत ने कहा था कि पार्टी ने मुझे एमएलसी चुनाव की तैयारी करने के लिए बोला है और मैं इसका पूरी तरह पालन करूंगा. इसके बाद वह एमएलसी चुनाव की तैयारी लग गए थे. वैसे भाजपा को 2017 के चुनाव में 21 साल बाद आजमगढ़ की सियासत में अरुणकांत यादव ने एकमात्र सीट दिलाई थी. जबकि इस बार के चुनाव में सपा ने जिले की सभी सीटों पर कब्‍जा किया है.

भाजपा ने MLC यशवंत सिंह को 6 साल के लिए किया निष्‍कासित
बहरहाल, विधानसभा चुनाव के बाद विधान परिषद चुनावों पर भाजपा का पूरा फोकस है. सीएम योगी साफ तौर पर कह चुके हैं कि सभी 36 सीटों पर पार्टी की जीत जरूरी है. इस वजह से आजमगढ़-मऊ से अपने एमएलसी यशवंत सिंह को पार्टी विरोधी काम करने के आरोप छह साल के लिए निष्‍कासित कर दिया था. बता दें कि सिंह के बेटे विक्रांत सिंह ने बागी होकर चुनाव लड़ा है.

Tags: Akhilesh yadav, Samajwadi party, UP Legislative Council Election 2022

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर