लाइव टीवी

बदायूं: एक हफ्ते में बुखार ने ले ली 10 लोगों की जान

ETV UP/Uttarakhand
Updated: August 23, 2017, 8:24 PM IST

उत्तर प्रदेश का बदायूं जिले में बुखार का कहर थमने का नाम नही ले रहा है. अकेले ब्लाक जगत में ही पिछले एक हफ्ते में 10 लोगों की मौत हो चुकी है. चौंकाने वाली बात यह है कि यह आंकड़ा केवल 2 गांवों का है. लगातार हो रही मौतों के बाद स्वास्थ्य विभाग विभाग की आंख खुली है और विभाग ने प्रभावित गांव में टीमें भेजने का काम शुरू किया है जबकि निजी अस्पतालों में हुई मौतों का कोई आंकड़ा उपलब्ध नहीं है

  • Share this:
उत्तर प्रदेश का बदायूं जिले में बुखार का कहर थमने का नाम नही ले रहा है. अकेले ब्लाक जगत में ही पिछले एक हफ्ते में 10 लोगों की मौत हो चुकी है. चौंकाने वाली बात यह है कि यह आंकड़ा केवल 2 गांवों का है.

लगातार हो रही मौतों के बाद स्वास्थ्य विभाग विभाग की आंख खुली है और विभाग ने प्रभावित गांव में टीमें भेजने का काम शुरू किया है जबकि निजी अस्पतालों में हुई मौतों का कोई आंकड़ा उपलब्ध नहीं है.

रिपोर्ट के मुताबिक ब्लाक जगत के गांव ललबुझिया गांव में पिछले एक सप्ताह में 6 पीड़ितों की मौत हो चुकी हैं जबकि इसी ब्लाक के दूसरे गांव पड़ौलिया में पिछले 4 दिनों में ही 3 लोगों की इलाज बाद जान गवां चुके है. इनमें एक महिला की मौत बुधवार को ही हुई है. स्वास्थ्य विभाग ने प्रभावित गांवों में मेडिकल कैम्प लगाकर मरीजों की देखभाल शुरू कर दी है.

चिकित्सकों के मुताबिक अब तक हुई मौतों का कारण मलेरिया बुखार है. यही कारण है कि प्रभावित गांवों में मलेरिया विभाग के कर्मचारी फॉगिंग कर रहे हैं, साथ ही जिन घरों में मौत हुई हैं उन घरों से मच्छरों को पकड़कर जांच करवाई जा रही है. वहीं, मलेरिया ग्रस्त गांववालों का आरोप है कि गांव पहुंच रहीं स्वास्थ्य विभाग की टीमें बिना जांच के पीड़ितों को दवाएं दी जा रहीं हैं।

गौरतलब है जगत ब्लाक पहले भी संक्रामक रोगों से प्रभावित रह चुका है, बावजूद इसके लापरवाही के कारण स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोई सतर्कता नही बरती गई, जिससे लोगों की मौतें हो रही हैं.

इस मामले में cmo बदायूं का कहना है कि ब्लाक जगत को संवेदनशील मानते हुए सभी गांवों में फॉगिंग कराई जा रही है और प्रभावित गांव में मेडिकल टीमें भेजकर दवा वितरण का कार्य किया जा रहा है जबकि लापरवाही के चलते क्षेत्र के 2 डॉक्टरों के खिलाफ कार्यवाही की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बदायूं से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2017, 6:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर