होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /UP Chunav: रमाकांत यादव को टिकट मिलते ही SP में हुई बगावत, कार्यकर्ताओं ने अखिलेश को भेजा ये संदेश

UP Chunav: रमाकांत यादव को टिकट मिलते ही SP में हुई बगावत, कार्यकर्ताओं ने अखिलेश को भेजा ये संदेश

बाहुबली रमाकांत यादव के विरोध में सैकड़ों कार्यकर्ता और पदाधिकारियों ने सपा से त्यागपत्र दे दिया है.

बाहुबली रमाकांत यादव के विरोध में सैकड़ों कार्यकर्ता और पदाधिकारियों ने सपा से त्यागपत्र दे दिया है.

UP assembly election 2022: टिकट वितरण को लेकर समाजवादी पार्टी में अंतर्कलह है. निजामाबाद में पूर्व प्रमुख इसरार अहमद टि ...अधिक पढ़ें

आजमगढ़. यूपी का आजमगढ़ (Azamgarh) समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) गढ़ माना जाता है, लेकिन यहां बगावत के सुर दिखने लगे हैं. जिले में 10 में 7 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा के बाद कई सीटों पर पार्टी के फैसले का विरोध शुरू हो गया है. निजामाबाद में पूर्व प्रमुख इसरार अहमद (Israr Ahmad) को टिकट न मिलने पर जहां बागी तेवर दिखा रहे हैं, वहीं बाहुबली रमाकांत यादव (Ramakant Yadav) के विरोध में सैकड़ों कार्यकर्ता और पदाधिकारियों ने त्यागपत्र दे दिया है. इससे सपा पूरी तरह असहज दिख रही है.

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अभी दो दिन पहले जिले की सात सीटों के लिए प्रत्याशियों की घोषणा की थी. टिकट की घोषणा के बाद से ही सपा में विरोध शुरू हो गया है. जिले में सर्वाधिक विरोध फूूलपुर पवई से प्रत्याशी बनाए गए बाहुबली रमाकांत यादव का है. टिकट के दावेदारों में शामिल रहे पूर्व विधायक श्याम बहादुर यादव के समर्थक रमाकांत यादव को दल बदलू और अवसरवादी बताते हुए टिकट बदलने की मांग कर रहे हैं.

रमाकांत यादव के विरोध में समाजवादी महिला सभा फूूलपुर इकाई की अध्यक्ष सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता और पदाधिकारियों ने जिलाध्यक्ष को अपना त्यागपत्र सौंप दिया है. वहीं ये कार्यकर्ता अब अखिलेश यादव से मिलकर अपना विरोध दर्ज कराने वाले हैं. इनका कहना है कि अगर रमाकांत यादव की जगह श्याम बहादुर को प्रत्याशी नहीं बनाया गया तो वे आगे कड़ा निर्णय लेनेे के लिए बाध्य होंगे. सपा जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने बताया कि पार्टी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने त्यागपत्र दिया है, लेकिन उनका त्यागपत्र मंजूर नहीं किया गया है.

आपके शहर से (आजमगढ़)

आजमगढ़
आजमगढ़

वहीं दूूसरी तरफ निजामाबाद में आलमबदी को टिकट मिलने के बाद से ही पूर्व ब्लाक प्रमुख इसरार अहमद लगातार बागी तेवर दिखा रहे हैं. इनके समर्थक और स्वयं इसरार अहमद अब तक भले ही सड़क पर न उतरे हों, लेकिन सोशल मीडिया पर खुलकर प्रत्याशी का विरोध कर रहे हैं. इसरार भी चुनाव में निर्दलीय ताल ठोकने के मूड में है.

Tags: Akhilesh yadav, Azamgarh news, Bahubali Leader in UP, UP news, Uttar pradesh assembly election

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें