Badaun : बेड से गिरकर तड़पती रही कोरोना पेशेंट, डॉक्टरों ने नहीं ली सुध, चली गई जान
Badaun News in Hindi

Badaun : बेड से गिरकर तड़पती रही कोरोना पेशेंट, डॉक्टरों ने नहीं ली सुध, चली गई जान
बेचैनी में बेड से गिरी महिला पेशेंट. कुछ घंटे बाद हो गई मौत.

होश आने पर महिला ने खुद ही ऑक्सीजन मास्क लगाया, लेकिन उठ न सकी. इस बात की जानकारी वार्ड में भर्ती मरीजों ने तैनात डॉक्टर और संबंधित स्टाफ को दी. लेकिन कोई देखने नहीं आया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 1, 2020, 11:24 PM IST
  • Share this:
बदायूं. जनपद में कोरोना मरीजों (Corona Patients) की बढ़ती संख्या के साथ अस्पतालों (Hospitals)की लापरवाही भी सामने आ रही है. कहीं पर मरीज को ठीक तरह से इलाज नहीं मिल पा रहा है, तो कहीं पर अव्यवस्थाएं हावी है. ऐसा ही एक मामला मेडिकल कॉलेज (Medical College) से सामने आया है. डॉक्टरों की लापरवाही की वजह से कोरोना संक्रमित एक महिला की मौत हो गई. महिला कई घंटे तक बेड के नीचे पड़ी तड़पती रही, लेकिन डॉक्टर उसकी ऐसी स्थिति देखने बाद भी इलाज को नहीं पहुंचे. बेचैनी के होने पर महिला रात के समय भी बेड से नीचे गिर पड़ी थी, जिसकी जानकारी वहां पर मौजूद अन्य मरीजों ने डॉक्टरों और स्टाफ को दी. परंतु वार्ड में तैनात स्टाफ चैन की नींद सोता रहा. इसके बाद मरीजों ने ही उसे बेड पर लिटाया. इसके बाद भी मेडिकल कॉलेज प्रशासन अपने स्टाफ की गलती मानने के लिए तैयार नहीं है.

पेशेंट ने खुद लगाया आक्सीजन मास्क

जिस महिला की मौत हुई है. वह कस्बा अलापुर के वॉर्ड नंबर चार की रहने वाली थी. यह महिला दो दिन पूर्व ही मेडिकल कॉलेज में भर्ती हुई थी. मेडिकल कॉलेज से इस महिला का जो वीडियो वायरल हो रहा है, उसमें साफ दिखाई दे रहा है कि महिला बेहोशी की हालत बेड से नीचे गिरी हुई है. जिसने होश में आने पर खुद ही ऑक्सीजन मास्क लगाया, लेकिन उठ न सकी. इस बात की जानकारी वार्ड में भर्ती मरीजों ने तैनात डॉक्टर और संबंधित स्टाफ को दी. लेकिन कोई देखने नहीं आया. मरीजों द्वारा ही महिला को बेड पर लिटाया गया. शनिवार को फिर से महिला की हालत बिगड़ गई और वह फिर से बेड से नीचे गिर गई. जिसकी जानकारी होने वहां पर तैनात डॉक्टर उसे देखने पहुंचे. महिला की स्थिति देखकर यह कहकर चले गए कि अभी पीपीई किट पहनकर आता हूं, लेकिन एक घंटे तक वह नहीं नहीं लौटे. इस दौरान महिला जमीन पर बेसुध पड़ी रही. थोड़ी देर बाद महिला की मौत हो गई. महिला की मौत के बाद मेडिकल प्रशासन द्वारा इसकी जानाकरी उसके परिजनों को दी गई. उसके बाद उसके शव का अंतिम संस्कार करा दिया गया. मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों की लापरवाही के बाद भी प्राचार्य इस बात को मानने के लिए तैयार नहीं हैं.



डॉक्टरों की गलती नहीं : प्राचार्य
बदायूं मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉ. आरपी सिंह का कहना है कि बेचैनी होने पर महिला बेड से नीचे गिर गई थी. उसने ऑक्सीजन मास्क भी निकाल दिया था, जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई. डॉक्टरों द्वारा महिला को बचाने की भरपूर कोशिश की गई थी. इसमें उनकी कोई गलती नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading