सांवला होने की वजह से लड़कियां नहीं करती थी दोस्ती तो बन गया फर्जी डॉक्टर, ऐसे खुला राज

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 4, 2019, 7:00 PM IST
सांवला होने की वजह से लड़कियां नहीं करती थी दोस्ती तो बन गया फर्जी डॉक्टर, ऐसे खुला राज
आरोपी नितिन

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आजमगढ़ (Azamgarh) में एक युवक लड़कियों को इम्प्रेस करने के लिए खुद को एमबीबीएस (MBBS) एमडी से लेकर आईएएस (IAS) और आईपीएस (IPS) तक बना डाला. कई लड़कियों से चैटिंग भी की.

  • Share this:
आजमगढ़. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आजमगढ़ (Azamgarh) में एक युवक लड़कियों को इम्प्रेस करने के लिए खुद को एमबीबीएस (MBBS) एमडी से लेकर आईएएस (IAS) और आईपीएस (IPS) तक बना डाला. कई लड़कियों से चैटिंग भी की. लेकिन एक लड़की (Girl) के पिता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट हासिल करने की सनक ने उसे जेल (Jail) पहुंचा दिया. युवक को जेल जाने का भी मलाल नहीं है. बस दुख इस बात का है कि उस लड़की ने उसके साथ दगा किया और इस्तेमाल करने के बाद छोड़ गई.

पुलिस की गिरफ्त में आया नितिन कुमार सिंह, तहबरपुर थाना क्षेत्र के आशापुर गांव का रहने वाला है. नितिन बीए द्वितीय वर्ष का छात्र है. उसने आईटीआई भी की है. कद काठी अच्छी होने के बाद भी रंग सांवला होने से लड़कियां उससे दोस्ती नहीं करती थीं. जिसके चलते उस पर लड़कियों को इंप्रेस करने की सनक सवार हो गई.

आजमगढ़ के पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह ने बताया कि नितिन ने फेसबुक व अन्य सोशल साइटों पर खुद को एमबीबीएस एमडी, आईएएस, आईपीएस के नाम से कई प्रोफाइल बना लिए और लड़कियों से चैटिंग शुरू कर दी. किसी लड़की को नितिन खुद को एमडी, तो किसी को आईएएस या आईपीएस बताकर चैटिंग करता था. इतना ही नहीं, नितिन ने फोटोशॉप के जरिए अपनी कई फर्जी डिग्रियां तैयार कर लीं और शहर के एक डॉक्टर के अस्पताल में चिकित्सक की ट्रेनिंग भी करने लगा.

नितिन फर्जी डॉक्टर बन गया था


एसपी के मुताबिक, इस दौरान नितिन ने कई विभागों की मोहर बनवा ली और अधिकारियों के हस्ताक्षर तक बनाने लगा. शायद नितिन का यह राज कभी नहीं खुलता लेकिन हुआ यूं कि खुझिया की एक लड़की जिससे वह चैटिंग करता था, उसके पिता की मौत हो गई. लड़की के कहने पर उसने उसके पिता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट हासिल करने की कोशिश की. लेकिन जब रिपोर्ट नहीं मिली तो उसने खुद को एमबीबीएस-एमडी बताते हुए पुलिस अधीक्षक को पत्र लिख पीएम रिपोर्ट की मांग कर दी. पुलिस को शक हुआ तो उसने छानबीन शुरू की और युवक को हिरासत में ले लिया.

पुलिस ने उसके लैपटॉप से कई फर्जी अभिलेख बरामद किए. साथ ही कई विभागों की सील और इनकम टैक्स विभाग से जुड़े अभिलेख भी हासिल किए. पुलिस अधीक्षक प्रो. त्रिवेणी सिंह का कहना है कि नितिन लड़कियों को इंप्रेस करने के लिए तो ऐसा करता ही था. साथ ही इसे कमाई का जरिया भी बना लिया था. उसके द्वारा कुछ लोगों को फर्जी प्रमाण पत्र जारी करने की चर्चा है. अभी मामले की जांच चल रही है. अगर ऐसा कुछ प्रकाश में आता है तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

(रिपोर्ट- अभिषेक)
Loading...

ये भी पढ़ें-

मोहम्मद शमी की पत्नी ने UP पुलिस पर लगाए आरोप, कहा- ममता बनर्जी न होतीं तो जाने क्या होता

अयोध्या केस: मुस्लिम पक्ष ने कहा- मस्जिद में चुपके से रखी गईं रामलला मूर्तियां

अयोध्या मामला: मुस्लिम पक्ष ने कहा- हिंदुओं ने बाबरी मस्जिद तोड़ी, अब जमीन मांग रहे

दिल्ली: नौकर ने बताया- फ्रिज को ही क्यों बनाया बुजुर्ग की मौत का 'ताबूत'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए आजमगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 4, 2019, 6:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...