साथियों के घायल होने पर गुस्‍साए कांवड़ियों ने की आगजनी-तोड़फोड़

ये पूरा मामला बिनावर थाना क्षेत्र मे बदायूं बरेली हाईवे के घटपुरी का है. यहां सौ से ज्‍यादा कांवड़िए कछला के गंगा घाट से रात में जल लेने के लिए निकले थे तभी कुछ साथी एक डीसीएम की चपेट में आ गए, जिससे करीब 30 कांवड़िए घायल हो गए. घटना से गुस्‍साए साथियों ने तोड़फोड़ की.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 10, 2018, 9:31 AM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 10, 2018, 9:31 AM IST
यूपी के बदायूं जिले में शुक्रवार सुबह हुए एक सड़क हादसे में कांवड़ियों के घायल होने के बाद उनके साथियों ने जमकर बवाल काटा. गुस्‍साए कांवड़ियों ने एक डीसीएम को आग के  हवाले कर दिया.  एक रोडवेज बस और ट्रकों में तोड़फोड़ कर दी. घटना की जानकारी होने पर कई थानों की पुलिस फोर्स सहित एसपी सिटी और एसडीएम सदर मौके पर पहुंंचे. पुलिस ने हादसे में गंभीर रूप से घायल कांवड़ियों को अस्‍पताल में भर्ती कराया है. घटना के बाद पुलिस ने बरेली-बदायूं हाईवे को पूरी तरह बंद कर दिया.

ये घटना बिनावर थाना क्षेत्र मे बदायूं बरेली हाईवे के घटपुरी पर हुई. यहां बरेली के किला थाना क्षेत्र के छावनी के निवासी करीब सौ से ज्‍यादा कांवड़िए कछला के गंगा घाट से जल लेने रात में निकले थे. करीब बारह बजकर चालीस मिनट पर मैजिक में रखी कबाड़ हिलने लगी. मैजिक चालक गाड़ी रोक कर कबाड़ को रस्सी से टाईट करने लगा, तभी मैजिक में सवार कुछ लोग नीचे उतर आए और चौराहा क्रास करने लगे और एक डीसीएम की चपेट में  आ गए. इस दौरान करीब तीस कांवड़िए घायल हो गए. घटना के बाद चीख-पुकार मच गई.  कुछ साथियों ने आगे  निकले कांवड़ियों को ये घटना बता दी. इसके बाद गुस्‍साए कांवड़ियों ने वापस आकर गद्दों से भरी एक डीसीएम को आग के हवाले कर दिया. इसके अलावा पास से गुजर रही एक रोडवेज बस और आधा दर्जन  ट्रकोंं में भी जमकर तोड़फोड़ कर दी.

घटना की सूचना होते ही कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंंची . मौके पर पहुंचे एसडीएम सदर के समझाने के बाद गुस्‍साए कांवड़िए शांत हुए. पुलिस ने नौ गंभीर घायलों को बदायूं जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जबकि कुछ को बरेली रेफर कर दिया. घटना के बाद पुलिस ने जिले के ट्रक सहित सभी वाहनों को अपनी गिरफ्त में ले लिया है. अभी तक पुलिस ने किसी के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया है .

यह भी पढ़ें: अम्बेडकरनगर: ट्रक की टक्कर से कांवड़िए की मौत के बाद साथियों ने कई वाहन फूंके
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर