बदायूं: 72 घंटे के अंदर दूसरी गैंगरेप की वारदात, आरोपी पुलिस की गिरफ्त से दूर

फिलहाल, पुलिस दो युवकों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. आरोपी अभी भी फरार हैं, जिनकी तलाश में पुलिस जुटी हुई है. पीड़ित किशोरी को पुलिस ने मेडिकल के लिए भेज दिया है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 24, 2018, 3:47 PM IST
बदायूं: 72 घंटे के अंदर दूसरी गैंगरेप की वारदात, आरोपी पुलिस की गिरफ्त से दूर
सांकेतिक तस्वीर.
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 24, 2018, 3:47 PM IST
उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में गैंगरेप पीड़िता की आत्महत्या का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ है कि एक और दलित किशोरी के साथ गांव के ही दो युवकों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया है. 72 घंटे में दूसरी गैंगरेप की वारदात से जिले में हड़कंप मचा हुआ है. बताया जा रहा है कि थाना बिल्सी के एक गांव के दो युवक दलित किशोरी को धमका कर बाग में ले गए और उसके साथ दुष्कर्म किया.

फिलहाल, पुलिस दो युवकों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. आरोपी अभी भी फरार हैं, जिनकी तलाश में पुलिस जुटी हुई है. पीड़ित किशोरी को पुलिस ने मेडिकल के लिए भेज दिया है.

बता दें बदायूं के मूसाझाग थाना क्षेत्र में 20 अगस्त को गन पॉइंट पर लेकर एक नाबालिग किशोरी के साथ तीन युवकों ने गैंगरेप किया था. लेकिन पुलिस ने गैंगरेप से इनकार किया था. जिससे आहत होकर बुधवार देर रात पीड़िता ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मामले में नाबलिग लड़की के परिजनों ने तीन दबंग युवकों के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज कराया है. पुलिस ने मुख्य आरोपी लंकुश को गिरफ्तार कर लिया है.

हालांकि इस मामले में पुलिस लगातार बयान बदला रही है. पहले पुलिस ने कहा कि पीड़िता की मेडिकल रिपोर्ट में रेप की पुष्टि नही हुई है. उसके बाद गुरुवार को जांच करने पहुंचे आईजी डीके ठाकुर ने कहा कि रेप से इनकार नहीं कर सकते और रेप की एफआईआर पर ही कार्रवाई होगी.

(इनपुट: चितरंजन सिंह)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर