Assembly Banner 2021

Azamgarh Panchayat Chunav 2021: आरक्षण सूची जारी, कई दावेदारों के टूटे सपने, कई के खिले चेहरे

राज्‍य चुनाव आयोग ने पंचायत चुनाव की तारीखों का ऐलान कर द‍िया है और उत्‍तर प्रदेश में पंचायत चुनाव 4 चरणों में होने हैं.

राज्‍य चुनाव आयोग ने पंचायत चुनाव की तारीखों का ऐलान कर द‍िया है और उत्‍तर प्रदेश में पंचायत चुनाव 4 चरणों में होने हैं.

Uttar Pradesh Gram Panchayat Aarakshan List: यूपी के पंचायती राज विभाग ने राज्‍य के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए जिलेवार आरक्षण सूची जारी कर दी है. इस बीच आजमगढ़ में ब्लॉक प्रमुख, जिला पंचायत सदस्य, प्रधान पद और क्षेत्र पंचायत की सीटों के लिए आरक्षण जारी हुआ है.

  • Share this:
आजमगढ़. उत्‍तर प्रदेश के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (UP Panchayat Chunav 2021) में आरक्षण की सूची जारी होने के साथ ही स्थिति काफी हद तक स्पष्ट हो गई है. आरक्षण से जहां कई दावेदारों के सपने टूटे हैं तो कई के दोनों हाथ में लड्डू आ गया है. यही नहीं, आरक्षण (Reservation) से जो लोग संतुष्ट नहीं हैं वे आपत्ति दाखिल करने की तैयारी में जुटे हैं. पूरे दिन आजमगढ़ जिला मुख्यालय से लेकर ब्लॉक तक गहमागहमी का माहौल देखने को मिल रहा है.

आजमगढ़ जिले के ब्लॉक प्रमुख की 5 सीट अनुसूचित जाति, 6 पिछड़ी जाति और 4 सीट महिलाओं के लिए आरक्षित की गई हैं. वहीं, जिला पंचायत सदस्य की 22 सीट अनुसूचित जाति, 22 पिछड़ी जाति और 12 महिलाओं के लिए आरक्षित हैं. इसके अलावा ब्‍लॉक प्रमुख की सात और जिला पंचायत सदस्य की 28 सीटें अनारक्षित हैं. इस पर कोई भी चुनाव लड़ सकता है.

प्रधान के लिए 1858 पदों पर होगा चुनाव
इसी क्रम में प्रधान पद के 1858 पदों पर चुनाव होना है. इसके लिए आरक्षण की सूची जारी की गई है. इसमें 427 सीट अनुसूचित जाति के लिए, तो 150 अनुसूचित जाति महिलाओं के लिए आरक्षित की गई हैं. इसी तरह पिछड़ी जाति के लिए 504 सीट आरक्षित हैं जिसमें 178 सीट पिछड़ी जाति की महिलाओं के लिए आरक्षित हैं. 299 सामान्य महिला के लिए आरक्षित हैं और 828 सीट अनारक्षित रखी गई हैं.
इसी तरह क्षेत्र पंचायत की 2104 सीटों के लिए आरक्षण जारी हुआ है. इसमें 559 सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं. जबकि पिछड़ी जाति के लिए 559 सीट और महिला के लिए 324 सीट आरक्षित की गई हैं. 986 सीटों को अनारक्षित रखा गया है. इसी क्रम में ब्लाक प्रमुख की 22 सीटों में अनुसूचित जाति के लिए 5 सीट, पिछड़ी जाति के लिए 5 सीट, महिलाओं के लिए चार सीट आरक्षित की गई हैं. इसके अलावा 7 सीट अनारक्षित रखी गई हैं. जिला पंचायत सदस्य की 84 सीटों में अनुसूचित जाति के 22, पिछड़ी जाति के लिए 22, महिलाओं के लिए 12 सीट आरक्षित की गई हैं. जबकि 28 सीटों को अनारक्षित रखा गया है. बता दें कि जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट को पहले ही पिछड़े वर्ग के लिए आरक्षित की जा चुकी है. डीपीआरओ लालजी दूबे ने बताया कि आरक्षण की सूची प्रकाशित कर दी गई है. 4 मार्च से लेकर आठ मार्च आपत्ति ली जाएगी और उसके बाद आपत्तियों का 10-12 मार्च को जिले पर गठित कमेटी निस्तारण करेगी. इसके बाद 13-14 मार्च अंतिम सूची बनायी जायेगी और 15 मार्च को अंतिम प्रकाशन कर दिया जायेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज