अनूठी पहलः रक्षाबंधन पर बहन को शौचालय गिफ्ट करने वाले भाई को सम्मानित करेगा प्रशासन

जिलाधिकारी की मुहिम में फिल्म अभिनेत्री शबाना आजमी भी भावानात्मक रूप से जुड़ गई है. उन्होंने जिलाधिकारी के प्रयास की सराहना की है. लोगों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि घर में शौचालय नहीं होने से बहनों और माताओं को दिक्कत होती है

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 22, 2018, 10:22 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 22, 2018, 10:22 PM IST
आजमगढ़ जिले में शौचालय निर्माण को प्रोत्साहन देने के लिए जिलाधिकारी ने एक अनूठी पहल शुरू की है. प्रशासन ने इस रक्षाबंधन पर्व पर उन भाईयों को सम्मानित करने का ऐलान किया है, जो बहनों को उपहार में इज्जत घर (शौचालय) का उपहार भेंट करेंगे. जिलाधिकारी ने खुले में शौच से मुक्ति दिलाने के लिए कई और भी योजनाएं शुरू की हैं.

यह भी पढ़ें-रक्षाबंधन पर हरियाणा सरकार का तोहफा, महिलाएं और बच्चे फ्री में करेंगे सफर

रिपोर्ट के मुताबिक जिलाधिकारी की पहल से शुरू की गई योजना का खाका लगभग तैयार है और अधिकारियों की एक टीम को लगा दिया गया है. बताया जाता है ब्लाक स्तर पर लोगों को सम्मानित किया जाएगा. इसके अलावा जिलाधिकारी ने तीज पर्व पहले पत्नी को उपहार स्वरूप शौचालय गिफ्ट करने वाले पतियों को जिला मुख्यालय पर सम्मानित किया जाएगा. इसका मकसद पति-पत्नी के रिश्तों की डोर को मजबूत करना है.

जिलाधिकारी की मुहिम में फिल्म अभिनेत्री शबाना आजमी भी भावानात्मक रूप से जुड़ गई है. उन्होंने जिलाधिकारी के प्रयास की सराहना की है. लोगों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि घर में शौचालय नहीं होने से बहनों और माताओं को दिक्कत होती है. उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी ने शौचालय निर्माण के लिए सरल और आसानी से संसाधनों को मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्धता भी निश्चित की है.

यह भी पढ़ें-आजमगढ़: फेसबुक पर धार्मिक टिप्पणी को लेकर बवाल, आगजनी के बाद लाठीचार्ज

जिलाधिकारी की मुहिम को स्थानीय लोगों का भी समर्थन मिल रहा है और लोग रक्षाबंधन और तीज पर्व से पहले इज्जत घर भेंट करने की तैयारी भी कर रहें हैं. रक्षाबंधन पर्व से पूर्व भाई से उपहार स्वरूप मिले इज्जत घर को जीवन का सबसे बड़ा तोहफा बताते हुए एक बहन ने सभी भाईयों से अपील की है कि वो भी आगामी त्यौहारों पर अपनी बहनों को इज्जत घर भेंट करके उनका सम्मान बढ़ाएं.

यह भी पढ़ें-यहां विराजते हैं शिव के आदेश पर दक्ष का यज्ञ विध्वंस करनेवाले काल भैरव
Loading...
गौरतलब है जिले में मार्च, 2018 तक कुल 88 गांव खुले में शौच मुक्त थे, लेकिन आज 861 गांव खुले में शौच मुक्त घोषित हो चुके हैं. डीएम शिवाकांत द्विवेदी ने बताया कि आगामी 30 सितम्बर तक जिले के 3928 गांवों को खुले में शौच मुक्त करने का लक्ष्य रखा गया है, जिसको पूरा करने के लिए ही उक्त मुहिम की शुरूआत की गई है.

(रिपोर्ट-अभिषेक, आजमगढ़)

एकसाथ 7 भोजपुरी फ़िल्में साइन कर धमाल मचाएंगे रवि किशन

PHOTOS: क्यों भोजपुरी सिनेमा के शाहरुख, सलमान और आमिर हैं ये एक्टर्स?

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर