आजमगढ़ पंचायत चुनाव: BSP प्रत्याशी के काफिले पर पथराव, सपा के पूर्व मंत्री के प्रत्याशी बेटे पर आरोप

आजमगढ़ में बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी अरुण कुमार मिश्रा के वाहन पर हमला हुआ है.

आजमगढ़ में बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी अरुण कुमार मिश्रा के वाहन पर हमला हुआ है.

Azamgarh News: आजमगढ़ में बसपा समर्थित जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी अरुण कुमार मिश्रा के काफिले पर हमले से इलाके में तनाव है. प्रत्याशी का आरोप है कि पूर्व मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव के लोग कई बार मुझ पर बैठने का भी दबाव बना रहे थे. इसी दौरान मेरे ऊपर हमला हुआ है.

  • Share this:
आजमगढ़. उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ (Azamgarh) जिले में पंचायत चुनाव (Panchayat Chunav) का प्रचार कर रहे बहुजन समाज पार्टी (BSP) से अधिकृत प्रत्याशी पर अज्ञात लोगों ने हमला कर दिया और असलहा लहराते हुए फरार हो गए. इस दौरान जिला पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशी की गाड़ी के शीशे टूट गए और उनके समर्थक मामूली रूप से घायल हो गए. सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने प्रत्याशी से पूरी जानकारी ली. प्रत्याशी ने सपा सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री के पुत्र पर हमला करवाने का आरोप लगाया है.

निजामाबाद विधानसभा क्षेत्र के सेठवल जिला पंचायत क्षेत्र के बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी अरुण कुमार मिश्रा के वाहन पर क्षेत्र में प्रचार के समय थाना क्षेत्र निजामाबाद के जमीन कटघर के पास अज्ञात लोगों ने पथराव कर दिया. इसके बाद हमलावर असलहा लहराते हुए फरार हो गए. इस घटना में प्रत्याशी के गाड़ी के शीशे टूट गए, साथ चल रहे सहयोगीयो को हल्की-फुल्की चोटें आईं. घटना के बाद क्षेत्र में तनाव का माहौल हो गया. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने प्रत्याशी को लेकर निजामाबाद थाने पहुंची. प्रत्याशी ने अज्ञात हमलावरों के विरुद्ध तहरीर दी.

पूर्व मंत्री पर लगाया दबाव बनाने का आरोप

अरुण कुमार मिश्रा उर्फ लालू निजामाबाद थाना क्षेत्र के गौसपुर गांव के रहने वाले हैं. उन्होंने इस घटना के बाद थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ लिखित तहरीर दे दी है. बसपा प्रत्याशी लालू मिश्रा ने बताया कि चुनाव में मेरी जीत को देखते हुए घबराकर विपक्षी प्रत्याशी मुझे डराना चाहते हैं, जिससे कि मैं चुनाव मैदान से हट जाऊं. पूर्व मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव के लोग कई बार मुझ पर बैठने का भी दबाव बना रहे थे. इसी दौरान मेरे ऊपर हमला हुआ है. इसके पीछे कहीं न कहीं पूर्व मंत्री के प्रत्याशी बेटे का हाथ है. वहीं मामले को पुलिस संदिग्ध बता जांच के बाद कार्रवाई की बात कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज