बदायूं केसः क्रूरता की हदें पार करने वाला मुख्‍य आरोपी महंत गिरफ्तार, 50 हजार का था इनाम

Badaun Gangrape and Murder Case: पुलिस ने मुख्‍य आरोपी सत्‍यनारायण को गिरफ्तार कर लिया है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

Badaun Gangrape and Murder Case: पुलिस ने मुख्‍य आरोपी सत्‍यनारायण को गिरफ्तार कर लिया है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

Badaun Gangrape and Murder Case: बदायूं गैंगरेप और हत्‍या मामले में दो अरोपियों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है. मुख्‍य आरोपी महंत सत्‍यनारायण की तलाश में उत्‍तर प्रदेश पुलिस की 4 टीमें लगी थीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 8, 2021, 9:03 PM IST
  • Share this:
बदायूं. उत्‍तर प्रदेश के बदायूं में दिल दहला देने वाली वीभत्‍स घटना को अंजाम देने वाले मुख्‍य आरोपी महंत सत्‍यनारायण को गिरफ्तार कर लिया गया है. महिला के साथ गैंगरेप करने के बाद उसकी हत्‍या करने के आरोपी महंत की तलाश में उत्‍तर प्रदेश पुलिस की चार टीमें लगी थीं. इस वारदात की वीभत्‍सा ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया. बताया जाता है कि बदायूं गैंगरेप और हत्‍या का मुख्‍य आरोपी सत्‍यनारायण उसी गांव में छिपा था, जिसमें उसने इस जघन्‍य कांड को अंजाम दिया था. इस मामले में शामिल रहे दो अन्‍य आरोपियों जसपाल और वेदराम को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है. सत्‍यनारायण पर पुलिस ने 50 हजार रुपये का इनाम भी घोषित कर रखा था.

आरोपियों ने 3 जनवरी को गैंगरेप और हत्‍या की इस वारदात को अंजाम दिया था. मुख्‍य आरोपी सत्‍यनारायण इसके बाद से ही फरार चल रहा था. उसकी तलाश में उत्‍तर प्रदेश पुलिस ने स्‍पेशल टीमें गठित की थीं. सत्‍यनारायण की तलाश में पुलिस जगह-जगह छापेमारी कर रही थी. बताया जाता है कि मुख्‍य आरोपी महंत सत्‍यनारायण उघैती थाना क्षेत्र में स्थित घटना वाले गांव में ही छुपा हुआ था. उसे गुरुवार देर रात को गिरफ्तार किया जा सका. पुलिस फिलहाल उससे पूछताछ कर रही है. अब सवाल यह भी उठ रहा है गैंगरेप और हत्‍या जैसी घटना को अंजाम देने के मुख्‍य आरोपी को 4 दिनों तक किसने पनाह दी थी?

Youtube Video


गैंगरेप और हत्‍या की इस घटना की वीभत्‍सता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि आरोपियों ने पीड़िता के प्राइवेट पार्ट में रॉड जैसी कोई वस्‍तु डाल दी थी. उनकी पसलियां भी टूट गई थीं. इसके अलावा उनके पैर भी टूटे हुए पाए गए थे. इस घटना ने दिल्‍ली के निर्भया कांड के वक्‍त हुई क्रूरता की याद दिली थी. पीड़िता घटना वाले दिन शाम को मंदिर में पूजा-अर्चना करने गई थीं, जहां उनके साथ मंदिर के पुजारी और अन्‍य ने गैंगरेप किया और बाद में उनकी हत्‍या कर दी. शुरुआत में पुलिस ने कुएं में गिरने के कारण महिला की मौत होने की बात कही थी. आरोप है कि एफआईआर दर्ज करने के बाद पुलिस ने पोस्‍टमॉर्टम तक नहीं कराया था. बाद में पीएम करवाया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज