जमीन की पैमाइश करने गए लेखपाल को महिला ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, वीडियो VIRAL
Badaun News in Hindi

उत्तर प्रदेश के बदायूं में ग्राम समाज की जमीन पर हो रहे अवैध कब्जे की पैमाइश करने गए लेखपाल को एक दंपती ने पीट दिया. पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
उत्तर प्रदेश के बदायूं में एक विवादित जमीन की पैमाइश करना एक लेखपाल को भारी पड़ गया. गांव के एक दंपत्ति ने लेखपाल को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. लेखपाल को बड़ी मुश्किल से गांव के अन्य लोगों ने बचाया. इस घटना का किसी ने वीडियो बना लिया जो अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. वहीं लेखपाल की तहरीर पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है.

मामला बदायूं के थाना अलापुर के कुपरी गांव का है. जहां लेखपाल को सूचना मिली थी कि गांव में कुछ लोग ग्राम समाज की जमीन में निर्माण कर रहे हैं. जब इस अवैध निर्माण को लेखपाल सतेंद्र कुमार ने रुकवाने की कोशिश की तो गांव निवासी राजपाल के बेटे गौरी व उसके परिवार ने हमला कर दिया. इस घटना वीडियो वायरल हुआ है. जिसमें लेखपाल गांव वालों से बात करता दिख रहे हैं. तभी कुछ देर बाद एक महिला आती है और लेखपाल सतेंद्र कुमार से बहस को धमकी देने लगती है. पीछे से महिला के परिजन महिला से लेखपाल को मारने के लिए कहते हैं.

महिला लेखपाल को मरने के लिए आगे बढ़ती है. वहीं लेखपाल बचने के आगे बढ़ता है. लेकिन महिला उसे मारने के लिए उसके पीछे बढ़ती है और उनके साथ मारपीट शुरू कर देती है. लेखपाल उससे बचने के लिए भागता है तभी गांव के कुछ युवक उसके पीछे आ जाते हैं और मारपीट करने लगते है. लेखपाल बचने के लिए वहां से भाग जाता है.



ये भी पढ़ें- जानिए कौन हैं IAS बी चंद्रकला, जिन्हें अखिलेश सरकार मिली थी 4 जिलों की जिम्मेदारी



वहीं गौरी व उसके परिवार का आरोप है कि लेखपाल सतेंद्र कुमार अवैध कब्जा हटवाने में पक्षपात कर रहे थे. इस मामले में पुलिस का कहना है कि एक लेखपाल कब्जा हटवाने को अकेले ही चले गए थे. लेखपाल द्वारा ही एक पक्ष की दीवार गिराई गई थी. जिसको लेकर दूसरा पक्ष उग्र हो गया और अभद्रता की गई. मारपीट जैसी घटना नहीं हुई है. फिलहाल लेखपाल की तहरीर पर दो लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर एक व्यक्ति को जेल भी भेज दिया है.

(रिपोर्ट- चितरंजन)

ये भी पढ़ें-सपा-बसपा गठबंधन की​ Courtesy नहीं मजबूरी है कांग्रेस के लिए अमेठी और रायबरेली सीट छोड़ना
First published: January 8, 2019, 5:34 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading