होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /13 मई को ट्रक में छिपकर मुंबई से आजमगढ़ आए थे दो मजदूर, एक की मौत और दूसरे की हालत गंभीर

13 मई को ट्रक में छिपकर मुंबई से आजमगढ़ आए थे दो मजदूर, एक की मौत और दूसरे की हालत गंभीर

मौत की सूचना के बाद से जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है.  वहीं, पूरे जिले के लोग सहमे हुए हैं.

मौत की सूचना के बाद से जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है. वहीं, पूरे जिले के लोग सहमे हुए हैं.

जहानागंज थाना (Jahanaganj police station) क्षेत्र के शुम्भी गांव और नेतुर गांव में अलग-अलग दो व्यक्ति ट्रक के माध्यम से ...अधिक पढ़ें

आजमगढ़. जमातियों के बाद अब प्रवासी श्रमिक प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती बन गए हैं. इसी बीच मुंबई से आजमगढ़ (Azamgarh) ट्रक से पहुंचे कोरोना संदिग्ध की मौत के बाद जहां महकमे में हड़कम्प मच गया, वहीं पूरा जिला सहमा हुआ है. अंदर ही अंदर लोगों को कोरोना (Corona) खतरे का खौफ सताने लगा है. यही कारण है कि लोग अब घरों से निकलना मुनासिब नहीं समझ रहे हैं. वहीं, जिलाधिकारी बाहर से आने वाले श्रमिकों की सूचना जिला प्रशासन को देने की बार-बार अपील कर रहे हैं. साथ ही छिपकर आने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं.  बावजूद इसके छिपकर आने वालो की संख्या जारी है.

जिले के जहानागंज थाना (Jahanaganj police station) क्षेत्र के शुम्भी गांव (Shumbhi Village) और नेतुर गांव में अलग-अलग दो व्यक्ति ट्रक के माध्यम से 13 मई की रात घर पहुंचे थे. उनकी स्थिति ठीक नहीं थी. परिजनों ने उन्हे राजकीय मेडिकल कॉलेज में उपचार के लिए सुबह भर्ती कराया, जहां उनके सैंपल लिए गए और उपचार शुरू हुआ. लेकिन रात में उनकी हालत खराब होने पर उन्हे हायर सेंटर लखनऊ के लिए भेज दिया गया, जहां आज सुबह एक युवक की मौत हो गई,  जबकि दूसरे का उपचार जारी है.

जांच के लिए सैंपल ले लिए गए हैं
मौत की सूचना के बाद से जिला प्रशासन में जहां हड़कंप मच गया है वहीं, पूरे जिले के लोग सहमे हुए हैं. जिलाधिकारी ने बताया कि जांच के लिए सैंपल ले लिए गए हैं और उसे गोरखपुर मेडिकल कॉलेज भेजा गया है. रिपोर्ट आने की प्रतीक्षा की जा रही है. जब तक रिपोर्ट नहीं आयेगी पोस्टमार्टम और शव का अंतिम संस्कार नहीं होगा. बतातें चलें कि इससे पहले भी रानी की सराय क्षेत्र की अस्सी वर्षीय महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी, जिसकी रिपोर्ट दस दिन बीत जाने के बाद आज तक नहीं आयी. लेकिन महिला के शव को कोरोना प्रोटोकाल के तहत अंतिम संस्कार किया गया था.

ये भी पढ़ें- 

COVID-19:ठीक हो 20 जवान लौटेंगे घर, ITBP के DG मेडिकल स्टाफ को कहेंगे शुक्रिया

Covid 19: इस लैटर को गंभीरता से लिया होता तो आज नहीं बिगड़ते जेल के हालात

आपके शहर से (आजमगढ़)

आजमगढ़
आजमगढ़

Tags: Azamgarh news, Corona, Corona Suspect, Uttar pradesh news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें