Home /News /uttar-pradesh /

COVID-19: पॉजिटिव मिला शख्स, सील किए गए UP के बदायूं जिले के 14 गांव

COVID-19: पॉजिटिव मिला शख्स, सील किए गए UP के बदायूं जिले के 14 गांव

जिला सूचना अधिकारी राकेश चौहान ने बताया कि सोमवार की शाम स्वास्थ्य विभाग को जो मेडिकल रिपोर्ट मिली है, उसमें कोविड-19 के चार नए मामले आए हैं.

जिला सूचना अधिकारी राकेश चौहान ने बताया कि सोमवार की शाम स्वास्थ्य विभाग को जो मेडिकल रिपोर्ट मिली है, उसमें कोविड-19 के चार नए मामले आए हैं.

यूपी के बदायूं (Badaun) जिले में रविवार को एक शख्स में कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया. इसके बाद जिला अधिकारी ने जिले के 14 गांवों को सील कर दिया.

    लखनऊ. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर बढ़ता जा रहा है. दुनियाभर में इससे अब तक 1 लाख से अधिक लोग मारे जा चुके हैं. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में इस वायरस का संक्रमण दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है. रविवार को यूपी में कोविड-19 (COVID-19) से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 480 हो गई. वहीं, प्रदेश के बदायूं (Badaun) जिले में रविवार को एक शख्स में कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया. इसके बाद जिला अधिकारी ने जिले के 14 गांवों को सील कर दिया.

    यूपी में मामलों की संख्या बढ़कर 480 हुई
    गौरतलब है कि प्रमुख सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने रविवार को कहा कि राज्य में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 480 है जो 41 जिलों से हैं. उन्होंने बताया कि नमूनों की व्यवस्था में काफी प्रगति हुई है. शनिवार को 1,640 नमूनों की जांच की गई. शुरू में डेढ सौ से दो सौ नमूनों की जांच रोज हो पा रही थी, जिसे बढ़ाकर 800 किया गया था. अब यह आंकड़ा 1,600 को पार कर गया है. जल्द ही 2,000 से अधिक नमूनों की जांच की सुविधा होगी.



    फोन से सलाह देने वाले डॉक्टरों का किया जाएगा पंजीकरण
    अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि शनिवार से चिकित्सा विभाग की वेबसाइट पर स्वैच्छिक पंजीकरण शुरू कर रहे हैं. इसमें वे चिकित्सक जिनके पास समय है और वे टेली सलाह (फोन के जरिए) देना चाहते हैं, पंजीकरण करेंगे. काल सेंटर 18001805145 पर घर से कॉल कर सलाह ली जा सकती है. इसके लिए काउंसलर लगाए गए हैं जो उनकी बात लोगों से कराते हैं. सरकारी और सेवानिवृत्त चिकित्सकों का पूल बनाकर उनकी सेवाएं लेंगे.

    संक्रमण ग्रस्त जिलों में चिकित्साकर्मियों को दिया जाएगा प्रशिक्षण
    प्रसाद ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की चिन्ता है कि जो भी आकस्मिक सेवा के लिए आता हो, उसे सभी सेवाएं उपलब्ध हों. आगरा में डॉक्टर संक्रमित हो गए. इसकी वजह से पूरी टीम को पृथकवास में जाना पड़ा. इसलिए तय किया गया है कि कोरोना संक्रमण के मामले जिन जिलों से आए हैं, वहां सोमवार से चार से छह बजे के बीच डॉक्टर एवं चिकित्सा कर्मी प्रशिक्षण प्राप्त कर सकेंगे. प्रमुख सचिव ने बताया कि पृथक वार्ड में मरीजों की संख्या 576 है, जबकि पृथक केंद्रों में यह संख्या 8,084 है.

    ये भी पढ़ें - 

    COVID-19 Update: राजस्थान में 96 नए मामले, जयपुर में 35 और टोंक में 11 केस

    राजस्थान के ACS गृह बोले- 14 अप्रैल से पुलिस द्वारा जारी पास ही होंगे मान्य

    Tags: Coronavirus, Coronavirus Epidemic, Coronavirus in India, Up news in hindi, Uttar pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर