Assembly Banner 2021

बदायूं मामला: सीबीआई का दावा, दोनों बहनों ने की थी खुदकुशी

बदायूं के कथित सामूहिक बलात्कार और हत्‍या मामले में एक नया मोड़ आ गया है। पांच महीने की जांच के बाद सीबीआई ने कहा है कि दोनों नाबालिग बहनों की हत्‍या नहीं हुई थी, बल्कि दोनों ने आत्‍महत्‍या की थी। सीबीआई पहले की बलात्‍कार की बात नकार चुकी है।

बदायूं के कथित सामूहिक बलात्कार और हत्‍या मामले में एक नया मोड़ आ गया है। पांच महीने की जांच के बाद सीबीआई ने कहा है कि दोनों नाबालिग बहनों की हत्‍या नहीं हुई थी, बल्कि दोनों ने आत्‍महत्‍या की थी। सीबीआई पहले की बलात्‍कार की बात नकार चुकी है।

बदायूं के कथित सामूहिक बलात्कार और हत्‍या मामले में एक नया मोड़ आ गया है। पांच महीने की जांच के बाद सीबीआई ने कहा है कि दोनों नाबालिग बहनों की हत्‍या नहीं हुई थी, बल्कि दोनों ने आत्‍महत्‍या की थी। सीबीआई पहले की बलात्‍कार की बात नकार चुकी है।

  • News18
  • Last Updated: November 27, 2014, 10:45 AM IST
  • Share this:
बदायूं के कथित सामूहिक बलात्कार और हत्‍या मामले में एक नया मोड़ आ गया है। पांच महीने की जांच के बाद सीबीआई ने कहा है कि दोनों नाबालिग बहनों की हत्‍या नहीं हुई थी, बल्कि दोनों ने आत्‍महत्‍या की थी। सीबीआई पहले की बलात्‍कार की बात नकार चुकी है।

सीबीआई निदेशक रंजीत सिन्‍हा ने कहा, 'हमलोगों ने बदायूं केस सुलझा लिया है। जांच से यह बात सामने आई है कि दोनों बहनों ने खुदकुशी की थी। दोनों की हत्‍या नहीं की हुई थी। स्‍थानीय पुलिस ने मामले की गलत तरीके से जांच की, जिससे लगा कि दोनों बहनों की हत्‍या की गई। इसके बाद कुछ भी कहने को नहीं बचता है।'

इससे पहले सीबीआई ने पांच आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट नहीं दाखिल करने का फैसला किया था। एजेंसी का कहना था कि फोरेंसिक टेस्‍ट में बलात्‍कार की पुष्टि नहीं हुई थी।



वहीं, पीड़िता के रिश्‍तेदार लाइ डिटेक्‍टर टेस्‍ट में फेल हो गए थे, वहीं पांचों आरोपी लाइ डिटेक्‍टर टेस्‍ट में पास हो गए थे। पांचों आरोपियों के बयान में कोई अंतर नहीं पाया गया था। इन आरोपियों ने बलात्कार, हत्या और सबूतों को नष्ट के करने के आरोपों से स्‍पष्‍ट इनकार किया था।
सीबीआई का कहना था कि जिस पेड़ पर दोनों बहनों को लटकाया गया था, वह करीब 12 फीट ऊंचा है। यह पेड़ आरोपी पप्‍पू यादव के घर से 20 मीटर की दूरी पर है। ऐसे में कोई शख्‍स भला किसी की हत्‍या कर उसके शव घर के पास वाले पेड़ पर क्‍यों लटकाएगा।

उल्‍लेखनीय है कि कि 14 और 15 साल की दो चचेरी बहनों की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी, जो अपने घरों से 27 मई को लापता हों गईं थीं। बाद में दोनों के शव आम के पेड़ पर लटके मिले थे।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज